Home » यूपी की सियासत में मौर्य बनेंगे बड़े खिलाड़ी!
Uttar Pradesh

यूपी की सियासत में मौर्य बनेंगे बड़े खिलाड़ी!

swami prasad

बसपा से बगावत करने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने लगातार दूसरे दिन पलटी मारते हुए सपा को गुण्डों और माफिया की पार्टी बताया। बुधवार को बसपा छोड़ने पर जो पार्टियां उन्हें लपकने को तैयार बैंठी थीं। गुरूवार शाम को स्वामी ने उन पार्टियों को ही खरी-खोटी सुनाकर प्रदेश की सियासत गर्मा दी।

  • मौर्य ने अपने आवास पर मीडियाकर्मियों के सवालों के जवाब में कहा कि सपा को लेकर नेता प्रतिपक्ष के रूप में उनकी जो राय रही है, उस पर वह कायम हैं।
  • सपा सरकार में गुंडे और अपराधी बेखौफ हैं। प्रदेश में कोई विकास कार्य नहीं हुआ। उन्होंने कहा, मैं मुलायम सिंह के परिवारवाद का विरोधी हूं। मेरा किसी भी पार्टी में जाने का रुझान नहीं है।
  • स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि सपा और भाजपा हिन्दु-मुस्लमान को बांटकर दंगे कराना चाहती है, जो संवैधानिक भावनाओं के खिलाफ है।
  • मौर्य ने सपा-भाजपा को नसीहत देते हुए कहा कि दोनों दलों को इस सांप्रदायिक सियासत से बाज आना चाहिए।
  • बसपा छोड़ने पर आजम खां और शिवपाल सिंह यादव ने जिस तरह से मौर्य का स्वागत किया था उससे ऐसा लग रहा थी कि वे सपा की तरफ रूख कर सकते हैं।
  • मौर्य का सपा में शामिल होना लगभग तय माना जा रहा था वहीं, सपा के कुछ नेता तो मौर्य के मंत्री बनने तक की बात कर रहें थे।
  • बुधवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जिस तरह से मौर्य के लिए नरम रूख अपनाया हुआ था, और उन्हें एक बड़ा नेता बताया था उससे इन संभावनाओं को बल मिल रहा था।
  • इस दौरान मौर्य ने किसी दल में जाने के बजाए अपनी खुद की पार्टी बनाने के संकेत दिए हैं। हालांकि उन्होने इस बाबात कुछ नहीं कहा है।
  • स्वामी प्रसाद मौर्य ने बताया कि बसपा के उन सभी नेताओं से बात करेंगे, जिन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया गया है।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

अखिलेश के करीबी नेता पर हुआ जानलेवा हमला

Shashank

सीएम अखिलेश ने दिखाई स्कूली बच्चों की सद्भावना यात्रा को हरी झंडी!

Divyang Dixit

विपक्ष के हंगामें के चलते बजट पर चर्चा से पहले विधान परिषद स्थगित!

Rupesh Rawat