Home » 27 जून : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों है ख़ास!
Top News

27 जून : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों है ख़ास!

27th june historical events

भारत के इतिहास का हर एक दिन स्वर्णिम अक्षरों में इतिहास की किताब में लिखा जा चुका है। यहाँ पर पैदा होने वाले शूरवीरों की कहानी सुनने वालों को जीवन की एक नयी दिशा प्रदान करती है। यही नहीं इन सभी का जीवन आने वाली पीढ़ियों के लिए किसी मार्गदर्शन से कम नहीं है।

संगीतकार आरडी बर्मन का जन्म :

  • 300 से ज्यादा हिन्दी फिल्मों में संगीत देने वाले संगीतकार राहुल देव बर्मन का जन्म 27 जून 1939 को हुआ था।
  • इन्हें पंचम या ‘पंचमदा’ नाम से भी पुकारा जाता था।
  • मशहूर संगीतकार सचिन देव बर्मन व उनकी पत्नी मीरा की ये इकलौती संतान थे।
  • अपनी अद्वितीय सांगीतिक प्रतिभा के कारण इन्हें विश्व के सर्वश्रेष्ठ संगीतकारों में एक माना जाता है।
  • माना जाता है कि इनकी शैली का आज भी कई संगीतकार अनुकरण करते हैं।
  • पंचमदा ने अपनी संगीतबद्ध की हुई 18 फिल्मों में आवाज़ भी दी।
  • भूत बंगला (1965 ) और प्यार का मौसम (1969) में इन्होने अभिनय भी किया।

अन्य कुछ झलकियाँ :

  • 1839 में आज ही के दिन पंजाब के महाराजा रंजीत सिंह का निधन हुआ था।
  • 1964 में नई दिल्ली स्थित तीन मूर्ति भवन को नेहरू संग्रहालय बनाया गया।
  • 1939 में 300 से ज्यादा फिल्मों में संगीत देने वाले संगीतकार आरडी बर्मन का जन्म हुआ था।
  • 1964 में उड़नपरी के नाम से दुनियाभर में पहचान बनाने वाली पीटी ऊषा का जन्‍म हुआ था।
  • 1967 में आज ही के दिन  भारत में निर्मित पहले यात्री विमान एचएस 748 को इंडियन एयरलाइंस को सौंपा गया।
  • 2005 में आज ही के दिन ब्रिटेन ने भारत की वीटो रहित स्थायी सदस्यता का समर्थन किया।
  • 2008 में आज ही के दिन भारतीय सेना के भूतपूर्व अध्यक्ष सैम मानेकशॉ का निधन हुआ था।
  • सैम मानेकशॉ के नेतृत्व में  भारत ने सन 1971 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध में विजय प्राप्त की थी।

 

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

स्मृति से छीना गया HRD मंत्रालय, प्रकाश जावड़ेकर संभालेंगे मंत्रालय

Kamal Tiwari

प्रधानमन्त्री मोदी पर हो सकता है बड़ा आतंकी हमला! गणतंत्र दिवस निशाने पर

Prashasti Pathak

केजरीवाल के पूर्व प्रधान सचिव राजेन्द्र कुमार के सीबीआई पर गंभीर आरोप!

Prashasti Pathak