Home » लंदन में साईकिल चला रहे अखिलेश की फोटो वॉयरल!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

लंदन में साईकिल चला रहे अखिलेश की फोटो वॉयरल!

[nextpage title=”akhilesh” ]

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (akhilesh yadav cycling) लंदन में भी साईकिल की सवारी कर रहे हैं। अरे! यह सच है? जी हां अखिलेश की एक फोटो सोशल मीडिया पर खूब शेयर हो रही है। इसमें अखिलेश लंदन में साईकिल की सवारी एक गार्डेन में करते दिख रहे हैं।

अगले पेज पर पढ़िए खास खबर:

[/nextpage]

[nextpage title=”akhilesh” ]

परिवार के साथ छुट्टी मानने गए हैं अखिलेश

घपलेबाज के जाते ही खुलने लगी घोटालों की पोटली!

  • बता दें कि अखिलेश यादव को लंदन घूमने का शौक है।
  • जब वह छुट्टियां मनाने जाते हैं तो उनकी पहली पसंद लंदन ही है।
  • पिछले साल भी जुलाई के महीने में अखलेश अपने परिवार के साथ लंदन गए थे।
  • तब वह अपने बेटे अर्जुन के साथ फुटबॉल खेलते नजर आये थे।
  • तब भी उनकी एक फोटो सोशल मीडिया पर खूब वॉयरल हुई थी।

  • गौरतलब है कि फुटबॉल अखिलेश का पसंदीदा खेल है।
  • फुटबॉल खेलते वक्त ही अखिलेश की नाक टेढ़ी हुई थी।
  • यह बात पिछले दिनों अखिलेश यादव ने खुद स्वीकार की थी।
  • इन दिनों (akhilesh yadav cycling) अखिलेश अपनी पत्नी डिम्पल यादव, बेटे अर्जुन यादव, बेटी अदिति यादव और टीना यादव के साथ लंदन में छुट्टियां मना रहे हैं।

अगले पेज पर पढ़िए अखिलेश डिम्पल की लव स्टोरी:

[/nextpage]

[nextpage title=”akhilesh” ]

एक फोन पर घर लौटे थे डिंपल के साथ!

akhilesh yadav dimple yadav

इस समय अखिलेश यादव प्रदेश के युवाओं के दिलों पर राज कर रहे हैं। सांसद डिंपल यादव भी युवाओं की पसंद बनी हुई हैं। अखिलेश पिछले दिनों एक कार्यक्रम में खुद मान चुके हैं कि जब से उनकी जिंदगी में डिंपल आई हैं इसके बाद से उनकी किस्मत बदल गई है।

सपा के प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा सरकार पर बोला हमला!

 

‘रब ने बना दी जोड़ी’

  • जी हां डिंपल अखिलेश की जोड़ी कुछ खास ही है। आप की जानकारी के लिए बता दें कि डिंपल यादव का जन्म 1978 में हुआ था।
  • डिंपल के पिता एससी रावत आर्मी में कर्नल हैं।
  • वह परिवार के सहित उत्तराखंड के ऊधमसिंहनगर में रहते हैं।
  • डिंपल ने पुणे से इंटर पास करने के बाद लखनऊ विवि में दाखिला लिया।
  • उस समय 21 साल के अखिलेश लंदन में पढ़ाई कर रहे थे।
  • डिंपल उस समय 17 साल की थीं।
  • इस दौरान दोनों की मुलाकातें लखनऊ विवि में एक कार्यक्रम के दौरान हुईं।
  • फिर यहीं से दोनों की लव स्टोरी शुरू हो गई।
  • धीरे-धीरे मुलाकातों का दौर चला और प्यार परवान चढ़ता चला गया।
  • इसके बाद दोनों शादी करने को राजी हो गए लेकिन उनकी इस बात से पिता मुलायम कतई राजी नहीं थे।

हिम्मत करके बताई थी दादी को दिल की बात

  • लोगों का कहना है कि एक बार मुलायम ने अखिलेश से पूछा कि शादी कब करोगे? तो अखिलेश यादव को शर्म आ गई।
  • उन्होंने नजरें नीचे झुका लीं तो पिता ने कहा कि लालू प्रसाद यादव की लड़की से तुम्हारी शादी के लिए बात चल रही है।
  • यह सुनकर अखिलेश चक्कर में पड़ गए।
  • पहले तो वह कुछ बोल नहीं पा रहे थे फिर उन्होंने हिम्मत करके अपनी दादी को दिल की बात बताई।
  • उस समय अखिलेश की दादी बीमार थीं लेकिन उन्होंने अखिलेश के दिल की बात को समझ लिया।
  • अखिलेश यादव जाति के हैं जबकि डिंपल राजपूत घराने की होने के कारण मुलायम को यह रिश्ता एक दम ना पसंद था।
  • लेकिन अखिलेश अपनी जिद पर अड़े थे, काफी दिन बाद आखिर बेटे की जिद को पिता ने स्वीकार किया और अखिलेश की शादी डिम्पल से 24 नवंबर 1999 को कर दी।

