Home » विपक्षी दूसरे और तीसरे नंबर के लिए लड़ रहें-मायावती
Bahujan Samaj Party UP Election 2017

विपक्षी दूसरे और तीसरे नंबर के लिए लड़ रहें-मायावती

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के 6 चरणों के चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो चुके है। उत्तर प्रदेश सातवें व अंतिम चरण के चुनाव में प्रवेश करने को तैयार है। इस चरण में पूर्वांचल के सात जिलों की 40 सीटों पर चुनाव होने है। इसी क्रम में बसपा सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को लखनऊ में एक प्रेसवार्ता कर पीएम व विपक्षियों पर हमला बोला।

विपक्षियों पर मायावती का हमला

  • बसपा सुप्रीमो मायावती सातवें व आखिर चरण के चुनाव के लिए तैयार है।
  • उन्होंने चुनाव से पहले आज प्रेसवार्ता कर विरोधियों पर निशाना साधा।
  • उन्होंने कहा कि प्रदेश में बसपा छठ चरणों के चुनाव में पहले स्थान पर ही आ रही है।
  • उन्होंने कहा कि अब विपक्षी पार्टी दूसरे और तीसरे स्थान पर आने के लिए लड़ रही हैं।
  • उन्होंने यह कहकर सीधे बीजेपी, सपा-कांग्रेस गठबंधन व अन्य पार्टियों को निशाने पर लिया।
  • मायावती ने कहा कि बीजेपी ने चुनाव खत्म होने से पहले ही 1 मार्च को घरेलू सिलेंडर के दाम बढ़ा दिए,
  • इससे साफ पता चलता है कि वह मान चुकी है कि बीजेपी चुनाव में हारने वाली है।
  • उन्होंने कहा कि इसके जरिये केंद्र व बीजेपी सिर्फ पैसे कमाना चाहता है।
  • साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी ने अपना कालाधन सफेद करने के लिए नोटबंदी की थी।

पीएम ने तोड़ी आचार संहित

  • मायावती ने पीएम मोदी के वाराणसी दौरे पर भी निशाना साधा।
  • उन्होंने कहा कि पीेएम कई दिन वाराणसी में रोड शो करते रहें,

  • उन्होंने कहा पीएम ने  पहले दिन वाराणसी में घंटों तक बिना अनुमति रोड शो किया।
  • पीएम ने आचार संहित का उल्लघंन किया।
  • साथ ही कहा कि इस दौरान पीएम ने लोकतंत्रिक पर्रमपराओं और मान्यताओं को ताक पर रख दिया।
  • उन्होंने कहा कि जीत के लिए ये चुनाव को सामप्रदायिक रूप देने से भी चूक नहीं रहे हैं।
  • मायावती ने कहा कि पीएम ने वाराणसी में घार्मिक कार्ड भी खुब खेला।

 

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

यूपी चुनाव: 1 फरवरी से शुरू होगा बसपा सुप्रीमो का ‘प्रचार अभियान’!

Divyang Dixit

साक्षी महाराज को मॉडल कोड ऑफ़ कंडक्ट उल्लंघन में निर्वाचन आयोग का नोटिस!

Prashasti Pathak

पूर्वांचल एक्सप्रेस (काशी स्पेशल): दुनिया के सबसे ‘जीवंत शहर’ का सियासी समीकरण!

Vedank Singh