Home » मेरठ: मुस्लिम बनाते हैं शिव भक्तों के लिये कांवड़!
Uttar Pradesh

मेरठ: मुस्लिम बनाते हैं शिव भक्तों के लिये कांवड़!

muslims make kanwar for Shiva devotees in meerut

अनेकता में ही एकता है, समाज में इस सन्देश को देने वालो की अभी कमी नहीं है. जहा एक तरह देश के नेता समाज में जातिवाद का जहर घोलकर लोगों को लड़वाने में लगे है. जिससे वो अपनी राजनीतिक रोटियां लोगो के खून की आंच पर सेंक साकें. ऐसे में गंगजी जमुनी तहजीब को बढ़ावा देने वालों की भी अभी देश में कोई कमी नहीं है.ऐसा ही एक मिसाल मेरठ में देखने को मिलती है. मेरठ में एक मोहल्ला है जिसमें ज़्यादातर लोग मुलिम हैं. अल्लाह पर यकीन और इस्लाम को मानने वाले ये लोग ऐसा काम करते है जो काम हिन्दू भाइयो के धर्म से जुड़ा हुआ है.

ये भी पढ़ें :भोले के भक्तों पर आतंक का साया!

बाप दादा के वक़्त से कर रहे हैं कांवड़ समंग्री बनने का काम-

  • मेरठ में एक मोहल्ला ऐसा है जिसमें ज़्यादातर लोग मुलिम हैं.
  • जो की अपने परिवार के साथ पिछले काफी सालो से कांवड़ की समंग्री बनने का काम कर रहे है.
  • इनका ये परिवार ही नहीं बल्कि इनके बाप दादा भी इस काम को करते रहे.

ये भी पढ़ें :उप-मुख्यमंत्री ने दिया विभागवार गड्ढामुक्त सड़कों का ब्यौरा!

  • देखा जाए तो इनको ये काम विरासत में मिला है.
  • कांवड़ यात्रा के आते ही इस मुस्लिम मोहल्ले के कई परिवार हिन्दू भाइयों के कावड़ लाने के लिए कावड़ बनाते है.
  • इन कावड़ को लेकर ही हिन्दू भाई जल लाते है.

ये भी पढ़ें :बड़े खुलासे करने वाले अफसरों का योगी सरकार ने किया तबादला!

  • बता दें कि इस मोहल्ले के कई परिवार अपना पालन पोषण इसी काम से करते है.
  • इनका कहना है कि जिस तरह हिन्दू भाइयो को कांवड़ लेकर पुण्य मिलता है उसी तरह इनको भी हिन्दू भाइयो के लिए कावड़ तैयार करने से सवाब मिलने का अहसास होता है.

इंसान से ही पड़ता है इंसान का काम-

  • इन परिवारों का कहना है कि कोई धर्म किसी को आपस में लड़ना नहीं सिखाता.
  • किसी का बुरा करना नहीं सिखाता.
  • ये तो चंद लोग हैं जो अपनी राजनीती की रोटियां सेंकने के लिए हमें आपस में लड़ते हैं.

ये भी पढ़ें:Interview: थानों में अच्छी सुनवाई पर रहेगा फोकस- SSP मेरठ!

  • इनका कहना है कि इंसान का काम इंसान से पड़ता है.
  • अगर सब धर्म जात में बट जाएंगे तो किसी का काम किसी से नहीं चलेगा.

महिलाएं बनती हैं शिव जी का त्रिशूल-

  • आपको बताते दे कि कांवड़ आते ही इनके बच्चे भी कांवड़ बनाने में लग जाते है.
  • इसके साथ ही इनकी महिलाएं भी शिव जी का त्रिशूल बनाती हैं.
  • इनके घर में प्रवेश करने के बाद ऐसा लगेगा ही नही कि ये मुस्लिम लोगों का घर है.
  • आप को इनका घर पूरी तरह कांवड़ की समंग्री से भरा हुआ मिलेगा.
  • गौरतलब हो कि सब जानते है कि ये मुस्लिम मोहल्ला कावड़ बनता है.
  • लेकिन इसमें एक अच्छी बात ये है कि इसका कोई भी विरोध नहीं करता है.
  • ये लोग पुश्तों से इस काम को करते आ रहे है.
  • बता दें की इस बार कांवड़ यात्रा की शुरुआत 9 जुलाई से होगी.
  • ऐसे में ये लोग जोरशोर से कावड़ तैयार करने में जुटे हुए हैं.

ये भी पढ़ें :SSP मंजिल सैनी ने संभाला मेरठ का चार्ज!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

लिम्का बुक में दर्ज हुआ जेकेपी का सेल्‍फ डिफेंस प्रोग्राम!

Vasundhra

अतीक ने अपने समर्थकों की ‘खासियत’ अखबार में छपवाई!

Dhirendra Singh

3 महीने में 11वीं कैबिनेट मीटिंग की अध्यक्षता करेंगे CM योगी!

Divyang Dixit