Home » …तो इसलिए यूपी के 21वें मुख्यमंत्री बनाये गए योगी आदित्यनाथ!
Bhartiya Janta Party UP Election 2017 Uttar Pradesh

…तो इसलिए यूपी के 21वें मुख्यमंत्री बनाये गए योगी आदित्यनाथ!

yogi adityanath keshav maurya dinesh mauraya

[nextpage title=”text” ]

वर्तमान समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मैजिक पूरे देश में चल रहा है। अभी तक का अगर रिकॉर्ड खंगाला जाये तो मोदी ने जिस राज्य में अपने कदम रखे वहां विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा को जीत हासिल हुई है।

  • अगर यूपी में भाजपा की जीत की बात की जाये तो यहां भाजपा ने प्रचंड बहुमत से 66 साल के रिकॉर्ड को तोड़ते हुए अपनी जीत का झंडा गाड़ा है।
  • यूपी चुनाव में अहम रोल अदा करने वाले योगी आदित्यनाथ को भाजपा ने यूपी का 21वां मुख्यमंत्री के रूप में चुना है।
  • वहीं केशव प्रसाद मौर्या और दिनेश शर्मा डिप्टी मुख्यमंत्री बनाये गए हैं।

अगले पेज पर पढ़िए योगी क्यों बने यूपी के सीएम:

[/nextpage]

[nextpage title=”text” ]

एकदम से आया योगी का नाम आगे

  • जहां कल तक यूपी के नये सीएम की रेस में जहां मनोज सिन्हा का नाम सबसे आगे था वहीं शनिवार को विधायक दल की बैठक से पहले योगी आदित्य नाथ का नाम रेस में सबसे आगे हो गया।

  • वहीं सीएम की रेस में केशव प्रसाद मौर्या, सतीश महाना, दिनेश शर्मा सहित कई नाम आगे आते रहे।
  • लेकिन यूपी की राजनीति के इतिहास में यह पहला मौका रहा जब भाजपा ने आखिरी वक्त तक यूपी के मुख्यमंत्री का ऐलान नहीं किया।
  • बता दें कि यूपी में प्रचंड बहुमत से जीतकर सत्ता में आई भाजपा ने एक सप्ताह तक यूपी के मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा नहीं कर पाई।
  • बता दें कि सोशल मीडिया पर एक सन्देश वायरल हो रहा है इसमें लिखा है कि ‘देश में मोदी, यूपी में योगी’ यह लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है।

योगी की है कट्टर हिंदुत्ववादी की छवि

  • बता दें कि यूपी में भाजपा गठबंधन ने 403 विधानसभा सीटों में 325 सीटों पर प्रचंड बहुमत से सरकार बनाई।

  • भाजपा के फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ संघ के भी बेहद करीबी माने जाते हैं।
  • योगी आदित्यनाथ गोरखपुर से वर्तमान सांसद हैं वह हिंदू युवा वाहिनी के संस्थापक के साथ गोरखनाथ मंदिर के महंत भी हैं।
  • योगी राम मंदिर और लव जेहाद जैसे मुद्दों पर अक्सर अपना कट्टर रुख दिखाते रहे हैं।
  • योगी आदित्यनाथ की राम मंदिर निर्माण के वादे के साथ यूपी की सत्ता में आई बीजेपी के लिए ये छवि काफी काम आ सकती है।
  • योगी आदित्य नाथ की हिंदू वाहिनी के जरिए हिन्दू युवाओं को एकजुट कर सामाजिक, सांस्कृतिक और राष्ट्रवादी मुद्दों पर पूर्वांचल में माहौल अपने पक्ष में रखने में कामयाब रहे हैं।

पांच बार से लगातार विधायक रहे हैं योगी

  • बता दें कि महंत योगी आदित्य नाथ देवभूमि उत्तराखंड में जन्में।
  • वह गोरखपुर लोकसभा सीट से 2014 में तीन लाख से भी अधिक सीटों से चुनाव जीते थे।
  • उन्होंने 2009 में दो लाख से भी अधिक वोटों से जीत हासिल की थी।
  • योगी आदित्यनाथ की पूर्वांचल की 60 से अधिक सीटों पर पकड़ मानी जाती है।
  • साल 2014 के लोक सभा चुनाव में जब नरेंद्र मोदी वाराणसी से लोकसभा का चुनाव लड़ने उतरे थे।
  • उसी समय से संकेत मिल गया था कि बीजेपी पूर्वांचल पर पूरा फोकस रखकर यूपी की जंग जीतेगी।
  • मोदी लहर के चलते भजपा ने लोकसभा की 80 में से 73 सीटें जीती थीं।
  • अब 2019 के लोक सभा चुनाव में भाजपा का पूरा फोकस पूर्वांचल के वोटरों पर है।

[/nextpage]

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

लखनऊ विश्‍वविद्यालय के छात्रों ने देर रात किया बवाल,पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Ishaat zaidi

आचार सहिंता लागू होते ही मेरठ डीएम ने बनाई नई कमेटी !

Mohammad Zahid

रीता बहुगुणा के जाने के बाद लखनऊ में कांग्रेस को लगा झटका!

Shashank