Home » पिटाई के डर से स्कूल नहीं जा रही मासूम छात्रा!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

पिटाई के डर से स्कूल नहीं जा रही मासूम छात्रा!

teacher beats student

कानपुर के बर्रा स्थित सरदार पटेल इंटर कालेज (sardar Patel Inter College) में पढ़ने वाली यूकेजी की छात्रा का आरोप है कि पढ़ाई में कमजोर होने के चलते शिक्षिका अनिता मिश्रा ने उसकी पिटाई कर दी। 4 साल की मासूम ने बताया कि पूर्व में भी शिक्षिका उसकी पिटाई कर चुकी है।

स्याह तस्वीर पेश कर रहा बाल मजदूरी का ये वीडियो!

  • इस मामले में बुधवार को बच्ची की मां स्कूल प्रशासन से शिकायत करने गयी तो उल्टा स्कूल वालो ने मां से बदसलूकी कर भगा दिया।
  • जिसके बाद पीड़िता पहले किदवई नगर थाने गए अपनी शिकायत दर्ज कराने जहां से उन्हें बर्रा थाना भेज दिया।

रेप के आरोपी को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला!

क्या है पूरा मामला?

  • नौबस्ता के डब्ल्यू-ब्लाक निवासी दिनेश की 2 बेटियां हैं।
  • जो दोनों ही सरदार पटेल में पढ़ती है।
  • छोटी बेटी ने बताया कि उसको अनीता मिश्रा टीचर ने डंडे से मारा।
  • इसके बाद पीड़ित स्कूल गए जहां उनकी बात सुन बगैर भगा दिया गया।

मोदी सरकार के खिलाफ भाजपा नेता ने खोला मोर्चा!

  • पीड़िता बच्ची इस घटना से इतनी डरी ओर सहमी है कि वो अब स्कूल जाने को तैयार नहीं।
  • वहीं परिजनों ने भी साफ कर दिया कि वो उसे सरदार पटेल नही भेजेंगे और स्कूल की टीचर को हर हाल में सजा दिलाएंगे।
  • जिसके लिए बर्रा थाने में इस मामले की तहरीर देंगे।

बीबीडी यूनिवर्सिटी: पानी के टैंक में डूबकर युवक की मौत!

  • इस पूरे मामले पर जब हमने स्कूल के प्राचार्य से बात की तो उन्होंने बताया कि बच्ची पढ़ने में कमजोर है और वो लिख नहीं पाती।
  • टीचर के पीटने के आरोप पर बताया कि अगर लिखित शिकायत आयी तो कालेज की जांच टीम जांच कर कार्रवाई की जायेगी।
  • बच्ची का मां ने (sardar Patel Inter College) बताया उनके पति का नाम दिनेश कुमार एवं स्कूल के प्राचार्य शैलेंद्र पटेल हैं।

whatsapp के जरिये लापता महिला को पहुंचाया घर!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

सरकार की चौथी वर्षगाँठ पर प्रदेश-वासियों को मिलेंगे कई नायाब तोहफे!

Kumar

आईजी गोरखपुर की खास पहल, गोद लिए विद्यालय में पढ़ाई विज्ञान-गणित!

Sudhir Kumar

RTI : 8 साल में मात्र 10 IAS पर विभागीय कार्यवाही!

Sudhir Kumar