Home » सीएम आवास पर आत्मदाह करने के लिए मेरठ की दो बहनें रवाना!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

सीएम आवास पर आत्मदाह करने के लिए मेरठ की दो बहनें रवाना!

Self-immolation at CM house lucknow

उतर प्रदेश के मेरठ जिले में पुलिस और भाजपा नेता की गुंडई का शिकार एक पीड़ित परिवार की दो बहनें मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के पांच कालिदास मार्ग पर आत्मदाह करने के लिए रवाना हो गईं हैं।

  • बता दें कि मेरठ के थाना गंगानगर क्षेत्र के कसेरू बक्सर में दुकान खाली कराने के विवाद में दो बहनों पर झूठा डकैती के केस दर्ज करा दिए जाने के बाद वह ये कदम उठाने जा रही हैं।
  • दोनों बहनों ने बताया कि रविवार को कैंट बीजेपी विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल ने एसएसपी से मिलकर नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी की भी मांग की थी।
  • हालांकि पुलिस ने केवल दिखावे के लिए दबिश दी पर गिरफ़्तारी नहीं हो सकी इसके चलते सोमवार को दोनों बहनें लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह करने के लिए रवाना हो गईं हैं।

भाजपा नेता के दवाब में बैकफुट पर पुलिस

  • जानकारी के मुताबिक, मामला मेरठ जिले के गंगानगर थाना क्षेत्र का है।
  • यहां के बक्सर में रहने वाली पीड़िता ने बताया उसके पिता आर्मी से रिटायर्ड हैं।
  • वह अपने परिवार के साथ रहती है और प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की शाखा का संचालन करती है।
  • पीड़िता का कहना है कि पिछली 19 अप्रैल 2017 को शाम करीब 5:00 बजे पीड़िता अपने घर पर अकेली थी।
  • उसके माता-पिता नीचे गए हुए थे तभी उनके किराएदार मनोज जैन उसके कमरे में घुस आया और अकेले में बात करने की बात को कहता हुआ अश्लील हरकत कर छेड़छाड़ करने लगा।
  • कुछ देर बाद पीछे पीछे उसका नौकर मोहनीश भी वहां आ गया।

पीड़िता के कपड़े फाड़ नीचे फेंका

  • पीड़िता का आरोप आरोप है कि दबंगों ने उसके कपड़े फाड़कर नीचे डाल दिया।
  • पीड़िता ने शोर मचाने के बाद वहां उसके माता-पिता और एक बहन आ गए तो किराएदार मनु जैन वहां से भाग गया।
  • आरोप है कि थोड़ी देर बाद मनु, मोहसीन एवं संजीव लाठी-डंडे लेकर आये और सबको पीटने लगे।
  • आरोपियों ने इस दौरान कहा कि अगर मुकदमा दर्ज कराया तो तेरे भाई को जिंदा नहीं छोड़ेंगे।
  • पीड़िता ने बताया कि आरोपी किराएदार बीजेपी के बड़े नेताओं के साथ उठता बैठता है जिसको लेकर लगातार BJP के नेता आरोपी के साथ मिलकर पीड़िता पर दबाव बना रहे हैं कि यह पूरा मकान दुकान छोड़कर यहां से चले जाओ नहीं तो हम तुम्हें यहां जीने नहीं देंगे।

आरोपी बोला सरकार हमारी है

  • पीड़िता का आरोप है कि दिनेश खटीक भाजपा विधायक हस्तिनापुर और उनका सहयोगी संजीव शर्मा के पास बैठने वाला मनु जयंत धमकी देता हुआ कहता है कि सरकार और पुलिस हमारी है तुम कुछ नहीं कर सकते।
  • अगर घर ना छोड़ा तो तेरे भाई को भी मार देंगे और तेरे पूरे परिवार को खत्म कर देंगे।
  • पीड़िता इस मामले की शिकायत SSP, डीएम मेरठ से भी कर चुकी है लेकिन अभी तक उसे इंसाफ नहीं मिला।

पुलिस ने बहनों पर दर्ज कर दिया डकैती का केस

  • पीड़िता ने बताया कि उसके मकान में आरोपी मनु ने एक दुकान किराये पर ले रखी है।
  • जब यह मामला हुआ तो पीड़िता ने दुकान छोड़ने को कहा।
  • आरोप है कि इसके बाद आरोपी ने दुकान से सारा सामान खाली कर लिया और थाने में शिकायत करके उल्टा दोनों बहनों पर डकैती और एससी/एसटी की धाराओं में मुकदमा दर्ज करवा दिया।
  • परंतु पीड़िता ने जब पुलिस से शिकायत की तो पुलिस ने उसे मेडिकल के लिए तो भेज दिया लेकिन आज तक केस दर्ज नहीं किया।

न्याय ना मिला तो कर लेंगे आत्मदाह

  • भले ही प्रदेश में भाजपा ने महिला सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन किया हो लेकिन यह केवल खोखला दावा लग रहा है।
  • पीड़िता का कहना है कि उसने करीब अब तक 20 की शिकायतें की हैं लेकिन अभी तक उसे न्याय नहीं मिला है।
  • पीड़िता ने कहा है कि अगर दोनों बहनों पर दर्ज झूठा मुकदमा हटाकर आरोपियों के खिलाफ 24 तारीख तक केस दर्ज नहीं किया गया तो 25 तारीख को सुबह 11:00 बजे सुबह वह लखनऊ पहुंच कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास कालीदास मार्ग पर परिवार के साथ आत्मदाह कर लेगी।
  • जिसकी जिम्मेदारी शासन व प्रशासन की होगी।
  • वहीं पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए सामाजिक संगठन सारथी संस्था की अध्यक्ष कल्पना पांडेय, सचिव अशोक शर्मा भी उसके घर पहुंचे और आश्वासन दिया कि उनकी हर संभव मदद की जाएगी और उनकी संस्था उनके साथ हर समय खड़ी है।
  • हालांकि इस मामले में जब भाजपा विधायक से उनका पक्ष जानने के लिए जब बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की वहीं पुलिस कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

https://youtu.be/GxPMgiqWKbI

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

सरकार बनाने के लिए अखिलेश का चेहरा ही काफी!

Dhirendra Singh

योगी सरकार: 5 दिन के कार्यकाल में 54 ‘बड़े फैसले’!

Divyang Dixit

मड़ियांव में रिटायर्ड सीएमओ के बेटे ने की खुदकुशी!

Sudhir Kumar