Home » रायबरेली मर्डर: स्वामी प्रसाद हत्यारों के साथ!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

रायबरेली मर्डर: स्वामी प्रसाद हत्यारों के साथ!

raebareli murder

रायबरेली में 5 लोगों की हत्या (raebareli murder) के विरोध में आज सैकड़ों ब्राह्मण प्रदर्शन कर रहे हैं. हजरतगंज में गांधी प्रतिमा के सामने आज रायबरेली में ब्राह्मणों की हत्या के बाद प्रदर्शन कर रहे हैं. मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद रहा. प्रदर्शन करने वालों अपनी गिरफ़्तारी दी. इनकी मांग है कि स्वामी प्रसाद मौर्या ब्राह्मणों का जानबूझकर अपमान कर रहे हैं. इनको बर्खास्त करने की मांग करते हुए ब्राह्मण संघ ने योगी सरकार को चेतावनी भी दी है. अगर एक सप्ताह में कार्रवाई नहीं हुई तो ये प्रदर्शन आंदोलन के रूप में बदल जायेगा.

सड़क पर लेट गए प्रदर्शनकारी:

  • वहीँ प्रदर्शन कर रहे ब्राह्मण संघ के सदस्य सडकों लेट गए.
  • विधान सभा का घेराव करने जा रही भीड़ को जीपीओ के सामने पुलिस ने रोक लिया है.
  • रायबरेली के ऊंचाहार में पिछले दिनों 5 ब्राम्हणो की हुई नृशंस हत्या के विरोध में गांधी प्रतिमा पर प्रदर्शन जारी है.
  • वहीँ मौके पर भारी पुलिस फोर्स भी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए मौजूद है.
  • ब्राह्मण संघ की मांग है कि स्वामी प्रसाद को हटाया जाये.
  • उन्होंने कहा कि अगले 8 दिनों में अगर कार्रवाई नहीं की गई तो ये आंदोलन प्रदेश स्तर पर किया जायेगा.
  • प्रदर्शन करने वाले पुलिस के साथ धक्का-मुक्की भी करते हुए देखे गए.

ब्राह्मण समाज की प्रमुख मांग:

  • पांचों पीड़ित परिवार के दो सदस्यों को सरकारी नौकरी दी जाये.
  • पांचों परिवारों को 50,50 लाख की आर्थिक सहायता दी जाये.
  • इस जघन्य हत्याकांड की सीबीआई जांच की जाये.
  • फ़ास्ट ट्रैक अदालत का गठन कर अपराधियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए.
  • इसके अलावा मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या से इस्तीफा लिया जाये.
  • इनका कहना है कि ब्राह्मण सुरक्षित नहीं है, रोज ब्राहम्णो की हत्याएं हो रही हैं.

रायबरेली मर्डर: ब्राह्मण समाज सीएम के सामने रखेगा 5 मांगें!

[ultimate_gallery id=”88547″]

रायबरेली (Raebareli murder) जिले में जमीन पर कब्जे के विवाद में तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी. वहीँ 2 लोगों को जिन्दा जला दिया गया था. लेकिन इस हत्याकांड के कई दिनों बाद योगी सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद ने जो कुछ कहा है वो हैरान करने वाला है. स्वामी प्रसाद के इस बयान के कारण योगी सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. वहीँ स्वामी प्रसाद मौर्या के बयान के बाद ब्राह्मण संघ ने इस्तीफे की मांग की है.

रायबरेली मर्डर: स्वामी प्रसाद मौर्या पर लगे गंभीर आरोप!

स्वामी प्रसाद ने हत्याकांड को ठहराया सही:

  • स्वामी प्रसाद मौर्या ने कुशीनगर में रायबरेली नरसंहार पर बयान दिया था.
  • उन्होंने कहा कि जो मारे गए वो किराये के गुंडे थे.
  • उनपर अलग-अलग थानों में केस दर्ज हैं.
  • ग्रामीणों ने जिनकों पीट-पीटकर या जलाकर मार डाला, वो गुंडे थे.
  • सभी के सभी किराये के गुंडे थे जो प्रतापगढ़ और फतेहपुर से आये थे.
  • मौर्या ने इनको गंभीर अपराधों में वांछित बताया.
  • उन्होंने कहा कि मारे गए गुंडों को शहीद बताया जा रहा है.
  • इसको लेकर सपा और कांग्रेस राजनीति कर रही है.
  • उन्होंने कहा कि ब्राह्मणों की हत्या नहीं हुई अपराधियों की हत्या हुई.

 CM ने जताया था दुःख:

  • रायबरेली (Raebareli murder) जिले में जमीन पर कब्जे के विवाद में तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी.
  • जबकि दो अन्य को कथित रूप से जिंदा जलाकर मौत के घाट उतार दिया गया.
  • सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुःख जताया था.
  • वहीँ सीएम ने पुलिस को निर्देश दिया है कि इस सन्दर्भ में कड़ी कार्रवाई की जाये.
  • सीएम योगी ने मृतकों को 5-5 लाख की आर्थिक मदद देने की घोषणा भी की थी.

