Home » उत्तर प्रदेश » ईद-उल-अजहा (बकरीद) को प्रदेशभर में अकीदत व उल्लास के साथ शांत‍िपूर्वक पढ़ी गई नमाज

ईद-उल-अजहा (बकरीद) को प्रदेशभर में अकीदत व उल्लास के साथ शांत‍िपूर्वक पढ़ी गई नमाज

Eid-ul-Azha (Bakrid)

लखनऊ | राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश मे ईद-उल-अजहा (बकरीद) शनिवार को अकीदत व उल्लास के साथ मनाई जा रही है। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार सामूहिक नमाज पर रोक होने के कारण लोगों ने घरों में ही नमाज अदा किया। साथ ही मुल्क में अमन व तरक्की संग कोरोना वैश्विक महामारी से निजात दिलाने की दुआएं मांगी। लोगों ने एक दूसरे को बकरीद की मुबारकबाद दी। कोरोना संक्रमण के कारण इस बार सामूहिक नमाज पर रोक है। इसके लिए प्रशासन ने प्रबंध किए हैं। मस्जिदों पर पुलिस तैनात की गई है।

ऐशबाग ईदगाह में ईद-उल-अजहा की नमाज सुबह 9:30 बजे हुई|

आप को बता दे कि लखनऊ  के ऐशबाग ईदगाह में ईद-उल-अजहा की नमाज सुबह 9:30 बजे हुई। इमाम ईदगाह मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने बताया कि सिर्फ 5 लोगों के साथ नमाज अदा की गई। सभी से घरों में नमाज पढ़ने की अपील की गई थी। शहर-ए-जुमा मौलाना कल्बे जवाद नकवी ने भी सभी को घरों में नमाज पढ़ने और कुर्बानी के दौरान कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए मास्क और सैनिटाइजर का प्रयोग करने की गुजारिश की थी। टीले वाली मस्जिद के इमाम फजले मन्नान ने कहा कि केवल पांच लोग ने एक साथ नमाज की।

संवेदनशील स्थानों पर पुलिस के साथ पीएससी तैनात

प्रदेशभर में अलग-अलग मस्जिदों की ईदगाह में नमाज को लेकर पुलिस मुस्तैद है। संवेदनशील स्थानों पर पुलिस के साथ पीएससी तैनात की गई है। साथ ही सीसी कैमरे से भी निगरानी की जा रही है। सार्वजनिक स्थानों पर कुर्बानी को लेकर पहले ही हिदायत दी जा चुकी है। अधिकांश लोग घरों में ही नमाज अदा कर रहे हैं। संवेदनशील स्थानों पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट भी तैनात हैं।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Tanmay Baranwal

Related posts

मुज़फ्फरनगर: निजी कार्यक्रम में शामिल हुए पश्चिम बंगाल के राज्यपाल

Shivani Awasthi

धारा 370 कश्मीर को हम से अलग करती है इसलिए सरकार कर दे इसे समाप्त: कल्याण सिंह

UPORG DESK 1

मुजफ्फरनगर: BJP नगर उपाध्यक्ष को मिली जान से मारने की धमकी

Shivani Awasthi