Home » RTI: एयर इंडिया को अपने निजीकरण की जानकारी नहीं!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

RTI: एयर इंडिया को अपने निजीकरण की जानकारी नहीं!

Nutan Thakur

एयर इंडिया, (Air India) जिसके निजीकरण के सम्बन्ध में पिछले दिनों लगातार चर्चा चल रही है, को अपने स्वयं के निजीकरण के सम्बन्ध में कोई जानकारी नहीं है।

वीडियो ट्रॉमा सेंटर में आग: शताब्दी में शिफ्ट किये गए मरीज!

  • आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने एयर इंडिया से उसके निजीकरण के सम्बन्ध में उसके तथा अन्य कार्यालयों में हुए पत्राचार सहित निजीकरण प्रस्ताव विषयक समस्त अभिलेख देने का अनुरोध किया था।

वीडियो: केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर में लगी भीषण आग, मची अफरा-तफरी!

  • एयर इंडिया के एजीएम (ओए) एस के बजाज ने 11 जुलाई 2017 के अपने पत्र द्वारा बताया कि एयर इंडिया ने किसी प्रस्तावित निजीकरण के सम्बन्ध में किसी भी कार्यालय से कोई पत्राचार नहीं किया है और न ही उसे इस सम्बन्ध में कोई भी पत्र प्राप्त हुआ है।

यूपी में डेंगू, चिकनगुनिया और स्वाईन फ्लू का प्रकोप!

  • अतः उसे प्रस्तावित निजीकरण के सम्बन्ध में कोई सूचना नहीं है।
  • नूतन के अनुसार यह आश्चर्यजनक है कि जिस कंपनी का निजीकरण प्रस्तावित है, वह ही इस पूरी प्रक्रिया से अलग रखा गया दिख रहा है।

झलकारी बाई अस्पताल के सामने लावारिस सूटकेस मिलने से हड़कंप!

ये भी पढ़ें:

आरटीआई: विजिलेंस की 48% जांचें ही पूरी हुईं!

पिछले 07 वर्षों में उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान (Vigilance) को राज्य सरकार द्वारा दी गयी जाँच और अन्वेषण में मात्र 48 प्रतिशत मामले ही पूरे हो सके हैं और 52 प्रतिशत मामले अभी भी विभिन्न स्तरों पर लंबित हैं इन पर सुनवाई नहीं हो रही है। 

बाल कलाकार स्पर्श श्रीवास्तव की मां ने पति पर लगाए गंभीर आरोप!

  • यह तथ्य आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर को सतर्कता अधिष्ठान के एसपी मुख्यालय द्वारा दी गयी सूचना से सामने आया है।

झांसा देकर दो साल तक करता रहा दुष्कर्म, बनाया अश्लील वीडियो!

  • सूचना के अनुसार वर्ष 2010 से 22 जून 2017 के बीच शासन ने सतर्कता अधिष्ठान को 864 जाँच और अन्वेषण दिए जिनमे उसके द्वारा 570 मामले पूरे कर शासन को भेजे गए।

फिर लाखों की डकैती, चौकी इंचार्ज सहित तीन निलंबित!

  • इनमे 420 मामलों में शासन ने निर्णय ले कर अधिष्ठान को अवगत करा फिय जबकि 150 मामले अभी भी शासन के पास लंबित हैं।

फैमिली कोर्ट में पति ने महिला का गला रेता, मचा हड़कंप!

  • इस प्रकार 864 मामलों में 444 मामले अभी लंबित हैं जो कुल मामलों का 52 प्रतिशत है।
  • नूतन के अनुसार अधिष्ठान और शासन के पास इतनी अधिक संख्या में लंबित मामलों से साफ दिख जाता है कि इनमे (Air India) रसूख के अनुसार कार्यवाही होगी है।

वीडियो: रालोद कार्यकर्ताओं पर बर्बर लाठीचार्ज, दर्जनों घायल!

झलकारी बाई अस्पताल के सामने लावारिस सूटकेस मिलने से हड़कंप!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

Breaking :भदोही में मनबढ़ो ने छात्र नेता पर फेका देशी बंम छात्र नेता घयाल

Tanmay Baranwal

जिन्होंने किया मेट्रो का शिलान्यास, सत्ता से हुई उनकी रुखसती!

Shashank

PC में बोले अखिलेश, हमसे ज्यादा सवाल न पूछो!

Divyang Dixit