Home » 96 घंटों में विभिन्न ऑपरेशनों में 13 घुसपैठिये मार गिराए गए-सेना
Top News

96 घंटों में विभिन्न ऑपरेशनों में 13 घुसपैठिये मार गिराए गए-सेना

indian army

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों द्वारा लगातार घुसपैठ को अंजाम दिया जा रहा है. जिसके तहत यहाँ पर आये दिन आतंकी सेना को निशाना बना रहे हैं. बता दें कि इस दौरान सेना को मुठभेड़ को अंजाम देना पड़ता है. इस दौरान सेना ने बड़ी उपलब्धि भी हांसिल की है.

भारी मात्रा में हथियार बरामद :

  • जम्मू-कश्मीर में सेना द्वारा आये दिन मुठभेड़ों को अंजाम दिया जा रहा है.
  • बता दें कि यह मुठभेड़ें आतंकियों द्वारा आये दिन की जाने वाली घुसपैठ के कारण की जा रही है.
  • जिसके तहत सेना को इस दौरान एक बड़ी उपलब्धि प्राप्त हुई है.
  • बता दें कि सेना द्वारा 96 घंटों में करीब 13 घुसपैठियों को मार गिराया गया है.
  • यही नहीं इस दौरान सेना को बड़ी मात्रा में हथियार भी बरामद हुए हैं.
  • गौरतलब है कि यह सेना की एक बड़ी उपलब्धि है और यह पहली बार नहीं है जब सेना को ऐसी उपलब्धि मिली हो.
  • इससे पहले भी सेना द्वारा 24 घटों के भीतर 10 आतंकियों को मार गिराया गया था.
  • जिसमे आतंकी सरगना सबजार भट्ट भी था जो हिजबुल मुजाहिद्दीन का लीडर था.
  • जिसके बाद अब सेना को यह उपलब्धि मिली है जो एक बहुत बड़ी कामयाबी मानी जा रही है.
  • आपको बता दें कि आतंकियों द्वारा आये दिन घाटी में घुसपैठ की जा रही है.
  • ऐसे में सेना द्वारा इस तरह आतंकियों को मार गिराया जाना अपने आप में एक बहुत बड़ी कामयाबी है.
  • जिसके बाद सेना को ऐसी कार्यवाइयों से और ज़्यादा बल मिलता है.
  • साथ ही आगे इसी तरह से सीमा की सुरक्षा करने में और मुस्तैदी आती है.
  • आपको बता दें कि देश की सेना सीमाओं पर इतनी मुस्तैदी से सुरक्षा कर रही है कि आये दिन यहाँ होने वाली घुसपैठ को रोका जा सके.
  • जिसका उदाहरण यह है कि मात्र 96 घंटों में सेना ने 13 घुसपैठियों को मार गिराया है.

यह भी पढ़ें : IMA पासिंग आउट परेड में 423 कैडेट्स ने किया देश को किया गौरवांवित!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

पाकिस्तान का उतरा नकाब, बोर्डर पार कराने के लिए करता था ये काम !

Mohammad Zahid

राष्ट्रीय युवा दिवस : युवाओं के मार्गदर्शक हैं स्वामी विवेकानंद!

Vasundhra

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की ‘मन की बात’, जल संरक्षण पर दिया जोर!

Divyang Dixit