Home » किरकिरी के चलते गृह विभाग का आगरा FSL की रिपोर्ट से इंकार!
Uttar Pradesh

किरकिरी के चलते गृह विभाग का आगरा FSL की रिपोर्ट से इंकार!

home department denies agra FSL

उत्तर प्रदेश की विधानसभा में बीते 12 जुलाई को मानसून सत्र की कार्यवाही के पहले नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी की टेबल के नीचे विस्फोटक पदार्थ मिला था, जिसके बाद आतंकी हमले की साजिश के चलते यूपी विधानसभा की सुरक्षा बढ़ा दी गयी थी। साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अनुरोध के बाद यूपी विधानसभा अध्यक्ष ह्रदय नारायण दीक्षित ने मामले की जाँच NIA से कराने के आदेश दिए थे। वहीँ विस्फोटक पदार्थ को जांच के लिए आगरा की फॉरेंसिक लैब(agra forensic report) में भेजा गया था। आगरा लैब में सफ़ेद पाउडर की जांच के बाद सनसनीखेज खुलासा किया है। वहीँ अपनी नाकामी को छुपाने के लिए यूपी प्रशासन ने आगरा की लैब रिपोर्ट को मानने से ही इंकार कर दिया है।

गृह विभाग लखनऊ लैब की रिपोर्ट को मान रहा है सही(home department denies agra FSL):

  • आगरा की फॉरेंसिक लैब ने विधानसभा में मिले सफ़ेद पाउडर को PETN नहीं बताया है।
  • वहीँ गृह विभाग आगरा लैब रिपोर्ट को सिरे से ख़ारिज कर रहा है।
  • साथ ही गृह विभाग राजधानी लखनऊ स्थित लैब की रिपोर्ट को सही मान रहा है।

विधानसभा में विस्फोटक मामले में फंसा पेंच(home department denies agra FSL):

  • सूबे का गृह विभाग मीडिया में चल रही खबरों का भी लगातार खंडन कर रहा है।
  • साथ ही गृह विभाग का दावा है कि, कोई भी सैंपल आगरा की फॉरेंसिक लैब में नहीं भेजा गया है।
  • गृह विभाग ने कहा है कि, लखनऊ लैब की जांच में PETN ही था।
  • साथ ही गृह विभाग विधानसभा में मिले सफ़ेद पाउडर को PETN ही मान रहा है।

रिपोर्ट:

home department denies agra FSL

सफ़ेद पाउडर नहीं है PETN या कोई अन्य विस्फोटक(home department denies agra FSL):

  • यूपी विधानसभा में 12 जुलाई को विस्फोटक पदार्थ मिलने की बात कही गयी थी।
  • जिसके बाद विधानसभा की सुरक्षा को बढ़ाते हुए मामले की जाँच NIA से कराने के आदेश दिए गए थे।
  • साथ ही विस्फोटक को आगरा स्थित फॉरेंसिक लैब में परीक्षण के लिए भेजा गया था।
  • जिसके बाद आगरा की लैब ने यह पुष्टि की है कि, यूपी विधानसभा में मिला पाउडर विस्फोटक नहीं है।
  • गौरतलब है कि, शुरूआती परीक्षणों के बाद पाउडर को PETN विस्फोटक बताया जा रहा था।

आगरा की लैब ने भेजी रिपोर्ट(home department denies agra FSL):

  • यूपी विधानसभा में मिले विस्फोटक के परीक्षण के लिए उसे आगरा स्थित फॉरेंसिक लैब में भेजा गया था।
  • जिसकी रिपोर्ट आगरा लैब ने भेज दी है।
  • रिपोर्ट में पाउडर के विस्फोटक होने को सिरे से ख़ारिज किया गया है।
  • पाउडर पर परीक्षण का काम लैब के 4 वरिष्ठ वैज्ञानिकों की टीम ने किया था।
  • लैब के डिप्टी डायरेक्टर ए.के. मित्तल ने जांच की अगुवाई की थी।

क्या कहती है रिपोर्ट(home department denies agra FSL):

  • विस्फोटक मामले में आगरा की फॉरेंसिक लैब की रिपोर्ट भेज दी है।
  • रिपोर्ट में कहा गया है कि, पाउडर में किसी भी भी विस्फोटक के कण नहीं मिले हैं।
  • वहीँ जांच टीम में विस्फोटक जांच के एक्सपर्ट भी शामिल थे।
  • UPATS ने जांच के नमूने आगरा और हैदराबाद भेजे थे।

सरकार की किरकिरी के चलते प्रशासन कर रहा है ख़ारिज(home department denies agra FSL):

  • यूपी विधानसभा में विस्फोटक मिलने की खबर पर आगरा की फॉरेंसिक लैब ने लगाम लगा दी है।
  • आगरा लैब के अनुसार, सफ़ेद पाउडर PETN या कोई अन्य विस्फोटक नहीं है।
  • वहीँ उत्तर प्रदेश प्रशासन रिपोर्ट की बात को सिरे से ख़ारिज कर रहा है।
  • प्रशासन के अनुसार उन्हें ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं सौंपी गयी है।

ये भी पढ़ें: विस्फोटक मामले में आगरा फॉरेंसिक का ‘सनसनीखेज खुलासा’!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

17वीं विधानसभा के सत्र का चौथा दिन, कानून-व्यवस्था पर होगी चर्चा!

Divyang Dixit

अनुसूचित जाति सूची में संशोधन पर HC ने आयोग से माँगा जवाब

Kamal Tiwari

कहाँ है मथुरा कांड के मास्टरमाइंड की DNA रिपोर्ट?

Kamal Tiwari