Home » हजरतगंज कोतवाली में नहीं है CM का असर, मिली शराब की बोतलें !
Uttar Pradesh

हजरतगंज कोतवाली में नहीं है CM का असर, मिली शराब की बोतलें !

reality check of hazratganj police station lucknow

कुछ दिन पहले ही सूबे के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राजधानी लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली पहुंचे थे। कोतवाली का निरीक्षण करने के बाद सीएम योगी ने कहा था कि उत्तर प्रदेश में कानून का राज हो, इसलिए पुलिस का मनोबल कैसा है, यह जानने के लिए मैंने हजरतगंज कोतवाली का दौरा किया है। इसके अलावा पुलिसिंग को बेहतर करने के लिये और कौन-कौन से प्रभावी कार्य हो सकते हैं, यह जानने के लिये मैंने निरीक्षण किया है। यह कोई पहला निरीक्षण नहीं है। आगे भी ऐसे निरीक्षण होंगे, लेकिन जैसे ही योगी के आज अपने गृह जनपद गोरखपुर के लिए रवाना हुए कोतवाली में पान की पीक, गंदगी और शराब की बोतलें मिली।

सीएम के आदेश का नहीं हो रहा पालन

सीएम बनते ही योगी आदित्यनाथ एक्शन मोड में दिखाई दे रहे थे। सबसे पहले सीएम ने अधिकारियों को स्वच्छता की शपथ दिलाई। उसके बाद अचानक से गुरुवार 23 मार्च को हजरतगंज कोतवाली पहुंच गए। सीएम द्वारा थाने के निरीक्षण के बाद से प्रदेश भर के पुलिस अधिकारी अपने कार्यालय के भवनों की साफ-सफाई में जुट गए। लेकिन सीएम योगी आदित्यनाथ जैसे ही राजधानी से अपने गृह जनपद गोरखपुर के लिए रवाना हुए हजरतगंज कोतवाली का हाल वही दिखा। हर तरफ गंदगी का अंबार सा है।

कोतवाली परिसर में पड़ी हैं शराब की बोतलें

हजरतगंज कोतवाली परिसर में वरिष्ठ अधिकारी शिवराम यादव के कार्यालय के ठीक बाहर शराब की बोतलें और उनके रैपडर खुले में पड़े मिले। साथ ही पूरे परिसर में हर तरफ पान व गुटखा की पीक दिखाई दे रही है।

[ultimate_gallery id=”65867″]

कूड़े का अंबार

स्वच्छता का आलम ये है कि कोतवाली के अंदर प्रवेश करते ही हर तरफ कूड़े का ढ़ेर पड़ा है। चाहे वो किसी अधिकारी के कार्यालय के बाहर की क्यों न हो। शौचालय में भी पान की पीक व गंदगी फैली हुई है।

महिला SO ने साफ कराई पीक

SO महिला के कार्यालय के सामने एक युवक पान मसाला खाकर गंदगी फैला रहा था। uttarpradesh.org के कैमरे को देखते ही महिला SO पुष्पा अवस्थी ने उस युवक से बोतल में पानी मंगाकर गंदगी को साफ कराई। साथ अपने कर्मचारियों को निर्देश दी कि, जो भी गंदगी फैलाए उससे तुरंत साफ कराएं।

बहरहाल, सरकार किसी की हो, कोई भी मुख्यमंत्री हो…जब तक अधिकारी ठीक नहीं होंगे, तब-तक व्यवस्था बेहतर नहीं हो सकती है।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

अयोध्या: कंचन भवन से शुरू हुई ‘हेरिटेज वॉक’

Divyang Dixit

PWD में 1200 करोड़ रुपए का घोटाला, SIT करेगी जांच!

Abhishek Tripathi

21 साल पुराने मामले में राज बब्बर के खिलाफ वारंट जारी

Sudhir Kumar