Home » विधानसभा में विस्फोटक मिलने की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण-शिवपाल
Uttar Pradesh

विधानसभा में विस्फोटक मिलने की घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण-शिवपाल

shivpal yadav statement on getting petn explosive in assembly

उत्तर प्रदेश की 17वीं विधानसभा के मानसून सत्र के दूसरे दिन की कार्यवाही से पहले सदन में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी की टेबल के नीचे से विस्फोटक पदार्थ PETN मिला था. जिसे लेकर ना केवल विधानसभा बल्कि पुलिस , ATS एवं तमाम सरकारी विभागों हड़कंप मचा हुआ है. इस मामले में सपा नेता शिवपाल यादव ने आज चंदौली में बयान देते हुए कहा कि सुरक्षा होने बावजूद विधानसभा में विस्फोटक मिलना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. उन्होंने कहा कि इस मामले में कड़ी नजर रखने की जरूरत है. इस दौरान लालू यादव के परिवार पर की गई छापेमारी पर शिवपाल यादव ने कहा कि ये छापेमारी राजनीति से प्रेरित है उन्होंने कहा कि किसी को पॉलिटकल डर से नहीं फसाना चाहिए.

ये भी पढ़ें :जरूरत पड़ने पर माननीयों से भी हो सकती है पूछताछ-IG ATS असीम अरुण

विधानसभा चुनाव में हार के दोषी अखिलेश-

  • इस दौरान शिवपाल यादव ने पूर्व सीएम अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा.
  • शिवपाल यादव ने अपने बयान में कहा की ‘विधानसभा चुनाव में हार के दोषी अखिलेश’ हैं.

ये भी पढ़ें :यूपी से है मेरा बहुत पुराना रिश्ता-मीरा कुमार

  • चंदौली में मंच से बोलते समय शिवपाल यादव का दर्द छल उठा.
  • उन्हींने कहा कि ‘नेता जी के नेतृत्व में लड़ते चुनाव तो सरकार होती’.
  • इस दौरान उन्होंने महाभारत और रामायण का भी उदाहरण दिया.
  • महाभारत और रामायण का उदाहरण देते हुए उन्होंने राम गोपाल यादव पर भी बोला हमला.

आतंकियों ने बनाया था दवाई को ‘विस्फोटक’-

  • उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित विधानसभा में बुधवार 12 जुलाई को नेता विपक्ष रामगोविंद चौधरी की सीट के नीचे विस्फोटक पदार्थ(PETN) मिला था.

ये भी पढ़ें :अखिलेश यादव ने की मीरा कुमार को समर्थन देने की अपील!

  • जिसके बाद मामले की जांच NIA को सौंप दी गयी है.

क्या होता है PETN(PETN):

  • PETN को PENT, PENTA, TEN, Corpent, Penthrite जैसे कई नामों से जाना जाता है.
  • इसकी बनावट बहुत कुछ नाइट्रोग्लिसरीन जैसी होती है.
  • PETN में कार्बन के 5 अणु पाए जाते हैं.

ये भी पढ़ें :अखिलेश यादव ने की मीरा कुमार को समर्थन देने की अपील!

  • इसके बारे में दावा किया जाता है कि, यह दुनिया के सबसे शक्तिशाली विस्फोटक में से एक है.
  • PETN का प्रभावशाली कारक 1.66 होता है.
  • सीधे शब्दों में कहें तो PETN की ज्वलन क्षमता पेट्रोल के बराबर होती है.

बम बनाने की विधि में आलू जैसा है PETN(PETN):

  • PETN अभी तक पाए जाने वाले शक्तिशाली विस्फोटकों में से एक है.
  • प्लास्टीसाइजर के साथ इसका इस्तेमाल करने पर यह एक प्लास्टिक एक्सप्लोसिव में तब्दील हो जाता है.
  • वहीँ RDX के साथ इसका इस्तेमाल करने पर यह सेम्टेक्स बन जाता है.

दिल की कुछ बीमारियों में भी होता है इस्तेमाल(PETN):

  • PETN का इस्तेमाल सिर्फ विस्फोटक के लिए ही नहीं किया जाता है.
  • दिल की कुछ बिमारियों में PETN को VASODILATOR ड्रग के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है.
  • जिसमें से दिल की बीमारी ANGINA प्रमुख है.

ये भी पढ़ें: मायावती ने किया मीरा कुमार का जोरदार स्वागत!

कितना खतरनाक है PETN(PETN):

  • विस्फोट ऊर्जा: 5810 kJ/kg (1390 kcal/kg), एक किलो PETN 1.24 TNT के बराबर होता है.
  • धमाके की रफ़्तार: 8350 m/s (1.73 g/cm3), 7910 m/s (1.62 g/cm3), 7420 m/s (1.5 g/cm3), 8500 m/s

ये भी पढ़ें: NSA ने IB को किया तलब, IB ने सौंपी रिपोर्ट!

  • विस्फोट से निकलने वाली गैसों का आयतन: 790 dm3/kg (other value: 768 dm3/kg)
  • धमाके का तापमान: 4230 °C
  • ऑक्सीजन संतुलन: −6.31 atom -g/kg
  • गलनांक: 141.3 °C (pure), 140–141 °C.

खोजी कुत्तों के लिए भी इसे खोजना टेढ़ी खीर(PETN):

  • साइंटिफिक अमेरिकन के मुताबिक, PETN को ट्रेस करना बहुत ही मुश्किल काम है.
  • जिसकी वजह है की यह पदार्थ अपने आस-पास की हवा से वाष्पित नहीं होता है.
  • जिसके चलते बम खोजने में माहिर खोजी कुत्ते भी इसे खोज पाने में असफल रहते हैं।

ये भी पढ़ें: अधिकारी और कर्मचारी ‘हमसफ़र’ में करेंगे सुविधा पास से सफर!

 

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

नवरात्रि और राम नवमी को लेकर CM योगी ने अफसरों को दिए निर्देश!

Divyang Dixit

कार्यकाल के आखिर साल में दूसरी बार IAS वीक क्यों?

Sudhir Kumar

लोकभवन में बीजेपी विधायक दल की बैठक कल!

Kamal Tiwari