Home » लघु सिंचाई-ग्रामीण अभियंत्रण विभाग को CM योगी के कड़े निर्देश!
Uttar Pradesh

लघु सिंचाई-ग्रामीण अभियंत्रण विभाग को CM योगी के कड़े निर्देश!

CM yogi instructions

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को 3 विभागों की प्रेजेंटेशन देखी थी, प्रेजेंटेशन के बाद मुख्यमंत्री योगी ने सम्बंधित अधिकारियों को जरुरी दिशा-निर्देश दिए। गौरतलब है की, मुख्यमंत्री योगी ने प्रेजेंटेशन देखने का कार्यक्रम बीते 3 अप्रैल से शुरू किया है।

लघु सिंचाई एवं भू-गर्भ जल विभाग का प्रेजेंटेशन:

  • 100 दिनों में अतिदोहित, क्रिटिकल विकास खण्डों हेतु मास्टर रिचार्ज प्लान बनायें।
  • 190 तालाबों का पुनरुद्धार, 95 चेकडेमों का निर्माण हर हाल में कराया जाए।
  • सामाजिक संस्थाओं, नागरिकों का सहयोग लेकर तालाबों का पुनरुद्धार किया जाये।
  • बांदा, हमीरपुर, जालौन की समग्र प्रबंधन कार्य योजना प्राथमिकता से तैयार की जाए।
  • बुंदेलखंड में 14 सामूहिक नलकूप, 159 ग्राउंड वाटर रिचार्जिंग चेकडेम की योजना चलायें।
  • 116 तालाब, 1208 नए डेमवेल का निर्माण कार्य पूर्ण कराने हेतु योजना तैयार करें।
  • सभी जनपदों में 100-100 चेक डेम जरुरत के हिसाब से बनायें जाएँ।

ग्रामीण अभियंत्रण विभाग का प्रेजेंटेशन:

  • अनुरक्षण कार्यों के लिए ई-टेंडरिंग की व्यवस्था लागू करें।
  • सभी ग्रामीण अंचल की सड़कों को 15 जून तक गड्ढामुक्त किया जाये।
  • मंत्री, अधिकारी गड्ढामुक्त सड़कों का खुद से सत्यापन करें।
  • सरकार सभी जगहों पर चलने के लिए उत्कृष्ट सड़कें उपलब्ध कराएगी।
  • PWD को हस्तांतरित की जाने वाली सड़कों को गड्ढामुक्त करने के बाद हैण्ड ओवर किया जाये।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

10 अगस्त से शुरू होगी बीबीएयू प्रवेश परीक्षा!

Vasundhra

चुनावी सरगर्मी के बीच यूपी में 5 आईएएस अफसरों के तबादले!

Rupesh Rawat

सवालों के बीच साल के दूसरे IAS वीक की तैयारियों में जुटे अधिकारी!

Rupesh Rawat