Home » पैसो के लिए झूठ बोलती है गैंगरेप-एसिड अटैक पीड़िता!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

पैसो के लिए झूठ बोलती है गैंगरेप-एसिड अटैक पीड़िता!

acid attack victim

गैंगरेप और एसिड अटैक पीड़िता (acid attack victim) पैसो के लिए झूठ बोलती है। वह झूठे आरोप लगाकर लोगों को मुकदमे में फंसाकर सुलह समझौते के नाम पर वसूली करती है। यह सुनकर आप के भी कान खड़े हो गए होंगे। जी हां! यह बात झूठ नहीं बल्कि सच है। ये कोई और नहीं बल्कि पीड़िता के जेठ ने खुद कहा है।

बुलंदशहर में दो लड़कियों के साथ अपहरण के बाद गैंगरेप!

अपने भाई और भाभी पर भी लगाया चुकी आरोप

  • महिला के जेठ राजेंद्र पासी ने बताया कि ये महिला कई बार ऐसे झूठे आरोप लगा चुकी है।
  • राजेंद्र का कहना है कि वह पैसे के लिए ये ऐसा कर रही है।
  • इससे पहले वह अपने भाई और भाभी पर भी तेजाब से हमला करने का आरोप लगा चुकी है।
  • राजेंद्र के अनुसार वह गांव में नहीं रहती।
  • उसे ये गंभीर आरोप लगाने के बाद आवास मिल गया।
  • उन्होंने यह भी कहा कि पिछले दिनों आरोप लगाने के बाद सीएम ने उसे एक लाख रुपये दिए।
  • जीआरपी की जांच में आरोप फर्जी निकले।
  • शनिवार को फिर उसने किसी षड्यंत्र के चलते ही आरोप लगाए होंगे।
  • हालांकि पुलिस की जांच के बाद दूध का दूध पानी का पानी हो जायेगा।

बिजली कटौती से परेशान लोगों ने उपकेंद्र पर तोड़फोड़!

इन मामलो में आरोप मिले झूठे

  • 11 दिसंबर 2008 को पीड़िता ने आरोप लगाया कि उसके साथ गांव के ही दबंग भोंदू सिंह, ननकऊ सिंह, त्रिभुवन सिंह समेत पांच लोगों ने गैंगरेप के बाद तेजाब से हमला कर दिया। पुलिस ने मामले की जांच की तो आरोप झूठे मिले इसके बाद पुलिस ने 4 जुलाई 2009 में फाइनल रिपोर्ट (एफआर) लगा दी।

यूपी में स्टांप ड्यूटी की दरों में बड़े फेरबदल की तैयारी!

  • 19 फरवरी 2011 को भी महिला ने कुछ लोगों परमारपीट और एससीएसटी एक्ट में मुकदमा दर्ज करवा दिया। इस मुकदमे में भी पुलिस ने फ़ाइनल रिपोर्ट लगा दी।

तस्वीरें: डॉ. नीरज बोरा और स्वाति ने लगाई फटकार!

  • 25 अक्टूबर 2012 को महिला ने आरोप लगाया की उसका रायबरेली में एनटीपीसी के पास का अपहरण करने के बाद गैंगरेप किया गया। इसकी जांच सीबीसीआईडी ने की तो भी मामला फर्जी निकला।

प्रतीक्षा सूची के 276 आवेदक भी जाएंगे हज!

  • 23 मार्च 2017 को महिला ने आरोप लगाया कि बाह ट्रेन से अपनी बेटी को परीक्षा दिलाने आ रही थी। तभी उसे बंधक बनाकर गांव के भोंदू और गुड्डू ने तेजाब पिला दिया। इस मामले में पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। हालांकि (acid attack victim) जीआरपी की जांच में मामला झूठा साबित हुआ तो कोर्ट ने दोनों को रिहा कर दिया।

महाकाल शिव मन्दिर में सावन की तैयारी शुरु!

 

https://youtu.be/d6sFz_JDhQg

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

पीएम ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण की नींव रखी

Kamal Tiwari

विवादों में रहे सपा नेता आशु मलिक का वीडियो हुआ वायरल!

Dhirendra Singh

रात में स्कर्ट पहनकर न निकलने के बयान पर साध्वी प्राची का पलटवार!

Divyang Dixit