Home » गरीब एड्स पीड़ित पति-पत्नी ने दी जान, 8 माह का बच्चा हुआ अनाथ!
Murder Uttar Pradesh

गरीब एड्स पीड़ित पति-पत्नी ने दी जान, 8 माह का बच्चा हुआ अनाथ!

husband wife commits suicide in madiyaon

गरीबी मनुष्य को इस कदर तोड़ देती है कि इसकी बानगी राजधानी के मड़ियांव इलाके में देखने को मिली।

  • यहां एड्स की बीमारी से ग्रसित होकर पति-पत्नी ने फांसी लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली।
  • इस दुःखद घटना से 8 माह का मासूम बच्चा अनाथ हो गया।
  • बच्चे के चीखने की आवाज सुनकर वाले दौड़े तो कमरे का नजारा देख उनके होश उड़ गए।
  • इसकी घरवालों ने सूचना पुलिस को दी।
  • सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पति-पत्नी की लटकी मिली लाश

  • जानकारी के मुताबिक, मड़ियांव थाना क्षेत्र के प्रीती नगर इलाके में रहने वाले दीनाराम ने बताया कि वह घर में अपनी पत्नी उर्मिला और बेटे प्रकाश (35) संग बहू रेनू (30) के साथ रहते हैं।
  • सोमवार तड़के सुबह लगभग 2 बजे प्रकाश का आठ माह का मासूम दूध के लिए रोया तो दीनाराम बेटे प्रकाश के कमरे में दूध लेने के लिए गए।
  • बेटे के कमरे में जाते ही उनके होश उड़ गए।
  • कमरे में प्रकाश और रेनू दोनों साडी के सहारे एक साथ पंखे से लटके हुए थे।
  • नजारा देखकर उनकी चीख निकल पड़ी और शोरगुल सुनकर मोहल्ले वालों का जमावड़ा भी लग गया।
  • घटना की जानकारी पाकर इंस्पेक्टर मड़ियांव नागेश मिश्रा समेत फोर्स पहुंची और शवों का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

अनाथ हो गया 8 वर्षीय मासूम

  • मृतक के पिता दीनाराम ने बताया कि उनके बेटे प्रकाश का ईलाज वो करवा रहे थे।
  • बीते चार माह पूर्व एक जांच में सामने आया की प्रकाश एचआईवी से ग्रस्त है।
  • ये जानते ही परिवार पर पहाड़ टूट पड़ा।
  • बीते शनिवार को चिकित्सक की सलाह पर बहू रेनू ने भी चेक करवाया तो उसे भी एचआईवी पॉजिटिव निकला।
  • दो दिन से परिवार में ग़मगीन माहौल था कि सोमवार तड़के सुबह दोनों ने फांसी लगा ली।
  • बताया जा रहा है कि मृतक दंपत्ति की शादी लगभग 5 वर्ष पूर्व हुई थी।
  • बहुत दिनों तक दोनों की कोई संतान नही हुई।
  • आठ माह पूर्व दोनों ने एक बच्चे को जन्म दिया।
  • अब एक साथ दोनों के फांसी लगाने से आठ माह का सौरभ अनाथ हो गया।
  • मासूम के सर से मां-बाप का साया उठा तो पड़ोसियों की आंखों में भी नमी आ गई।

तीन माह पूर्व ही दंपत्ति आये थे शहर

  • दीनाराम ने बताया कि मृतक प्रकाश के अलावा उनका एक बेटा रमेश और एक बेटी भी है।
  • बेटी की वह शादी कर चुके है। बड़ा बेटा रमेश घर से अलग महानगर इलाके में रहता है।
  • दीनाराम ने बताया की रमेश की पत्नी अक्सर परिवार में प्रॉपर्टी के बंटवारे को लेकर विवाद उत्पन्न करती है इसलिए रमेश परिवार से अलग हो गया था और पत्नी संग महानगर इलाके में रहने लगा।
  • दीनाराम ने बताया कि उनका मृत बेटा रमेश दिल्ली में एक प्राइवेट कंपनी में काम करता था।
  • दिल्ली से फिर वह उत्तराखंड में जाकर वह नौकरी करने लगा था।
  • लगभग तीन माह पूर्व दंपत्ति लखनऊ आ गए और मां-बाप के साथ रहने लगे थे।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

बच्चे को गोद में लेकर ई-रिक्शा क्यों चला रहा पिता!

Sudhir Kumar

…तो ओवैसी से डर गई है सपा तभी नहीं मिली रैलियों की परमिशन!

Sudhir Kumar

जनेश्‍वर पार्क बनाने वाले अखिलेश को नहीं आयोजन का अधिकार

Vasundhra