Home » रायबरेली नरसंहार के पीड़ितों से मिले सतीश चन्द्र मिश्र!
Uttar Pradesh

रायबरेली नरसंहार के पीड़ितों से मिले सतीश चन्द्र मिश्र!

satish chandra mishra

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में 27 जून को पांच लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी थी, जिसके तहत बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र(satish chandra mishra) बुधवार 12 जुलाई को सूबे के प्रतापगढ़ जिले में पहुंचे थे।

मृतकों के परिजनों से मिले सतीश चन्द्र मिश्र(satish chandra mishra):

  • बीते 27 जून को रायबरेली जिले में 5 लोगों को पीट-पीटकर हत्या कर दी गयी थी।
  • जिसके बाद बुधवार को सतीश चन्द्र मिश्र प्रतापगढ़ पहुंचे थे।
  • जहाँ उन्होंने मृतकों के परिजनों से मुलाकात की।
  • बसपा नेता सतीश चन्द्र मिश्र ने पूर्व प्रधान रोहित शुक्ला समेत पीड़ितों को न्याय का भरोसा दिलाया।
  • साथ ही बसपा नेता ने कहा कि, उनकी सरकार बनी तो घटना की सीबीआई जांच होगी।
  • सतीश मिश्र ने आगे कहा कि, मामले को राज्यसभा में उठाया जायेगा।
  • उन्होंने आगे कहा कि, बसपा की सरकार में हर परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी।

मामले में हो रही है जमकर राजनीति(satish chandra mishra):

  • रायबरेली नरसंहार के बाद सूबे में हलचल मच गई थी।
  • इस नरसंहार की गूंज सदन तक पहुंची जब बजट सत्र के दौरान विपक्ष ने कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या का इस्तीफा भी माँगा था।
  • बसपा ने कल सदन में भी योगी सरकार पर दबाव बनाया था।
  • पूरा विपक्ष लामबंद होकर स्वामी प्रसाद मौर्या के इस्तीफे की मांग कर रहा था।
  • इस हत्याकांड के बाद ब्राह्मण संघ ने भी स्वामी प्रसाद मौर्या के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था और लखनऊ में प्रदर्शन भी किया था।
  • उन्होंने इस प्रदर्शन के दौरान अपनी मांगों से भी अवगत कराया था।

ब्राह्मण समाज की प्रमुख मांग(satish chandra mishra):

  • पांचों पीड़ित परिवार के दो सदस्यों को सरकारी नौकरी दी जाये।
  • पांचों परिवारों को 50,50 लाख की आर्थिक सहायता दी जाये।
  • इस जघन्य हत्याकांड की सीबीआई जांच की जाये।
  • फ़ास्ट ट्रैक अदालत का गठन कर अपराधियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए।
  • इसके अलावा मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या से इस्तीफा लिया जाये।
  • इनका कहना है कि ब्राह्मण सुरक्षित नहीं है, रोज ब्राहम्णो की हत्याएं हो रही हैं।

स्वामी प्रसाद ने हत्याकांड को ठहराया सही(satish chandra mishra):

  • स्वामी प्रसाद मौर्या ने कुशीनगर में रायबरेली नरसंहार पर बयान दिया था।
  • उन्होंने कहा कि जो मारे गए वो किराये के गुंडे थे।
  • उनपर अलग-अलग थानों में केस दर्ज हैं।
  • ग्रामीणों ने जिनकों पीट-पीटकर या जलाकर मार डाला, वो गुंडे थे।
  • सभी के सभी किराये के गुंडे थे जो प्रतापगढ़ और फतेहपुर से आये थे।
  • मौर्या ने इनको गंभीर अपराधों में वांछित बताया।
  • उन्होंने कहा कि मारे गए गुंडों को शहीद बताया जा रहा है।
  • इसको लेकर सपा और कांग्रेस राजनीति कर रही है।
  • उन्होंने कहा कि ब्राह्मणों की हत्या नहीं हुई अपराधियों की हत्या हुई।

5 लोगों की हुई थी निर्मम हत्या(satish chandra mishra):

  • मामला प्रतापगढ़ जनपद के संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र स्थित तेवारा गांव का है।
  • प्रधान रोहित शुक्ला भुसई का पुरवा में ससुराल की तरफ से खुद को मिली एक जमीन पर घर का निर्माण करवा रहा था।
  • पास के ही अपटा गांव की महिला प्रधान रामश्री का बेटा राजा यादव कल वहां पहुंचा।
  • यह कहकर निर्माण कार्य रकवा दिया कि ग्राम सभा की जमीन पर अवैध रूप से निर्माण कराया जा रहा है।
  • इस बात की जानकारी मिलने पर रोहित और उसके साथी अपटा गांव पहुंचे थे।
  • रोहित के साथ अनूप,अंकुश, करमचंद, मनीष और बच्चा शुक्ला सोमवार देर रात पहुंचे थे।
  • रोहित ने कहा कि वह जिस जमीन पर निर्माण करा रहा है, वह उसके ससुर ने उसे दी है।
  • इसी बीच विवाद बढ़ गया और राजा यादव के भाई कृष्ण कुमार ने हवा में गोलियां चलानी शुरू कर दीं।

ये भी पढ़ें: तस्वीरें: गंदगी से भयानक बदबू, सड़क पर चलनें की जगह नहीं!

 

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

मूक-बधिरों के लिए यूपी में होगा अब अस्पताल!

Kamal Tiwari

बरेली : जूस की आड़ में बिक रहा था खून!

Mohammad Zahid

बसपा के भाईचारा सम्मलेन में शामिल होने राम प्रसाद चौधरी पहुंचे बस्ती

Mohammad Zahid