Home » व्यंग: लखनऊ जनाब !
व्यंग्य

व्यंग: लखनऊ जनाब !

vivek tiwari murder case public feared of lucknow police

मुस्कुराना आप ।
लखनऊ जनाब ।।

घूम रहे सिरफिरे ।
ना बनना नवाब ।।

झूठ पर झूठ ।
सिलसिला जारी ।।

महकमा पुलिस ।
आमजन लाचारी ।।

पुलिस के मुखिया ।
हो गये गुमराह ?

लीपापोती अनवरत ।
वाह जी वाह ।।

कृष्णेन्द्र राय

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Krishnendra Rai

Related posts

पनपाओ भाईचारा !

Krishnendra Rai

व्यंग: हर वर्ग सिरमौर ?

Krishnendra Rai

व्यंग : उद्घाटन पर द्वंद…

Desk