Home » लविवि: अब कूलर और वाशिंग मशीन का भी अलग से होगा चार्ज!
Uttar Pradesh

लविवि: अब कूलर और वाशिंग मशीन का भी अलग से होगा चार्ज!

lucknow university

[nextpage title=”lucknow university” ]

लखनऊ विश्वविद्यालय ने नये सत्र से छात्रों पर आर्थिक बोझ डाल दिया है। लविवि प्रशासन ने बड़ा झटका देते हुए रेग्युलर कोर्स के छात्रों के छात्रावास की फीस में डेढ़ गुना जबकि सेल्फ फाइनेंस कोर्स के विद्यार्थियों के छात्रावास के आवंटन की फीस में करीब छह गुना वृद्धि कर दी है। लविवि ने इस साल से छात्रावास आवंटन की प्रक्रिया में एक नया कानून जोड़ दिया है। अब रेग्युलर कोर्स के और सेल्फ फाइनेंस कोर्स के विद्यार्थियों को अपने कोर्स मोड के हिसाब से फीस देनी होगी।

ये भी पढ़ें : सदन से विपक्ष का वॉक आउट!

बढ़ी फीस से परेशान हुए छात्र

  • सेल्फ फाइनेंस कोर्स वाले विद्यार्थियों को इस बार दोहरा झटका लगा है।
  • उन्हें बढ़ी हुई फीस के साथ हर छात्रावास आवंटन में सेल्फ फाइनेंस सिस्टम भी लागू हो गया है।
  • केवल दो छात्रावास प्रबंधन की छात्राओं व छात्रों के छात्रावास पूरी तरह से सेल्फ फाइनेंस मोड में संचालित होते आए है।
  • जो सेल्फ फाइनेंस कोर्स के विद्यार्थी बेहतर सुविधा लेना चाहते है।
  • वह अधिक फीस देकर इन दोनों छात्रावासों में कमरे आवंटित करा लेते थे।
  • इसके लिए लविवि उनसे दूसरे छात्रावास की अपेक्षा करीब तीन गुना अधिक फीस वसूलता था।
  • इसके अलावा, सेल्फ फाइनेंस कोर्स के विद्यार्थियों को रेग्युलर कोर्स के विद्यार्थियों के साथ समान्य छात्रावास आवंटित कर दिया जाता था।
  • उनसे वही फीस ली जाती जो रेग्युलर कोर्स के विद्यार्थियों से ली जाती थी।
  • कोई भी विद्यार्थी किसी भी छात्रावास में आवंटन करेगा तो उसे सेल्फ फाइनेंस कोर्स के तहत हर छात्रावास के लिए 39750 रुपए आवंटन फीस देना होगी।
  • डबल रूम के लिए 25350 रुपए फीस देनी होगी।
  • अभी  तक रेग्युलर कोर्स के विद्यार्थियों को छात्रावास आवंटन होने पर उन्हें रेग्युलर कोर्स के विद्यार्थियों के बराबर 6400  रुपए फीस देरी पड़ती थी।
  • जबकि प्रबंधन के छात्रावास में अभी तक 18 हजार 500 रुपए सालाना फीस पड़ती थी।
  • अभी तक सामान्य छात्रावास आवंटन 64  सौ रुपए में
  • पिछले सत्र तक रेग्युलर और सेल्फ फाइनेंस के विद्यार्थियों को सिंगल आवंटन होने पर 6400  रुपए सालाना फीस देनी पड़ती थी।
  • इसमें छात्रावास की फीस 5400 और एक हजार कॉशन मनी होती थी।
  • डबल रूम के 5800  रुपए जिसमें 4800 हॉस्टल फीस और एक हजार रुपए कॉशन मनी जमा होती थी।
  • विद्यार्थियों से 33 रुपए पर भोजन के हिसाब से भुगतान होता था जिसे विद्यार्थी रोज व मासिक जमा करा सकते थे।

ये भी पढ़ें : लखनऊ विश्वविद्यालय ने दुबई की कंपनी BMRC से MoU किया साइन!

[/nextpage]

[nextpage title=”lucknow university” ]

सेल्फ फाइनेंस कोर्स के लिए बढ़ी छात्रावास फीस

  • सिंगल रूम किराया  36000
  • कॉशन मनी   2000
  • डबल रूम 21600
  • कॉशन मनी 2000
  • मैनटेंनेंश फीस 600
  • कल्चरल फीस 325
  • स्पोट्र्स फीस 150
  • मैगजीन और पेपर फीस 250
  • इलेक्ट्रिक बिल 175
  • वाशिंग मशीन उपलब्ध होने पर 250
  • एयर कूलर फीस मशीन उपलब्ध होने पर 5000

 रेग्युलर कोर्स के लिए बढ़ी छात्रावास फीस

  • सिंगल रूम किराया 6000
  • कॉशन मनी 2000
  • डबल रूम 5200
  • कॉशन मनी 2000
  • मैनटेंनेंश फीस 600
  • कल्चरल फीस 250
  • स्पोट्र्स फीस 100
  • मैगजीन और पेपर फीस 250
  • इलेक्ट्रिक बिल 200
  • वाशिंग मशीन उपलब्ध होने पर 250
  • एयर कूलर फीस मशीन उपलब्ध होने पर 5000

ये भी पढ़ें : एलयू प्रशासन ने जज की बेटी की काउंसलिंग में किया खेल!

[/nextpage]

[nextpage title=”lucknow university” ]

मौजूदा छात्रावास फीस
  • सिंगल रूम 5400
  • कॉशन मनी 1000
  • डबल रूम 4800
  • कॉशन मनी 1000
  • डाइट 33 रुपए पर डाइट
प्रबंधन छात्रावास की फीस करीब ढाई गुना बढ़ी
  • प्रबंधन बालिका छात्रावास व प्रबंधन बालक छात्रावास में पिछले साल तक 16650 रुपए तक फीस ली जाती थी।
  • वह इस बार बढ़ाकर सिंगल रूम की 39750 रुपए कर दी गई है।
  • और डबल रूम की 25350रूपए कर दी गई है।
  • इसमें भी अधिकतम ढाई गुने और न्यूनतम डेढ़ गुने तक की वृद्धि की गई है।
  • लविवि प्रवक्ता प्रो. एनके पांडेय का कहना है कि छात्रावास फीस बढ़ाना हमारी मजबूरी है।
  • लविवि में सालाना 120 करोड़ रुपये सिर्फ वेतन मद में खर्च होते हैं।
  • और राज्य सरकार की ओर से 48 करोड़ रुपये की मदद मिलती है।
  • ऐसे में खर्च चलाना ही मुश्किल हो रहा है।
  • नए संसाधन जुटाने के लिए बड़ी कठिनाई हो रही है।
  • फीस बढ़ोतरी ही एक मात्र विकल्प है।
  • आपको बता दें कि लविवि के छात्रावास में अभी न तो वाशिंग मशीन है न ही एयर कूलर कमरों में लगे हैं।
  • लेकिन इन दोनों की फीस जोड़ दी गई है। फीस मद में इसे उपलब्धता होने पर वसूलने जाने का जिक्र है।
  • छात्रावास में एयर कूलर के 5000 रुपये व वाशिंग मशीन के 250 रुपये देने होंगे।

[/nextpage]

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

एसडीएम को गृह सचिव के नाम पर जान से मारने की मिली धमकी!

Dhirendra Singh

कल होने वाले चुनाव के चलते आज मनाया गया छत्रपति शिवाजी का जन्मदिन!

Mohammad Zahid