Home » व्यंग: कुर्सी ली अँगड़ाई ?
व्यंग्य

व्यंग: कुर्सी ली अँगड़ाई ?

रैलियों का दौर ।
मंच हो रहे साझा ।।

कोई मानसरोवर ।
और कोई ख्वाजा ।।

सिंहासन की जंग ।
विरासत की लड़ाई ।।

हवा ने बदला रूख ।
कुर्सी ली अँगड़ाई  ?

कर रहा बेटा ।
बाप का सम्मान ।।

बुआ रहीं तरेर ।
सहे भाई अपमान ?

कृष्णेन्द्र राय

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Krishnendra Rai

Related posts

Statue of Unity : टूट गया रिकॉर्ड…

Desk

हादसा ये अमृतसर !

Krishnendra Rai

व्यंग: बस ज़हरीले बोल !

Krishnendra Rai