Home » घूस लेते पकड़ा गया आरटीओ कार्यालय में तैनात बाबू
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

घूस लेते पकड़ा गया आरटीओ कार्यालय में तैनात बाबू

murder in sarojini nagar

राजधानी के सरोजनीनगर थाना क्षेत्र के ट्रांसपोर्ट नगर स्थित आरटीओ कार्यालय (RTO office lucknow) में तैनात एक बाबू को घूस लेते हुए गुरुवार को रंगे हाथों दबोच लिया गया।

  • एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने औचक छापेमारी में यह कार्रवाई की।
  • टीम आरोपी बाबू को लेकर सरोजनीनगर थाने लेकर पहुंची जहां कई घंटों से उससे पूछताछ जारी है।
  • हालांकि इंस्पेक्टर सरोजनीनगर डीके शाही का कहना है कि आरोपी आरटीओ कार्यालय में दलाली करता था।

बीआरडी हादसा: पुलिस ने चुपके केस दर्ज कर एफआईआर कॉपी दबाई!

क्या है पूरा मामला?

  • जानकारी के मुताबिक, ट्रांसपोर्टनगर स्थित आरटीओ कार्यालय में तैनात एक बाबू को एंटी करप्शन लखनऊ की टीम ने गुरुवार शाम को घूस लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया।
  • एंटी करप्शन टीम के इंस्पेक्टर सुंदर सिंह सोलंकी ने बताया कि कई दिनों से उन्हें इस बात की शिकायत मिल रही थी कि आरटीओ कार्यालय में तैनात एक बाबू किसी दूसरे की जगह पर काम कर रहा है।

महिला की मौत पर हंगामा, सड़क जाम कर काटा बवाल

  • इतना ही नहीं विभागीय कर्मचारियों ने भी कई बार इस बाबू की शिकायत गोपनीय तरीके से की थी।
  • जिस पर कार्रवाई करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया गया।
  • हालांकि पकड़े गए बाबू के बारे में कोई भी अधिकारी कुछ भी बोलने से बचता रहा।
  • सीओ कृष्णानगर ने इस मामले में कोई भी जानकारी होने से ही इंकार कर दिया।
  • उनका कहना था कि वह कोर्ट में है।

वीडियो: टोल कर्मियों को बेरहमी से पीटकर सीओ ने करवाई लूट

  • जबकि इंस्पेक्टर सरोजनीनगर का कहना है कि एंटी करप्शन टीम आरोपी से पूछताछ कर रही है।
  • उन्हें अभी आरोपी के बारे में कोई जानकारी नहीं है।
  • एंटी करप्शन टीम उसे लेकर सरोजनीनगर थाने भी पहुंच गई।
  • जहां उससे करीब पांच घंटे से पूछताछ चल रही है।
  • बावजूद इसके कोई भी अधिकारी आरोपी के बारे में जानकारी नहीं दे पाया।
  • यहां तक कि किसी को उसका नाम तक नहीं पता चला।
  • सूत्रों की माने तो आरोपी बाबू काफी समय से आरटीओ कार्यालय में दूसरे की जगह पर काम देखता है।

5 साल तक सपा को कटघरे में खड़ा करने वाली भाजपा खुद कटघरे में आई

  • वह विभाग की वसूली का पूरा काम अपने पास ही रखता है।
  • यही वजह है कि उसके पकड़े जाने के बाद उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज होने में एंटी करप्शन टीम को भी मशक्कत करनी पड़ रही है।
  • सूत्र बताते हैं कि आरोपी को छुड़वाने के लिए लगातार दबाव बनाया जा रहा है।
  • यही वजह है कि अधिकारी (RTO office lucknow) सेटिंग में लगे हुए है ताकि किसी तरह से मामला दब जाए।

दारोगा भर्ती पेपर लीक कांड: STF ने 7 को किया गिरफ्तार

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

पांचवे चरण का मतदान: गायत्री प्रसाद प्रजापति ने डाला वोट!

Sudhir Kumar

मैं मुलायम सिंह यादव के साथ हूँ- शारदा प्रताप शुक्ला!

Kamal Tiwari

नोटबंदी पर पार्टी की राय से उलट सपा महासचिव ने दिया पीएम को समर्थन!

Divyang Dixit