Home » इस सनसनीखेज खुलासे ने उठाया स्वामी प्रसाद मौर्य के बड़े झूठ से पर्दा!
Uttar Pradesh

इस सनसनीखेज खुलासे ने उठाया स्वामी प्रसाद मौर्य के बड़े झूठ से पर्दा!

police disclosed swami prasad maurya lie in rae bareli massacre

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले स्थित ऊंचाहार के अप्टा गांव में पूर्व प्रधान सहित पांच लोगों की नृशंस हत्याएं  की गई है. जिसमें दो आदमी को जिंदा भून दिया गया जबकि तीन आदमी को मारने के बाद जलती कार के नीचे फेंक दिया गया गया. इस मामले में बीजेपी नेता स्वामी प्रसाद मौर्या ने अपने बयान  में मरने वालों को हिस्ट्रीशीटर बताया है. जबकि इस मामले में रायबरेली पुलिस के खुलासे ने मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या को पूरी तरह झूठा साबित कर दिया है. रायबरेली पुलिस ने मृतकों को क्लीन चिट देते हुए कहा है कि मृतकों का ऐसा कोई रिकॉर्ड नही है. पुलिस के इस बयान ने स्वामी प्रसाद मौर्या का इस झूठ से पूरी तरह से पर्दा उठा दिया है. ऐसे में अब सवाल ये उठता ई की स्वामी प्रसाद मौर्या ऐसा झूठा बयान दे कर किसको बचाने की कोशिश कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें :रायबरेली नरसंहार: ब्रजेश पाठक ने स्वामी को बताया हत्यारों का ‘संरक्षक’

डिप्टी सीएम भी डाल रहे स्वामी प्रसाद मौर्या के झूठ पर पर्दा-

  • ऊंचाहार के अप्टा गांव में हुए नरसंहार में योगी सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने मृतकों पर  हिस्ट्रीशीटर होने का आरोप लगाया है.
  • लेकिन रायबरेली पुलिस ने साफ़ कर दिया की मृतकों का ऐसा कोई रिकॉर्ड नही है.

ये भी पढ़ें :रायबरेली मर्डर: स्वामी प्रसाद हत्यारों के साथ!

  • जिससे स्वामी प्रसाद मौर्या का झूठ जग ज़ाहिर हो गया है.
  • वहीँ इस मामले में आज डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा भी स्वामी प्रसाद मौर्या बचाते हुए नज़र आये.
  • डिप्टी सीएम ने तो यहाँ तक कह दिया कि स्वामी प्रसाद मौर्या ने ऐसा कोई बयान नही दिया.
  • वही इस मामले में सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी चुप्पी साध रखी है.

पावर कॉरपोरेशन ने खोली पुलिस के झूठ की कलई-

  • ऊंचाहार के अप्टा गांव में सामूहिक हत्याकांड के मामले में पावर कॉरपोरेशन पुलिस के एक झूठ से पर्दा उठा दिया है.
  • पावर कॉरपोरेशन का कहना है घटना के समय अप्टा सहित 24 गाँव में बिजली नही थी.
  • जेई शिवेध्र मोहन की माने तो अप्टा के लिए जगतपुर विद्युत् उप्केद्र से निकले कैनाल फीडर से 24 गाँव में बिजली लाइन जाती है.
  • जिससे इटौरा बुजुर्ग और उसके पूर्वी इलाकों में बिजली सप्लाई की जाती है.

ये भी पढ़ें :रायबरेली मर्डर: ब्राह्मण समाज सीएम के सामने रखेगा 5 मांगें!

  • इस मामले में विद्युत वितरण खंड द्वितीय के अधिशासी अभियंता विवेक खन्ना से भी बात की गई.
  • उन्होंने बताया की घटना वाले दिन शाम 7:40 बजे से 9:40 बजे तक इस लाइन में कटौती की गई थी.
  • इस कटौती का आदेश पनकी कण्ट्रोल रूम द्वारा दिया गया था.
  • पावर कॉरपोरेशन ने जिसकी सूचना संख्या 1343 बताई है.
  • गौरतलब हो कि इस मामले में पुलिस बिजली का तार गिरने से गाडी में आग लगने की बात कह रही थी.
  • लेकिन पावर कॉरपोरेशन के खुलासे ने पुलिस की इस बात को पूरी तरह झूठा साबित कर दिया है.
  • इस मामले में एक ख़ास बात और भी सामने आई है.
  • बता दें कि बयान देने वाले पावर कॉरपोरेशन के इन कर्मियों तबादला कर दिया गया है.

ये भी पढ़ें :रायबरेली मर्डर: मृतकों के परिजनों को सरकार ने दिए 5-5 लाख!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

शिवपाल ने बताया, कितने सपा विधायको ने दिया कोविंद को ‘वोट’!

Shashank

यूपी का भाग्य बदलने के लिए वोट कीजिएगा- अमित शाह

Divyang Dixit

राज्यपाल करेंगे बैडमिंटन चैंपियनशिप के उद्घाटन कार्यक्रम में शिरकत!

Divyang Dixit