व्यंग्य

व्यंग: एफ़आईआर यात्रा !

Literature special on amar singh FIR yatra against azam khan

दर्ज एफ़आइआर ।
पर हुआ विलंब ।।

अमर और आज़म ।
छिड़ गयी जंग ।।

जान की धमकी ।
धार्मिक उन्माद ।।

एफ़आइआर यात्रा ।
करेगी आबाद ?

पुराना मतभेद ।
चढ़ रहा परवान ।।

सत्ता की लालसा ।
दिमाग़ में शैतान ?

कृष्णेन्द्र राय

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Krishnendra Rai

Related posts

व्यंग: भूल गये सरकार ?

Krishnendra Rai

व्यंग्य : माँ गंगा ने बुलाया…

UP News Desk

व्यंग: लखनऊ जनाब !

Krishnendra Rai