वीडियो: पति के साथ प्रेमिका ‘ये’ करते मिली तो पत्नी ने की धुनाई!

 

पिता के एक फोन ने बदली अखिलेश की तस्वीर

  • डिंपल से शादी करने के बाद अखिलेश यादव क्रिसमस के मौके पर दिसंबर महीने में लंदन घूमने के लिए जा रहे थे।
  • वह डिम्पल के साथ अपनी ससुराल देहरादून में शॉपिंग कर रहे थे।
  • तभी अखिलेश के पास मुलायम सिंह ने फोन कर दिया।
  • इस दौरान उनके पिता ने कहा कि घर लौट आओ।
  • पिता के मुंह से अचानक निकली यह बात सुनकर वह आश्चर्य में पड़ गए।
  • उन्होंने कारण पूछा तो मुलायम ने कहा कि कन्नौज से लोकसभा चुनाव लड़ना है।
  • अखिलेश ने यह बात अपनी पत्नी डिंपल को बताई।
  • यह बात सुनकर डिंपल ने अखिलेश को समझाया और कहा कि पिता जी जो कह रहे हैं वह करो।
  • इसके बाद अखिलेश कन्नौज से चुनाव जीत गए और सांसद बन गए।
  • यहीं से अखिलेश की नेतागिरी शुरू हुई और वह लगातार आगे बढ़ते गए।

दारोगा ने ली पीड़ित से रिश्वत, वीडियो हुआ वॉयरल!

मुसीबत में अखिलेश का साथ देती हैं डिम्पल

  • अखिलेश यादव वर्तमान समय में यूपी के पूर्व सीएम हैं।
  • वर्ष 2009 में फिरोजाबाद में सांसद के लिए उपचुनाव हुए।
  • यहां डिंपल यादव को खड़ा किया गया, इस समय उनके सामने राज बब्बर थे।
  • अखिलेश कन्नौज और फिरोजाबाद दोनों जगहों से खड़े हुए थे और चुनाव जीत गए थे।
  • वर्ष 2012 में अखिलेश यादव यूपी के मुख्यमंत्री बन गए।
  • इसलिए कन्नौज की सीट खाली हो गई।
  • यहां उपचुनाव में डिंपल खड़ी हुईं तो उनके खिलाफ कोई भी खड़ा नहीं हुआ।
  • इस दौरान डिंपल निर्विरोध सांसद चुनी गईं।

जानिए कैसे शुरू हुई अखिलेश की ‘नेतागिरी’

  • पिछले दिनों अखिलेश यादव ने साक्षात्कार के दौरान कहा था कि डिंपल उन्हें मुसीबतों में साथ देती हैं।
  • उनसे मुश्किलों में लड़ने की ताकत मिलती है।
  • राजनीति में आने के बाद डिंपल अपने संबोधन के दौरान पांच मिनट में ही फंस जाती थीं।
  • लोकसभा में डिंपल का दिसंबर 2016 को पहला गलतियों से भरा भाषण सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुआ था।
  • वर्ष 2017 में डिंपल का अंदाज बदल गया वह छोटे भाषण बहुत ही बेबाकी से देती हैं।
  • वह अखिलेश यादव सरकार (akhilesh yadav cycling) की उपलब्धियां भी अपनी चुनावी जनसभाओं में गिनाती नजर आ रही थीं।

डीएम आवास के सामने 1.60 लाख, कृष्णानगर में 5 लाख की लूट!

[/nextpage]

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

सपा के इस पूर्व मंत्री की गाड़ी से मिले 50 लाख के पुराने नोट

Shashank

उत्तर प्रदेश में जारी है बाढ़ का कहर, सैकड़ों गांव, लाखों लोग प्रभवित!

Divyang Dixit

जिला जेल में फंदे से लटकता मिला कैदी का शव, मचा हड़कंप!

Sudhir Kumar