Home » कब्जेदारी को आपस में भिड़े भाकियू कार्यकर्ता-अधिवक्ता!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

कब्जेदारी को आपस में भिड़े भाकियू कार्यकर्ता-अधिवक्ता!

clash in jankipuram thana lucknow

राजधानी के जानकीपुरम इलाके में स्थित एक प्लॉट (land grabbing) पर कब्जे को लेकर बुधवार शाम को बवाल शुरू हो गया। कब्जेदारी को लेकर भारतीय किसान यूनियन (सावित्री) गुट व अधिवक्ता आमने सामने आ गए। इस दौरान भाकियू गुट द्वारा जमकर तांडव किया गया और विरोध प्रदर्शन किया गया।

शिप्रा बनी अंडर-15 बालिका वर्ग की शतरंज चैंपियन!

  • वहीं दूसरे पक्ष ने भाकियू के एक पक्ष पर लूटपाट तोड़फोड़ कब्जे का प्रयास व मारपीट का आरोप लगाया है।
  • इंस्पेक्टर जानकीपुरम अरुण मिश्रा ने बताया कि मामला कोर्ट में है और फ़िलहाल विवादित है और बाकी आरोपी की जांच की जा रही हैं।

प्रवेश प्रक्रिया में हो रही धांधली, रालोद ने सरकार को घेरा!

पांच थानों की पुलिस ने पाया बवाल पर काबू

  • जानकीपुरम् के विशिष्ट पुरम में एक मकान है।
  • मकान पर नारेन्द्र मिश्र अपनी दावेदारी ठोंकते है।
  • नारेन्द्र ने आरोप लगाया कि बाराबंकी निवासी व भाकियू (सावित्री) का पदाधिकारी राजाराम अपने दो दर्जन से ज्यादा साथियो संग उनके मकान पर कब्जे की नीयत से पहुंच गया।
  • इस दौरान वहां पहुनचे दबंगो ने घर में घुसकर तोड़फोड़ की।
  • साथ ही मोबाइल चेन व उनकी पत्नी प्रमिला की बाली लूटते हुए उन्हें व उनकी पत्नी व बेटे को बुरी तरह से पीट दिया।

विधान भवन पर नगर निगम का 1.48 करोड़ कर्ज बकाया!

  • आरोप है कि दबंगों ने घर से बाहर निकालकर ताला जड़ दिया और फिर तमंचा लहराते हुए फरार हो गए।
  • उधर भाकियू ने मकान पर पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया।
  • थोड़ी ही देर में भाकियू अध्यक्ष सावित्री सिंह समेत सैकड़ों सदस्य मौके पर पहुंच गए और प्रदर्शन ने आग (land grabbing) का रूप ले लिया।
  • प्रदर्शन की सूचना पाकर जानकीपुरम, विकास नगर, माड़ियांव, इंदिरानगर और गुडंबा समेत पांच थानो की फोर्स व एसीजेएम 7 अभिनव शरण श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे।
  • घंटो बाद प्रदर्शन शांत हो सका। एसीजेएम अभिनव ने दोनों पक्षो को एक अगस्त को सुनवाई के लिए बुलाया है।

नरेश अग्रवाल के गढ़ में भाजयुमो ने फूंका पुतला!

क्या है पूरा मामला?

  • दरसल विशिष्ट पुरम स्थित इस प्लॉट को लेकर दोनों पक्षो ने एक दूसरे पर कब्जेदारी का आरोप लगाया।
  • भाकियू पक्ष से पदाधिकारी व भाकियू सदस्य राजाराम का आरोप हैं कि उक्त मकान की रजिस्ट्री उसने किसान पूरण सिंह से कराई थी।
  • जिसके बाद दाखिल खारिज भी करवा ली थी।

स्याह तस्वीर पेश कर रहा बाल मजदूरी का ये वीडियो!

  • उक्त मकान पर नरेंद्र मिश्रा ने रातों रात कब्जा कर लिया व बनवा भी डाला।
  • उधर नारेन्द्र ने बताया कि उसने यह प्लॉट एक साइट डेवलपर से लिया था जिसकी उसने रजिस्ट्री भी करा ली लेकिन भाकियू पदाधिकारी राजाराम उक्त प्लॉट को कब्जाना चाहता है।
  • नारेन्द्र ने बताया कि यह प्लाट (land grabbing) विकास दीक्षित व संजीव दीक्षित भाइयों ने अपने नौकर छत्रपाल और सकटू के नाम दो महीने बाद कर दी थी।

रेप के आरोपी को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

2 गुल्लक फोड़कर आया दूल्हे का सेहरा, उधार रुपये लेकर हुई शादी!

Sudhir Kumar

पीड़ितों ने बताया ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत: राहुल गाँधी!

Kamal Tiwari

सीएम योगी एसिड अटैक पीड़िता से मिले, दी 1 लाख की आर्थिक मदद!

Kamal Tiwari