Home » सरकारी वेबसाइट हैक करने के आरोप में सीए गिरफ्तार!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

सरकारी वेबसाइट हैक करने के आरोप में सीए गिरफ्तार!

website hacker arrested in lucknow

राजधानी की साइबर क्राइम सेल हजरतगंज ने सरकारी वेबसाइटों को हैक करने ने आरोप में एक चार्टेड एकाउंटेंट को गिरफ्तार करने का दावा किया है। पकड़े गए आरोपी के खिलाफ हुसैनगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

सिंचाई विभाग की वेबसाइट की थी हैक

  • साइबर क्राइम सेल हजरतगंज के प्रभारी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि पिछली 3 मई 2017 को प्रकाश कुमार सिंह अभियन्ता आहरण एवं वितरण अधिकारी सिंचाई विभाग उ0प्र0 द्वारा साइबर काइम सेल को सूचना दी गई कि सिंचाई विभाग उ0प्र0 की सरकारी वेबसाइट जिससे सिंचाई विभाग द्वारा नॉन सेलरी एकाउन्ट बिल (फार्म- 26) के द्वारा टीडीएस का भुगतान किया जाता है, वह वेबसाइट किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा हैक कर ली गई है।
  • इस संबंध में अभियोग सं0-119/2017 धारा 66 आईटी एक्ट थाना हुसैनगंज में पंजीकृत था।
  • इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय के आदेशानुसार पुलिस अधीक्षक नगर (पूर्वी) व क्षेत्राधिकारी हजरतगंज के निर्देशन में एक प्रार्थना पत्र वास्ते जांच साइबर काइम सेल हजरतगंज लखनऊ को प्राप्त हुआ।
  • जिसकी जांच से ज्ञात हुआ कि उक्त प्रकरण में जिसकी जांच साइबर क्राइम सेल द्वारा की गई, तदोपरान्त उक्त घटना से सम्बन्धित अभियुक्त संजय फ्रेडरिक सिंह चर्चाटड एकाउण्टेंट पुत्र विक्टर सिंह निवासी 3 जहूर बक्स चर्च लालबाग को थाना प्रभारी हुसैनगंज अखिलेश पांडेय, साइबर क्राइम सेल के उप निरीक्षक विजयवीर सिंह सिरोही, कांटेबल फिरोज बदर, शाइस्ता खान ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।
  • आरोपी के खिलाफ हुसैनगंज कोतवाली में अभियोग सं0-119/2017 धारा 66 आईटी एक्ट पंजीकृत कराया गया है। जिसकी विवेचना थाना प्रभारी हुसैनगंज द्वारा की जा रही है।

घटना करने का तरीका

  • सिंचाई विभाग उ0प्र0 की tdscpc.gov.in को हैक करने वाले चार्टड एकाउन्टेन्ट अभियुक्त ने पूछताछ के दौरान बताया वह NSDL KARVY से टोकन नं0 प्राप्त कर tds फाइल करने हेतु जब लॉगइन किया गया तो साइट द्वारा काफेंमेशन हेतु प्रीवीअस tds details जो अभियुक्त को पहले से पता थी क्योकि इससे पूर्व अभियुक्म सी0ए0 संजय फ्रेडरिक सिंह ही इस टी0डी0एस0 को फाइल करता था।
  • साइट पर डिटेल फुलफिल करते ही साइट ओपेन हेतु मो0 नं0 मांगा गया जो अभियुक्त द्वारा अपना मो0 नं0 डालकर लॉगइन कर साइट का पासवर्ड रीसेट कर दिया गया जिसके परिणाम स्वरुप वादी द्वारा साइट लॉगइन करने पर साइट ओपेन नही हुई।
  • अभियुक्त द्वारा यह आपराधिक कृत्य अपना सर्विस टैक्स में हेरा-फेरी करने हेतु किया गया।
  • पुलिस ने बताया कि अभियुक्त के कब्जे से एक मोबाइल फोन बरामद हुआ है।

इससे पहले 7 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी साइबर सेल

  • साइबर क्राइम सेल की टीम ने अभी पिछली 9 मई को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कैनोपी लगाकर कैशलेश ट्रांजेक्शन के बहाने स्वैप कराकर एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर लोगों की गाढ़ी कमाई का करोड़ों रुपये उनके बैंक खाते से उड़ाने वाले अंतर्राज्यीय गैंग का भांडा फोड़ करते हुए साइबर सेल हजरतगंज ने गिरोह के 7 सदस्यों को गिरफ्तार किया था।
  • पकड़े गए आरोपी क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड की क्लोनिंग करके रकम उड़ाते थे।
  • पुलिस टीम ने इन आरोपियों के पास को कार्ड क्लोनिंग के लिए प्रयोग की जाने वाली भारी मात्रा में सामग्री बरामद की थी।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

अखिलेश को लगा बड़ा झटका, दिग्गज नेता हुआ बसपा में शामिल

Shashank

प्रदेश के 27 लाख लोगों 2019 तक आवास देने की सरकार की तैयारी-CM योगी

Mohammad Zahid

फर्रुखाबाद: भाजपा नेता के परिवार पर जानलेवा हमला!

Divyang Dixit