Home » संदिग्ध आतंकी सैफुल्ला ने ATS पर दागी थीं 62 गोलियां- एडीजी एलो!
Murder Uttar Pradesh

संदिग्ध आतंकी सैफुल्ला ने ATS पर दागी थीं 62 गोलियां- एडीजी एलो!

ats terorist encounter pc in lucknow

उत्तर प्रदेश में 8 मार्च 2017 का दिन इतिहास के पन्नों पर दर्ज हो गया। वो इसलिए यहां विधानसभा चुनाव के सातवें और आखिरी चरण के मतदान से कुछ ही घंटे पहले ही यूपी एटीएस की टीम ने 13 घंटे की मुठभेड़ के दौरान एक आईएसआईएस के आतंकी को मार गिराया।

  • यूपी की राजधानी लखनऊ में आतंकी मुठभेड़ की यह पहली घटना थी।
  • एडीजी एलओ दलजीत सिंह चौधरी ने प्रेसवार्ता के दौरान संदिग्ध से जुड़ी तमाम जानकारियां दी हैं।
  • इस दौरान उनके साथ आईजी एटीएस असीम अरुण भी मौजूद थे।

आत्मसमर्पण ना करने पर मार गिराया

  • पुलिस ने कई लोगों से बात कराने का प्रयास किया।
  • उससे सरेंडर करने को कहा लेकिन वह नहीं माना।
  • पुलिस ने विधि वर्क के तहत कई काम किये इससे वह बाहर निकले लेकिन वह नहीं माना।
  • एक्सचेंज फायरिंग में उसकी मृत्यु हो गई।
  • पुलिस ने और आतंकियों के शक में उसके मकान को कई जगह से काटकर देखा।
  • मृतक के कमरे से भारी मात्रा में आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त सामान बरामद हुआ है।
  • वह मलिहाबाद के रहने वाले बादशाह के घर में घर में रहकर क्षेत्र की रैकी करता था।
  • मकान मालिक सऊदी अरब में रहते हैं।
  • मकान की देखरेख लखनऊ में रहने वाला एक व्यक्ति करता है।
  • इस संदिग्ध ने खुद को छात्र बताकर करीब चार माह पहले की कमरा किराये पर लिया था।
  • उन्होंने बताया कि भोपाल उज्जैन पैसेंजर में भी संदिग्ध ने हल्का ब्लास्ट करने का प्रयास किया था।
  • लो इंटेंसिटी बम लगाने की घटना में यह सभी नाकाम हुए।
  • खुपिया सूचना के आधार पर यूपी भर में कई जगह छापेमारी की गई इनमें इटावा, औरैया, कानपुर नगर, में टीम को सफलता प्राप्त हुई।
  • वहीं लखनऊ में टीम से जब संदिग्ध ने ना सरेंडर करने का ऐलान किया तो मुठभेड़ के दौरान मार गिराया गया।

बेबसाईट के जरिये प्रभाव में आ जाते हैं युवा

  • एडीजी ने बताया कि कोई भी युवा इस प्रकार के लिटरेचर को वेबसाईट या सोशल मीडिया पर पढ़कर उसके प्रभाव में आ जाते हैं।
  • इससे युवाओं को बचने की जरूरत है।
  • इनकी असली गतिविधियों के बारे में जानकारी के बाद एंटी टेरर स्कवॉड (एटीएस) का अपना थाना है।
  • यह मुकदमा भी यहीं पंजीकृत हुआ है।
  • आईजी एटीएस ने बताया कि करीब तेरह घंटे तक चली मुठभेड़ के दौरान उनकी टीम को सफलता हाथ लगी है।
  • एडीजी ने बताया कि संदिग्ध ने 62 गोलियां पुलिस टीम पर दागी थीं इनके खोखे भी पुलिस को बरामद हुए हैं।

यह सामान हुआ बरामद

  • आईएसआईएस का झण्डा
  • भारतीय रेल का रूट मैप
  • 8 पिस्टल, . 32 बोर
  • 650 कारतूस
  • 4 चाकू
  • बारूद की बोतल
  • पाइप के टुकड़े
  • मिर्ची बम
  • 7 मोबाइल
  • दर्जन भर सिम कार्ड
  • दस्ताने
  • वाकी-टाकी
  • कम्पास
  • छोटी बड़ी घडियां
  • लोहे छर्रे
  • पेंट स्प्रे
  • फेविक्विक
  • टेप
  • एरल्डायीट ग्लू
  • माचिस
  • लोहे के तार
  • बिजली के तार
  • पाइप बम बनाने के लिए उपयोग होने वाला स्टापर
  • कील
  • कम्प्यूटर माऊस
  • भारतीय नयी करेंसी
  • चाभियों का गुच्छा
  • तीन पासपोर्ट
  • एटीएम कार्ड
  • 45 ग्राम सोना
  • टिशू पेपर
  • स्क्रू ड्राईवर
  • बारूद की सुतली
  • ताले
  • 10 रुपये का नोटराईज़ स्टैम्प
  • बैंडेज (मेडिकल मे प्रयोग होने वाला )
  • एक प्रतिष्ठित अखबार
  • 4 बड़ी डायरी 1 छोटी डायरी
  • आधार कार्ड का प्रिंट आउट
  • नायलोन की रस्सी
  • मोबाइल की बैटरी
  • मोबाइल चार्जर
  • प्रतिदिन का दिनचर्या

पिता बोला नहीं चाहिए देशद्रोही बेटे का शव, लेने से किया इंकार

  • राजधानी लखनऊ में संदिग्ध आईएसआईएस आतंकी सैफुल्ला को 13 तक चले एनकाउंटर में मार गिराया गया।
  • जब उसके शव को पुलिस ने कानपुर में रहने वाले पिता सरताज को सौंपा तो उन्होंने इसे लेने से इंकार कर दिया।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

कक्षा आठ पास चला रहा था अस्पताल, सीज

Vasundhra

यूपी को समृद्ध बनाने का लक्ष्य लेकर चलना है: सीएम!

Kamal Tiwari

अब यूरिया के लिए किसी किसान को लाठी नहीं खानी पड़ती है- पीएम मोदी

Divyang Dixit