Home » रायबरेली मर्डर: स्वामी प्रसाद मौर्या पर लगे गंभीर आरोप!
Uttar Pradesh

रायबरेली मर्डर: स्वामी प्रसाद मौर्या पर लगे गंभीर आरोप!

minister

[nextpage title=”viral” ]

बीते दिनों रायबरेली जिले में जमीन पर कब्जे के विवाद में तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी. जबकि दो अन्य को कथित रूप से जिंदा जलाकर मौत के घाट उतार दिया गया. उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुःख जताते हुए मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख की आर्थिक मदद देने की घोषणा भी की थी. मगर इस पूरे मामले में सीएम योगी के ही एक कैबिनेट मंत्री (minister) का नाम भी सामने आ रहा है.

[/nextpage]

[nextpage title=”viral2″ ]

स्वामी प्रसाद दे रहे संरक्षण :

  • सीएम योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट में स्वामी प्रसाद मौर्या कैबिनेट मंत्री के पद पर है.
  • इस पूरी घटना में आरोपियों को बचाने का स्वामी प्रसाद पर आरोप लग रहा है.
  • बताया जा रहा है कि आरोपी को स्वामी प्रसाद मौर्या लगातार पुलिस से बचा रहे है.

क्या था पूरा घटनाक्रम :

  • मामला प्रतापगढ़ जनपद के संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र स्थित तेवारा गांव का है.
  • प्रधान रोहित शुक्ला भुसई का पुरवा में एक जमीन पर घर का निर्माण करवा रहा था.
  • पास के ही अपटा गांव की महिला प्रधान रामश्री का बेटा राजा यादव कल वहां पहुंचा.
  • यह कहकर निर्माण कार्य रुकवा दिया कि ग्राम सभा की जमीन पर अवैध रूप से निर्माण कराया जा रहा है.
  • इस बात की जानकारी मिलने पर रोहित और उसके साथी अपटा गांव पहुंचे थे.
  • रोहित के साथ अनूप,अंकुश, करमचंद, मनीष और बच्चा शुक्ला सोमवार देर रात पहुंचे थे.
  • रोहित ने कहा कि वह जिस जमीन पर निर्माण करा रहा है, वह उसके ससुर ने उसे दी है.
  • इसी बीच विवाद बढ़ गया और राजा यादव के भाई कृष्ण कुमार ने हवा में गोलियां चलानी शुरू कर दीं.
  • खुद को घिरता देख रोहित और उसके साथी वहां से बोलेरो से भागे।
  • राजा और उसके साथियों ने उनका पीछा किया।
  • रोहित की गाड़ी गांव से बाहर निकल रही थी।
  • मगर रास्ते में जा रहे एक बुजुर्ग से टकराने के कारण वह अनियंत्रित होकर खम्भे से जा टकरायी।
  • इसी बीच राजा और उसके 70-80 साथी मौके पर पहुंच गये।
  • रोहित और उसके साथियों को भागने का मौका नहीं मिला।
  • फिर भीड़ ने सभी को लाठी-डंडों से पीटना शुरू कर दिया।
  • जिससे उनमें से रोहित, करमचंद और बच्चा की मौत हो गयी।
  • अनूप और अंकुश की जीप में जलकर मौत हो गयी।
  • आशंका व्यक्त की जा रही है कि दो लोगों को जीप में फूंक दिया गया।
  • वहीं मनीष का अभी तक कोई पता नहीं चला है।
  • पुलिस ने राजा यादव और उसके भाई कृष्ण और प्रदीप को गिरफ्तार कर लिया है।
  • इस मामले पर स्वामी प्रसाद मौर्या का कहना है कि सभी लोग शूटर थे जिन्हें गांवालो ने सजा दी है।
  • साथ ही इस पूरी साजिश का आरोप उन्होंने पूर्व मंत्री मनोज पाण्डेय पर लगाया है।
  • बेटे दिनों ही सीएम योगी ने घटना के पीड़ितों को 5-5 लाख की आर्थिक सहायता का ऐलान किया था।
[/nextpage]
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

मानसून सत्र: 240 दिनों के लिए 4 लाख करोड़ का बजट!

Divyang Dixit

पांचवे चरण में इन सीटों के लिए रालोद झोंक रही पूरी ताकत!

Sudhir Kumar

डायल 100 अब लखीमपुर में भी शुरू हो गयी है- अखिलेश यादव

Divyang Dixit