Home » उत्तर प्रदेश » स्कूल बुलाकर छात्रा के क्यों काटे गए बाल और क्यों बिना कपड़ों के ली गई तलाशी

स्कूल बुलाकर छात्रा के क्यों काटे गए बाल और क्यों बिना कपड़ों के ली गई तलाशी

Father of accused girl blames bright land school lucknow for harassment

राजधानी के लखनऊ ब्राइट लैंड स्कूल कांड में कक्षा एक के छात्र ऋतिक को चाकू मारकर घायल करने के मामले में मुख्य-मंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार दोपहर ट्रामा सेंटर बच्चे का हाल-चाल लेने पहुंचे। यहां उन्होंने हालचाल लेने के बाद SSP को कार्रवाई के आदेश दिए। लखनऊ के एसएसपी दीपक कुमार ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ पहला एक्शन लेते हुए बताया कि स्कूल के प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया गया। उनके दोनों बेटियों को भी हिरासत में लिया गया है।

सीएम योगी घायल ऋतिक को देखने पहुंचे ट्रॉमा, दिए उचित निर्देश

इस मामले में एसएसपी ने बताया कि आरोपी छात्रा की उम्र अभी 11 वर्ष है। इसलिए उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। उसे जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के समक्ष पेश किया गया। एसएसपी ने बताया कि इस मामले में स्कूल प्रशासन की घोर लापरवाही सामने आई है। उन्होंने बताया कि स्कूल प्रशासन की तरफ से घटना की पुलिस को सूचना नहीं दी गई और ना ही डीआईओएस को भी बताया गया। एसएसपी ने बताया कि स्कूल के प्रिंसिपल रचित मानस को जुर्म को छिपाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। फिलहाल इस घटना के मामले में एसएसपी ने बताया कि छात्र के पास से एक छात्रा का बाल भी मिला है उसे डीएनए टेस्ट के लिए भेजा जाएगा और उसकी फाइल तैयार कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

सीएम के निर्देश के बाद पहला एक्शन: ब्राइट लैंड स्कूल का प्रिंसिपल गिरफ्तार

ऋतिक ने की छात्रा की पहचान

इस मामले में सीओ अलीगंज डॉ. मीनाक्षी गुप्ता ने बताया कि वह गुरुवार सुबह स्कूल परिसर का जायजा लेने गईं थीं। उन्होंने बताया कि पीड़ित छात्र रितिक ने की आरोपी छात्रा की पहचान कर ली है। वहीं ब्राइटलैंड स्कूल में जिला विद्यालय निरीक्षक भी जांच करने पहुंचे। दो सदस्यीय टीम ने स्कूल के अंदर जांच पड़ताल की। अलीगंज पुलिस ने घटना में इस्तेमाल दुप्पटा और चाकू स्कूल के बाथरूम से बरामद कर लिया है। आरोपी छात्रा को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के समक्ष पेश किया गया। यहां से उसे बाल अपचारी होने के कारण जेजे बोर्ड भेजा जायेगा।

छात्रा के पिता ने मढ़ा स्कूल प्रशासन पर दोष

इस सनसनीखेज केस में आरोपी छात्रा के पिता ने स्कूल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। छात्रा के पिता के आरोपों के बाद स्कूल प्रशासन कटघरे में खड़ा हो गया है। पिता के आरोपों को जो भी सुन रहा है उसके कान खड़े हो जा रहे हैं। हालांकि मामले की सच्चाई के लिए पुलिस मामले की बारीकी से तफ्तीश की जा रही है। बता दें कि छात्र पर चाकू से वार करने के आरोपों के बाद गुरुवार को सैकड़ों छात्र-छात्राएं स्कूल के गेट पर पहुंची और नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। हालांकि पूरे दिन सुबह से लेकर शाम तक अफरा-तफरी का माहौल बना रहा।

स्कूल बुलाकर छात्रा के काटे गए बाल, न्यूड करके ली गई तलाशी

छात्रा के पिता ने आरोप लगाया है कि घटना के बाद पहले स्कूल प्रशासन मामले को दबाये रखा। इस मामले में उन्हें भी जानकारी नहीं थी। मामला मीडिया में हाइलाइट होने के बाद उन्हें घटना के बारे में जानकारी हुई। छात्रा के पिता का आरोप है कि इस घटना के बाद बुधवार को छात्रा को स्कूल बुलाया गया था। बेटी ने अपनी मां को बताया है कि स्कूल में ही उसके बाल काटे गए। इसके बाद टीचर ने उसे एक दम न्यूड (बिना कपड़े) करके तलाशी ली गई। आरोप है कि उनकी बेटी को स्कूल प्रशासन ने धमकाया और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया। पिता ने आरोप लगाया है कि पुलिस बेवजह उनकी बेटी को फंसा रही है जबकि घटना किसी और द्वारा की गई होगी। हालांकि उनके बयान में कितनी सच्चाई है ये पुलिस की जांच का विषय है।

ये है छात्रा के पिता का बयान…

[foogallery id=”172965″]

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

पूर्व विधायक अमर सिंह की पार्टी में हुई वापसी

Shashank

अन्ना हजारे नें किसानों की समस्या के लिए लिखा प्रधानमंत्री को पत्र

Sudhir Kumar

मध्य प्रदेश: भाजपा छोड़ समाजवादी पार्टी में शामिल हुए धीरज लटौरिया

Shashank