रायबरेली मर्डर: मृतकों के परिजनों को सरकार ने दिए 5-5 लाख!

स्वामी प्रसाद के कारण मुश्किलों में घिरी भाजपा:

  • रायबरेली (Raebareli murder) जिले में जमीन पर कब्जे के विवाद में तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी.
  • वहीँ 2 लोगों को जिन्दा जला दिया गया था.
  • लेकिन इस हत्याकांड के कई दिनों बाद योगी सरकार के मंत्री स्वामी प्रसाद ने जो कुछ कहा है वो हैरान करने वाला है.
  • स्वामी प्रसाद के इस बयान के कारण योगी सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं.
  • वहीँ स्वामी प्रसाद मौर्या के बयान के बाद ब्राह्मण संघ ने इस्तीफे की मांग की है.
  • वहीँ बवाल बढ़ते देख स्वामी प्रसाद मौर्या के तेवर नरम तो हुए हैं लेकिन वो अपने बयान पर अडिग हैं.
  • उनका कहना है कि उनके बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया गया.

ब्राह्मण संघ की मांग, स्वामी प्रसाद को बर्खास्त करें सीएम!

स्वामी प्रसाद ने हत्यारों को बताया निर्दोष:

  • स्वामी प्रसाद मौर्या ने कुशीनगर में रायबरेली नरसंहार पर बयान दिया था.
  • उन्होंने कहा कि जो मारे गए वो किराये के गुंडे थे.
  • उनपर अलग-अलग थानों में केस दर्ज हैं.
  • ग्रामीणों ने जिनकों पीट-पीटकर या जलाकर मार डाला, वो गुंडे थे.
  • सभी के सभी किराये के गुंडे थे जो प्रतापगढ़ और फतेहपुर से आये थे.
  • मौर्या ने इनको गंभीर अपराधों में वांछित बताया.
  • उन्होंने कहा कि मारे गए गुंडों को शहीद बताया जा रहा है.
  • इसको लेकर सपा और कांग्रेस राजनीति कर रही है.
  • उन्होंने कहा कि ब्राह्मणों की हत्या नहीं हुई अपराधियों की हत्या हुई.

‘योगी’ ने पीड़ितों को दिया चेक, स्वामी हत्यारों को कर रहे ‘प्रोटेक्ट’!

अब सवाल ये उठता है कि क्या सीएम योगी गलत थे जिन्होंने इस नरसंहार को गलत ठहराते हुए त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश दिया था? या फिर स्वामी प्रसाद मौर्या के बयानों में कोई सच्चाई है? स्वामी प्रसाद मौर्या का हत्यारोपियों  इस प्रकार खुलेआम बचाना सीएम योगी के लिए मुसीबत का सबब बन सकता है.

CM योगी ने जताया था दुःख:

  • रायबरेली (Raebareli murder) जिले में जमीन पर कब्जे के विवाद में तीन लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी.
  • जबकि दो अन्य को कथित रूप से जिंदा जलाकर मौत के घाट उतार दिया गया.
  • सीएम योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुःख जताया था.
  • वहीँ सीएम ने पुलिस को निर्देश दिया है कि इस सन्दर्भ में कड़ी कार्रवाई की जाये.
  • सीएम योगी ने मृतकों को 5-5 लाख की आर्थिक मदद देने की घोषणा भी की थी.

5 लोगों की हुई थी निर्मम हत्या:

  • मामला प्रतापगढ़ जनपद के संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र स्थित तेवारा गांव का है.
  • प्रधान रोहित शुक्ला भुसई का पुरवा में ससुराल की तरफ से खुद को मिली एक जमीन पर घर का निर्माण करवा रहा था.
  • पास के ही अपटा गांव की महिला प्रधान रामश्री का बेटा राजा यादव कल वहां पहुंचा.
  • यह कहकर निर्माण कार्य रकवा दिया कि ग्राम सभा की जमीन पर अवैध रूप से निर्माण कराया जा रहा है.
  • इस बात की जानकारी मिलने पर रोहित और उसके साथी अपटा गांव पहुंचे थे.
  • रोहित के साथ अनूप,अंकुश, करमचंद, मनीष और बच्चा शुक्ला सोमवार देर रात पहुंचे थे.
  • रोहित ने कहा कि वह जिस जमीन पर निर्माण करा रहा है, वह उसके ससुर ने उसे दी है.
  • इसी बीच विवाद बढ़ गया और राजा यादव के भाई कृष्ण कुमार ने हवा में गोलियां चलानी शुरू कर दीं.
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

पशुधन आरोग्य मेले का पीएम मोदी ने किया उद्घाटन

Kamal Tiwari

वित्तमंत्री अरूण जेटली आज बीजेपी कार्यालय में करेंगे प्रेसवार्ता!

Dhirendra Singh

शराब से हुई मौतों को राजनीतिक मुद्दा ना बनायें- सिद्धार्थनाथ सिंह

Divyang Dixit