Home » सेल्फी भी है एक जानलेवा नशा!
Uttar Pradesh

सेल्फी भी है एक जानलेवा नशा!

eradication of narcotics

आजकल हम अपनी व्यस्त दिनचर्या के कारन अपने बच्चों को समय नहीं दे पाते हैं। ऐसे में बच्चे भी हमसे कोई बात कहने से हिचकते हैं। तनाव में रहने से बच्चे कई बार नशे का सहारा ले लेते हैं जो की बिल्कुल भी ठीक नहीं है। हमे अपने बच्चों को संस्कार देने के साथ ही उनसे बातचीत करना भी बेहद जरुरी है ताकि हम उनके मन की बात जान सकें। न्यायमूति अरविन्द त्रिपाठी ने कहा कि नशा एक सामाजिक अभिशाप है। यह युवाओं में जहर की तरह फैल रहा है।

ये भी पढ़ें : स्वाइन लू के तीन नए मरीज मिले

बच्चों से नियमित करें संवाद 

  • राघवेन्दु सेवा समिति की ओर से युवाओं में बढ़ती नशा की लत पर सेमिनार का आयोजन हुआ।
  • परवीन तलहा ने कहा कि नशा रोकने की जिम्मेदारी अकेले सरकार की नहीं है.
  • इसमें हर वर्ग के लोगों के सहयोग की जरूरत है।
  • एनबीआरआई के डॉ. सुदर्शन कुमार ने कहा कि सेल्फी लेना भी बहुत लोगों के लिए नशा है।
  • यह सेल्फी का नशा कई बार  लिए जानलेवा साबित हो जाता है।
  • बाचो घर से ही संस्कार दिये जाते है।लेकिन, आजकल परिवार में संवाद की कमी है।
  • उन्होंने कहा कि मैंने 55 देशों की यात्रा की है लेकिन कभी पान तक नहीं खाया।
  • तारिक सिद्दीकी ने कहा कि माता-पिता को चाहिये कि वे अपने बच्चों को समय जरूर दें।
  • उन्होंने कहा कि उनकी तीन साल की बेटी की यू ट्यूब देखने की आदत पड़ गयी थी।
  • लेकिन जैसे ही हम लोगों को अहसास हुआ तो उस पर ध्यान दिया।
  • उसको दूसरी बातों से बहलाया नतीजा यह कि उसकी आदत छूट गयी।

नशीले पदार्थ पर लगे प्रतिबन्ध 

  • डॉ. श्रीकांत शुक्ला ने कहा कि आजकल एकल परिवार का चलन हो गया है।
  • पहले संयुक्त परिवार थे तो कोई न कोई बड़ा बच्चों पर नजर रखे रहता था।
  • उन्होंने कहा कि नशीले पदार्थों पर बैन करने की मांग होनी चाहिये।
    समिति के प्रबंधक प्रदीप तिवारी ने बताया कि युवाओं को जागरूक करके ही नशामुक्त भारत की परिकल्पना की जा सकती है।

ये भी पढ़ें : FIR दर्ज करने के लिए रिश्वतखोरी: वीडियो वॉयरल!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

एक क्लिक पर देखिये लखनऊ उत्तर विधानसभा क्षेत्र में कितने वोटर!

Sudhir Kumar

‘शिवपालराज’ ख़त्म करने की तैयारी में अखिलेश-रामगोपाल!

Kamal Tiwari

दूसरा दिन-तस्वीरों में कैद हुआ लखनऊ महोत्सव में युवाओं का जलवा !

Mohammad Zahid