Home » बच्ची के पिता ने सांसद से लगाई मदद की गुहार!
Uttar Pradesh

बच्ची के पिता ने सांसद से लगाई मदद की गुहार!

agra

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को जनता तक पहुँचाने की भले ही कोशिश क्यों न कर रही हो. लेकिन ज़मीनी हकीकत ये है की यहाँ महेंगे इलाज के चलते लोग खुद को बेंचने के लिए भी तैयार है. ताज़ा मामला यूपी के ताजनगरी आगरा का है जहाँ एक परिवार के लोग पोस्टर लेकर घूम रहे हैं. इस पोस्टर में लिखा है ‘पूरा परिवार बिकाऊ बदले में बेटी का इलाज करा दो’.

पोस्टर लेकर सांसद के घर पहुँचा परिवार-

https://youtu.be/tUrpm306YZk

  • यूपी के आगरा निवासी संतोष की बेटी थैलेसीमिया ‘Thalassemia’ ब्लड कैंसर से ग्रसित है.
  • लेकिन संतोष के पास इतने पैसे नही की वो अपनी बेटी का इलाज करा सके.
  • बता दें की संतोष स्कूल वैन चलते हैं.
  • जिसके लिए उन्हें मात्र 6 हज़ार रूपए महीना मिलता हैं.
  • लेकिन इस महंगाई के दौर में 6 हज़ार में घर का गुज़ारा करना ही बड़ा मुश्किल है.
  • ऐसे में बेटी का इलाज महँगा कराना उनके लिए सपना सा हो गया है.
  • अपनी बेटी के इलाज के लिए संतोष देश के पीएम से लेकर प्रदेश के सीएम तक गुहार लगा चुके हैं.
  • लेकिन इसके बावजूद उनको को कोई मदद नही मिल पाई है.
  • थक हार कर अब पूरा परिवार खुद को बेंचने को भी तैयार है.
  • जिसके लिए उनकी सिर्फ इतनी ही शर्त है की कोई उनकी बेटी का इलाज करा दें.
  • खुद को बेंचने के लिए ये परिवार सड़कों पर पोस्टर लिए फिरता है.
  • जिसमे लिखा होता है ‘पूरा परिवार बिकाऊ बदले में बेटी का इलाज करा दो’.
  • लेकिन इसके बवाजूब भी किसी का दिल इनके लिए अब तक नही पसीजा है.
  • अपनी बेटी के इलाज के लिए ये परिवार आज पोस्टर लेकर सांसद रामशंकर कठेरा के यहाँ पहुंचा है.

uttarpradesh.org की टीम ने बच्ची के पिता से किया संपर्क

  • uttarpradesh.org की टीम ने cankids ngo से पीड़ित बच्ची के पिता से संपर्क कराया.
  • cankids NGO ने जब पीड़ित बच्ची के पिता से संपर्क किया तो पीड़ित बच्ची के पिता ने बच्ची का इलाज कराने से मना कर दिया.
  • cankids ngo ने पीड़ित बच्ची के पिता से कहा की वह बच्ची का इलाज देश के सबसे सर्वश्रेष्ठ अस्पताल दिल्लीके AIMS में कराएगा जहाँ बच्ची की दावा रहने का और खाने का पूरा खर्च cankids NGO उठाएगा.
  • इसके बावजूद भी बच्ची के पिता बच्ची का इलाज कराने के लिए तैयार नही हैं.
  • बच्ची के पिता का ये फैसला बहुत ही हैरान करने वाला है.
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

योगी कैबिनेट की बैठक हुई शुरू!

Kamal Tiwari

राज्यपाल रामनाईक ने उठाये प्रदेश की कानून व्‍यवस्‍था पर सवाल

Ishaat zaidi

सुपर संडे: अब कांग्रेस ने जारी की 41 प्रत्याशियों की लिस्ट!

Kamal Tiwari