Home » 9 जुलाई : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों है ख़ास!
Top News

9 जुलाई : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों है ख़ास!

9 july historical events

भारत का इतिहास हमेशा से ही अपने-आप में एक मिसाल के तौर पर उभरा है। यहाँ पर होने वाली सभी गतिविधियाँ हमेशा से ही अपने साथ इन दिनों की महत्ता लेकर आते हैं। इस देश का इतिहास अपने-आप में एक मिसाल है और हमेशा ही रहेगा। इस देश का हर एक दिन इतना ख़ास रहा है कि यह इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया है।

9 जुलाई को हुआ था गुरु दत्त का जन्म :

  • भारतीय सिनेमा में फिल्म निर्माता-निर्देशक और अभिनेतागुरु दत्त का जन्म 9 जुलाई 1925 को बंगलोर में हुआ था।
  • उनका वास्तविक नाम “वसंथ कुमार शिवशंकर पादुकोण” था।
  • वह अपने आप में एक संपूर्ण कलाकार बनने की पूरी पात्रता रखते थे।
  • वे विश्व स्तरीय फ़िल्म निर्माता और निर्देशक थे।
  • साथ ही में उनकी साहित्यिक रुचि और संगीत की समझ की झलक हमें उनकी सभी फ़िल्मों में दिखती ही है।
  • वे एक अच्छे नर्तक भी थे, क्योंकि उन्होंने अपने फ़िल्मी जीवन का आगाज़ प्रभात फ़िल्म्स में एक कोरिओग्राफर की हैसियत से किया था।
  • अभिनय कभी उनकी पहली पसंद नहीं रही, मगर उनके सरल, संवेदनशील और नैसर्गिक अभिनय का लोहा सभी मानते थे।
  • उन्होंने प्यासा के लिये पहले दिलीप कुमार का चयन किया था।
  • वे एक रचनात्मक लेखक भी थे और उन्होंने पहले पहले ‘इलस्ट्रेटिड वीकली ऑफ इंडिया’ में कहानियां भी लिखी थी।
  • उन्का निधन 10 अकटूबर 1964 को मुंबई में हुआ।

अन्य कुछ झलकियां :

  • 1845 में लॉर्ड मिण्टो द्वितीय 1905 से 1910 ई. तक भारत का वाइसराय तथा गवर्नर जनरल रहा।
  • 1875 में बॉम्बे स्टाक एक्सचेंज की स्थापना।
  • 1900 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राजनेता, संसदीय मामलों के मंत्री मध्य प्रदेश के भूतपूर्व राज्यपाल सत्य नारायण सिन्हा का जन्म हुआ है।
  • 1923 में दूसरी लोकसभा के सदस्य मानकभाई अग्रवाल का जन्म हुआ।
  • 1930 में फ़िल्म निर्माता निर्देशक और पटकथा लेखक के. बालाचंदर का जन्म हुआ।
  • 1938 में भारतीय अभिनेता संजीव कुमार का जन्म हुआ।
  • 1951 में भारत की पहली पंचवर्षीय योजना (1951-56) का प्रकाशन।
  • 1969 में वाइल्ड लाइफ बोर्ड ने शेर को भारत का राष्ट्रीय पशु चुना।
  • 2001 में भारत द्वारा पाक सीमा पर दो चौकियां स्थापित करने की घोषणा।
  • 2007 में भारतीय मूल के अमेरिकी वैज्ञानिक हिमांशु जैन को ग्लास साइंस के क्षेत्र में ध्यातत्व कार्य हेतु ओट्टो स्कॉट रिसर्च पुरस्कार प्रदान किया गया।
  • 1991 में सुप्रसिद्ध शायर शेरी भोपाली का निधन हुआ।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

दिल्ली सरकार ने मज़दूरों की मासिक आय में इजाफे का एलान किया!

Prashasti Pathak

गृहमंत्री राजनाथ सिंह का दाऊद को लेकर बड़ा बयान

Kamal Tiwari

नोटबंदी मामले में आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल के खिलाफ दर्ज होगा केस !

Dhirendra Singh