Home » हिजबुल का उद्देश्य इस्लामी नहीं बल्कि ‘राजनैतिक’ : उमर अब्दुल्ला
Top News

हिजबुल का उद्देश्य इस्लामी नहीं बल्कि ‘राजनैतिक’ : उमर अब्दुल्ला

omar abdullah hizbul

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि राज्य के सबसे बड़े आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का उद्देश्य अलकायदा की तरह इस्लामी नहीं, बल्कि ‘राजनैतिक’ है।

यह भी पढ़ें: हिजबुल मुजाहिद्दीन चीफ सैयद सलाहुद्दीन ‘वैश्विक आतंकी’ घोषित!

पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला का बयान-

  • अब्दुल्ला ने नई दिल्ली में कश्मीर पर आयोजित एक सम्मेलन में कहा कि हिजबुल मुजाहिदीन का उद्देश्य राजनैतिक है।
  • उनका लक्ष्य कश्मीर को भारत के नक्शे से मिटाना है, जाकिर मूसा के अलकायदा वाले लक्ष्य की तरह नहीं है।
  • बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर, मूसा के बारे में एक प्रश्न का जवाब दे रहे थे।
  • बता दें कि पूर्व हिजबुल आतंकवादी मूसा को अलकायदा की जम्मू-कश्मीर शाखा का प्रमुख घोषित किया गया है।
  • मूसा ने कहा है कि कश्मीर में अलगाववादी लड़ाई राष्ट्रीयता की लड़ाई नहीं है।
  • बल्कि यह राज्य में सख्त इस्लामिक संहिता की स्थापना के लिए जिहाद है।
  • अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर में हर बंदूकधारी को मूसा मान लेने से भारत सरकार को कश्मीर से आसानी से छुटकारा मिल जाएगा।

यह भी पढ़ें: 

कश्मीर में अल कायदा की मौजूदगी की पुष्टि नहीं : डीजीपी

जम्मू-कश्मीर : पिता से हुई पूछताछ, आतंकी ने दी लाशें बिछाने की धमकी!

हिजबुल मुजाहिद्दीन देगा कश्मीरी पंडितों को ‘सुरक्षा’!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

पीएम मोदी ने द्वारिकाधीश मंदिर में की पूजा-अर्चना

Praveen Singh

चारा घोटाला : CBI अदालत में पेश हुए लालू यादव!

Deepti Chaurasia

जम्मू-कश्मीर के बडगाम मुठभेड़ में लश्कर कमांडर मारा गया!

Vasundhra