Home » दलितों के हित के लिए पूरी जिंदगी समर्पित की- मायावती
Uttar Pradesh

दलितों के हित के लिए पूरी जिंदगी समर्पित की- मायावती

mayawati addressed press conference

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो और राज्यसभा सांसद मायावती ने मंगलवार 18 जुलाई को अपने सांसद पद से इस्तीफ़ा दे दिया है, गौरतलब है कि, मानसून सत्र की राज्यसभा सदन की कार्यवाही में उन्हें न बोलने दिए जाने की बात कहकर सदन से वॉक आउट किया था। जिसके बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपना इस्तीफ़ा सौंप दिया। इस्तीफ़ा दिए जाने के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस(mayawati addressed press conference) को संबोधित किया। अपने संबोधन में बसपा सुप्रीमो मायावती ने इस्तीफ़ा दिए जाने के कारणों पर बात की।

इस्तीफे के बाद बसपा सुप्रीमो मायावती के संबोधन के मुख्य अंश(mayawati addressed press conference):

सदन में मुझे बोलने नहीं दिया गया(mayawati addressed press conference):

  • सभापति को लिखित में इस्तीफे की चिट्ठी दी।
  • सदन में मुझे बोलने नहीं दिया गया।
  • शोर शराबे के बीच बात रखने की कोशिश की।
  • बीजेपी की मानसिकता जातिवादी।
  • सभापति ने घंटी बजाकर मुझे ही चुप करा दिया।
  • शोर रोकने के बजाए मुझे ही चुप करा दिया।
  • मुझे अपनी बात कहने से रोका गया।
  • सहारनपुर कांड पर मुझे बोलने नहीं दिया गया।
  • दलित समाज पर उत्पीड़न की बात नहीं कहने दी।
  • मुझे दुख के साथ इस्तीफा देने का फैसला लेना पड़ा।
  • दलितों के हित के लिए पूरी जिंदगी समर्पित की है।

मायावती ने बीजेपी पर बोला था हमला(mayawati addressed press conference):

  • बीजेपी सरकार में दलितों, गरीबों का उत्पीड़न बढ़ा है।
  • माया ने सहारनपुर का मुद्दा राज्यसभा में उठाया।
  • सहारनपुर की घटना सोची समझी साजिश का नतीजा थी।
  • सहारनपुर में एक दलित को फंसाया गया है।
  • दलितों को जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी गई।
  • मायावती ने योगी सरकार पर हमला बोला
  • यूपी में दलितों पर अत्याचार हो रहा है।
  • कांग्रेस ने भी राज्यसभा से वॉकआउट किया है।
  • कांग्रेस ने भी बीजेपी सरकार पर हमला बोला।

नहीं बोलने दिया गया तो दूंगी इस्तीफा(mayawati addressed press conference):

  • उन्होंने कहा कि मैं राज्यसभा से इस्तीफा दूंगी।
  • दलितों के जले हुए घर देखे और उन्हें मदद की।
  • केंद्र ने दोषियों पर कार्रवाई नहीं की है।
  • अपने लोगों की मदद करने से रोका जा रहा है।
  • यूपी में महागुंडा राज चल रहा है।
  • यूपी में कोई भी समाज सुरक्षित नहीं है।
  • BJP ने ईवीएम की मदद से चुनाव जीता है।
  • सदन में सत्ता पक्ष के लोगों ने बोलने नहीं दिया जा रहा है।
  • मैं चुनाव लड़ने से डरती नहीं हूं।
  • गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी सदन की कार्रवाही में बाधा डाल रही है।
  • गुलाम नबी आजाद ने बीजेपी पर साधा निशाना है।
  • सदन में विपक्ष चर्चा करना चाहता है।
  • उन्होंने कहा कि बीजेपी सदन में चर्चा से भाग रही है।

ये भी पढ़ें: GST और बकाये के चलते बंद हुई सरकारी अस्पताल में दवा की सप्लाई!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

RTI: गृह मंत्रालय में नहीं आईपीएस अफसरों पर मुकदमों की सूचना!

Sudhir Kumar

गड्ढा मुक्त नहीं बल्कि सड़क मुक्त है मेरठ का ये इलाका

Mohammad Zahid

लखनऊ ईदगाह में किया गया तिरंगा पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन!

Mohammad Zahid