Home » चौथा बड़ा मंगल कल, मंदिरों में गूंजेंगे बजरंगबली के जयकारे!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

चौथा बड़ा मंगल कल, मंदिरों में गूंजेंगे बजरंगबली के जयकारे!

bada mangal 2017 images

ज्येष्ठ माह का चौथा (fourth bada mangal) और आखिरी बड़ा मंगल का पर्व पूरे देश में हर्षोउल्लास के कल साथ मनाया जायेगा। राजधानी लखनऊ में रात 12 बजे ही प्रमुख मंदिरों के कपाट दर्शन के लिए खोल दिए गए जायेंगे।

  • भक्तों की भीड़ भोर से ही हनुमान जी के दर्शन के लिए मंदिरों के बाहर तक लगी रहेगी।
  • सुरक्षा की दृष्टि से जिला प्रशासन, पुलिस और मंदिर प्रशाशन की तरफ से प्रमुख मंदिरों के अंदर और बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।
  • मंदिर में दर्शन के लिए आने वाले हर श्रद्धालु पर तीसरी आंख की निगरानी रहेगी।
  • वहीं मंदिर परिसर से बाहर अराजकतत्वों से निपटने के लिए सिविल ड्रेस में भी पुलिस तैनात की गई है।
  • भीड़ को देखते हुए मंदिरों में श्रद्धालुओं को कोई परेशानी ना हो इसकी भी व्यवस्था की गयीं है।
  • बड़े मंगल के अवसर पर शहर भर में पेय जल, शर्बत, भंडारे का आयोजन किया जायेगा।

ये भी पढ़ें- तीसरा बड़ा मंगल: मंदिरों में गूंज रहे बजरंगबली के जयकारे!

मंदिरों में लगेगा मेला

  • आज तीसरा बड़ा मंगल है और चौथा एवं आखिरी बड़ा मंगल 06 जून 2017 को मनाया जायेगा।
  • इस दिन नगर केे विभिन्न हनुमान मंदिरों में आयोजित होने वाले विशाल मेला में नगर के सभी हनुमान मन्दिरों में श्रद्धालुओं द्वारा पूजा-अर्चना किया जाता है।
  • बता दें कि बजरंग बली को लेकर भक्तों में बड़ी आस्था है।

ये भी पढ़ें- बड़ा मंगल 2017: सीसीटीवी की निगरानी में हो रहे बजरंगबली के दर्शन!

  • ज्येष्ठ माह के चौथे और आखिरी (fourth bada mangal) बड़े मंगल के चलते बजरंग बली के मंदिरों श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ रहा है।
  • सब अपनी-अपनी मनोकामना मांगने और दर्शन करने मंदिर जा रहे हैं।
  • श्रद्धालुओं की सुरक्षा की नजर से पुलिस, जिला प्रशाशन और मंदिर प्रशाशन की तरफ से मंदिर परिसर के बाहर और अंदर पुलिस बल तैनात किया गया है।
  • श्रद्धालुओं के लिए जल और प्रसाद की भी व्यवस्था की गई है।

ये भी पढ़ें- बड़ा मंगल 2017: हनुमान मंदिरों रहेगी भक्तों की भीड़, यह रहेगी यातायात व्यवस्था!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

तस्वीरें: लखनऊ में जलाई गई गन्ने और धान की होली

Sudhir Kumar

Dussehra 2017: City witnesses end of Ravan, Meghnat and Kumbkaran

Minni Dixit

डीजी अभियोजन के निर्देश पर बलात्कारी पिता व पुत्रों को मिली उम्रकैद!

Sudhir Kumar