Home » विपक्ष पर गरजते हुए BJP नेता ने खाली कुर्सियों को किया संबोधित!
Uttar Pradesh

विपक्ष पर गरजते हुए BJP नेता ने खाली कुर्सियों को किया संबोधित!

swabhiman sammelan jhansi

उत्तर प्रदेश में 2017 विधानसभा चुनाव का मतदान 11 फ़रवरी से शुरू होना है.ऐसे में सभी राजनीतिक दल जल्द से जल्द मुस्लिम और दलित वोटों को अपनी तरफ खींचने के प्रयास में लगे हुए हैं. इसी कदम में भारतीय जनता पार्टी द्वारा विभिन्न जिलों में लगातार दलित स्वाभिमान सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है. लेकिन दलित हैं की इस सम्मेलन में आने का नाम ही नही ले रहे हैं. ताज़ा मामला झांसी  का है जहाँ आज बीजेपी द्वारा दलित स्वाभिमान सम्मेलन का आयोजन किया गया. लेकिन बाकि जिलों की तरह यहाँ भी दलित बीजेपी द्वारा आयोजित इस सम्मेलन में नही पहुंचे. ऐसे में बीजेपी अनुसूचित मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद सोनकर को मंच पर खड़े होकर कर के खाली कुर्सियों को संबोधित करना पड़ा.हालांकि संबोधन के दौरान विनोद सोनकर ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला.

wabhiman sammelan jhansi

दलितों के लिए आयोजित स्वाभिमान सम्मलेन में नही पंहुचे दलित

  • यूपी में आगामी चुनाव 2017 के मतदान अगले महीने में होना है.
  • ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियाँ अपना वोट बैंक मज़बूत करने में लगी हुई हैं.
  • इसी कदम में बीजेपी द्वारा आज झांसी में दलित सवाभिमान सम्मेलन का आयोजन किया गया.
  • बता दें कि पिछले एक महीने से विभिन्न जिलो में बीजेपी द्वारा ये स्वाभिमान सम्मेलन कराया जा रहा है.
  • इसी प्रक्रम में आज झांसी में ये स्वाभिमान सम्मेलन आयोजित किया गया था.
  • लेकिन यहाँ दलितों को इकठ्ठा करने में बीजेपी कार्यकर्ता नाकाम रहे.
  • जिसके चलते बीजेपी अनुसूचित मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद सोनकर को मंच पर खड़े होकर कर खाली मैदान  में पड़ी खाली कुर्सियों को संबोधित करना पड़ा.
  • लगभग 25 मिनट तक दिए गए भाषण के दौरान उन्होंने सपा , बसपा और कांग्रेस पर जम कर हमला बोला.
  • लेकिन उन्होंने ये स्वीकार किया की बीजेपी बहुत कम दलितों को इकठ्ठा कर पाई है.
  • बता दें कि विनोद सोनकर के साथ मंचासीन झांसी सदर विधायक रवि शर्मा , एमपी के मंत्री नरोत्तम मिश्रा भी जल्दी ही उठ कर चले गए
  • उन्होंने भी इसका कारण भीड़ इकठ्ठा न हो पाना ही बताया.

ये भी पढ़ें :आचार संहिता की उड़ाई गई धज्जियां, 3 लोगों पर मुकदमा दर्ज!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

6 हफ्ते बाद ‘अनुच्छेद 35A’ की अहम सुनवाई आज

Divyang Dixit

आधार कार्ड पर नागरिकता का प्रमाण नहीं, तो प्रमाण क्या है?

Sudhir Kumar

कर्जमाफी के मरहम के बाद योगी सरकार देगी ‘बिजली का घाव’!

Divyang Dixit