Home » वीडियो: बीटीसी अभ्यार्थियों का सड़क पर पुलिस से हुआ टकराव!
Uttar Pradesh

वीडियो: बीटीसी अभ्यार्थियों का सड़क पर पुलिस से हुआ टकराव!

btc in lko

[nextpage title=”protest of BTC 2013 Trained candidates” ]
पिछले पिछले 23 अगस्त से लक्ष्मण मेला मैदान में अपनी मांगों को लेकर धरना और भूख हड़ताल पर बैठे बीटीसी प्रशिक्षण प्राप्त 2013 बैच के अभ्यार्थियों का बुधवार को सब्र का बांध टूट गया तो वह सैकड़ों की संख्या में जीपीओ पार्क में एकत्रित होकर विधान सभा का घेराव करने के लिए सड़क पर निकल पड़े। लेकिन मौके पर मौजूद भारी संख्या में पुलिस बल ने उन्हें बैरकेडिंग लगाकर रोक लिया तो उनका पुलिस से टकराव हो गया। इस दौरान सड़क पर भयंकर जाम लग गया। मौके पर पहुंचे जिला प्रशासन के अधिकारियों ने उनका ज्ञापन लेकर आश्वासन देकर प्रदर्शन समाप्त करवाया तो पुलिस ने सभी को हिरासत में लेकर फिर से लक्ष्मण मेला मैदान भेज दिया। अभ्यर्थियों का आरोप है कि अधिकारी अखिलेश से मिलने नहीं दे रहे हैं आचार संहिता लगने वाली है फिर हम लोगों का क्या होगा। बता दें अभ्यार्थी 115 दिनों से मांगों को लेकर धरने पर बैठे हैं लेकिन उनकी सुनवाई नहीं हो रही है।

अगले पेज पर वीडियो में देखिये अखिलेश के खिलाफ नारेबाजी और हंगामा

[/nextpage]

[nextpage title=”protest of BTC 2013 Trained candidates” ]

अभ्यार्थियों ने मांगी जल्द नियुक्ति

https://www.youtube.com/watch?v=rsDrOuul-sU&feature=youtu.be

  • प्रदेश भर के विभिन्न जिलों से आये सैकड़ों की संख्या में महिला/पुरुष अभ्यर्थियों ने बताया वह कई बार धरना प्रदर्शन, सड़क जाम कर चुके हैं लेकिन मुख्यमंत्री से उनकी बातचीत नहीं कराई जा रही है।
  • सीएम के अधिकारी सिर्फ झूठा आश्वाशन दे रहे हैं।
  • प्रदर्शनकारियों का भविष्य अंधकार मय होता जा रहा है।
  • इसके चलते भूख हड़ताल शुरू की गई है जब तक हमारी समायोजन की मांग पूरी नहीं होगी तब तक हम हटने वाले नहीं।

यह है अभ्यर्थियों का कहना

  • प्रदर्शनकारी अभ्यार्थियों ने बताया कि हम सभी उत्तर प्रदेश के कुल 37,864 से अधिक बी०टी०सी० प्रशिक्षित हैं।
  • जो कि हम प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक बनने के लिए ही बाध्य होते है एवं टीईटी परीक्षा भी पास हैं।
  • तथा सहायक अध्यापक के पदों पर नियुक्ति की पूर्ण अर्हता रखते हैं।
  • हम प्रशिक्षितों द्वारा पिछले 23 अगस्त से लक्ष्मण मेला मैदान में भारी संख्या में शांतिपूर्ण धरना देकर आपसे नई भर्ती देने की प्रार्थना की जा रही है।
  • जिसमें प्रदेश के बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में 12000 सहायक अध्यापकों व 4,000 उर्दू अध्यापकों की नवीन भर्ती का प्रस्ताव तैयार किया जा चुका है।
  • जब कि उर्दू मुअलिम के कुल 1200 ही अभ्यर्थी है एवं इनको अधिक पद दिए जा रहे हैं।
  • 37864 बी टी सी प्रशिक्षितों को संख्या के सापेक्ष केवल 12000 पद ही दिए जा रहे हैं।
  • इस प्रस्ताव में प्रदेश में मात्र 51 जिलों में ही भर्ती देने की सूचना है जो कि प्रदेश के युवाओं के लिए अनुचित है क्योकि 24 जिलो में पदों के होते हुए वहां पद नहीं दिए गए हैं।
  • पदों को शून्य किया गया है जिससे पूरी भर्ती प्रक्रिया कोर्ट में फंस जायेगी और निरस्त हो जायेगी।
  • 51 जिलों के आधार पर पुरे प्रदेश में भर्ती कैसे की जायेगी जब कि प्राथमिक विद्यालय में भर्ती प्रक्रिया में जिलावरियता लागू होती है।

अखिलेश से की जल्द नियुक्ति की मांग

  • इसके अतरिक्त सचिव, बेसिक शिक्षा उo प्रo द्वारा 5 अक्तूबर 2016 को  उच्चतम न्यायालय में Civil Appeal No. 4347- 4375 OF 2014/ उo प्रo राज्य व अन्य बनाम शिव कुमार पाठक व अन्य में एफिडेविट दाखिल किया गया।
  • जिसमें सचिव द्वारा उच्चतम न्यायालय को सूचित किया गया की उक्त तिथि तक प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापकों के कुल 42,758 पद व प्रधानाध्यापकों के कुल 15,275 पद रिक्त हैं।
  • 8151 पद शहरी विद्यालय में रिक्त हैं 4000 पद शिक्षामित्रों के नाम पर आरक्षित कर रखा है।
  • 17206 एकल विद्यालय है, जहाँ पर अध्यापकों की नियुक्ति संभव है।
  • हमारी कुल 37,864 से अधिक संख्या के अनुरूप नई भर्ती के लिए पर्याप्त पद हमें नहीं दिए जा रहे हैं जो कि हम युवाओं के साथ अन्याय है।
  • अभ्यार्थियों ने सीएम से मांग की है कि समाजवादी शासनकाल में हम 37,864से अधिक युवाओं के लिए बड़ी भर्ती की घोषणा करें जिसके लिए हम प्रदेश भर के बीटीसी प्रशिक्षित बेरोजगारी से दूर हो सकें साथ ही अपना भविष्य बना सकें।

[/nextpage]

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

सपा ने जारी की पांचवें चरण के 19 प्रत्याशियों की सूची!

Divyang Dixit

यूजी की 122 खाली सीटों के लिए काउंसलिंग आज!

Vasundhra

प्रधानमंत्री के गाँव ‘नागेपुर’ पहुंची केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री, आगनबाडी केंद्र का करेंगी उद्घाटन!

Divyang Dixit