Home » पिछली सरकार में सूबे का चीर हरण किया गया- सीएम योगी!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

पिछली सरकार में सूबे का चीर हरण किया गया- सीएम योगी!

cm yogi speech

विधानसभा में सीएम योगी बजट पर बोल रहे हैं. इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर भी हमला बोला. उन्होंने पिछली सरकार के काम-काम पर भी सवाल उठाये. उन्होंने कहा कि पिछली सरकार विकास शब्द का मतलब नहीं जानती थी

RBI ने लोन देने से मना कर दिया था:

  • ऋण माफी पर रिजर्व बैंक ने लोन से मना किया.
  • सीएम ने कहा कि खाली खज़ाना था लेकिन काम करना था.
  • तय किया था प्रदेश के किसी नागरिक को गिरवी नहीं रखेंगे.
  • पिछली सरकार ने प्रदेश का चीर हरण किया गया था.
  • जनता ने हमें यहां बैठाया है,86 लाख किसानों का फसली ऋण हमने माफ किया.
  • पिछली सरकार अगर गलती से सत्ता में आती तो कर्मचारियों को वेतन नही मिल पाता.
  • ये बजट समाज की आकाँक्षाओं का बजट है.
  • ये राज्य के लिए उम्मीदों का बजट है.
  • हर वर्ग के लिए इस बजट में कुछ न कुछ है.

विपक्ष केवल आरोप लगाने का काम कर रहा है:

  • सीएम योगी ने कहा कि मैंने नेता प्रतिपक्ष की बातों को सुना है.
  • वो केवल राजनीतिक भाषण दे रहे थे.
  • लेकिन मैं उन सभी लोगों से कहना चाहता हूँ.
  • कृषि और सम्बद्ध कार्यों के लिए बजट दिया गया.
  • शिक्षा को लेकर हमनें बढ़त में इजाफा किया.
  • पिछली सरकार की तुलना में हमनें इसमें भारी वृद्धि की.
  • छात्रवृत्ति को लेकर भी हमनें प्रयास किये हैं.
  • उच्च शिक्षा के लिए भी हमनें बजट को ध्यान में रखा.
  • पंचायती राज से लेकर शहरी विकास के लिए हमनें बजट को ध्यान में रखा.
  • समाजवादियों को शिक्षा का विरोधी माना जाता है.
  • कौशल विकास का कोई मतलब नहीं रह गया था.
  • गाँव के राजमिस्त्री तक को शिक्षित करना हमारा लक्ष्य है.

पिछली सरकार ‘विकास’ शब्द से अनभिज्ञ थी:

  • पिछली सरकारों ने इनके बारे में नहीं सोचा.
  • अखिलेश सरकार से 29 हजार करोड़ रुपए ज्यादा दिया.
  • ग्राम विकास के लिए 18 हजार करोड़ रुपए दिए.
  • प्रधानमंत्री मोदी ने आज इस क्षेत्र में जो काम किया उसकी सराहना की जानी चाहिए.
  • गाँव में कार्य करने वाले नौजवानों को प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार देने का काम किया.
  • तीन महीने की ट्रेनिंग के बाद आज वो 12 से 15 हजार रु कमा रहे हैं.
  • हमारा लक्ष्य है कि 10 लाख नौजवानों को ट्रेनिंग देकर उनके लिए रोजगार की व्यवस्था कराएँ.
  • हमारी सरकार ने शिक्षा और कौशल विकास के लिए बजट को बढ़ाया है.
  • महिला सुरक्षा के प्रति हम प्रतिबद्ध हैं और हम इसके लिए बजट लाये हैं.
  • पिछली सरकार का विकास से वास्ता नहीं रहा.
  • विकास शब्द से वो परिचित ही नहीं हैं.
  • अपना विकास हो प्रदेश का विकास हो या न हो.
  • देश के हवाई अड्डों का विकास करने जा रहे हैं.

सैफई में खूब लुटाया पैसा:

  • लखनऊ, वाराणसी,आगरा, कानपुर गोरखपुर सबके लिए बजट नें इंतेज़ाम किया गया है.
  • हमने एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया तो विपक्ष को परेशानी हुई.
  • महिला सुरक्षा पर हमने काम किया.
  • 64 रेस्क्यू वैन चलाया गया है.
  • इसके लिए बजट में पैसों का इंतेज़ाम है.
  • पिछली सरकार से कई गुना ज्यादा पैसा महिला सुरक्षा में रखा गया है.
  • ग्रामीण इलाकों में पेयजल के लिये अलग व्यवस्था की.
  • नगर विकास में 60 प्रतिशत अधिक बजट दिया.
  • लोक कल्याण होना चाहिए, लोक लुभावन नहीं होना चाहिए.
  • सैफई में करोड़ों खर्च किये लेकिन जनता के विकास के लिए पैसे नही थे.
  • प्रदेश की जनता के पास पीने का पानी नहीं था.
  • 3 साल की मोदी सरकार इतिहास की सबसे लोकप्रिय सरकार है.
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

Breaking : गैंगस्टर विकास दूबे गैंग के दो और साथी ढेर,

Tanmay Baranwal

डॉ. शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय का पहला स्थापना दिवस

Sudhir Kumar

KGMU में गार्ड लगा रहें हैं मरीजों को इंजेक्शन !

Ashutosh Srivastava