Home » बुलंदशहर में दो लड़कियों के साथ अपहरण के बाद गैंगरेप!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

बुलंदशहर में दो लड़कियों के साथ अपहरण के बाद गैंगरेप!

Woman gang raped

यूपी के बुलंदशहर में बलात्कार और गैंगरेप की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं। पिछली कई गैंगरेप की घटनाओं के दाग अभी धुल भी नहीं पाए थे कि एक बार फिर हवस के भूखे 5 भेड़ियों ने दो नाबालिग लड़कियों (two innocent gangraped) का कार से अपहरण करके दरिंदगी की वारदात को अंजाम दे डाला।

80 देशों के शतरंज खिलाड़ियों से टक्कर लेगा ये छात्र!

  • सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने पीड़िताओं को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया है।
  • वहीं जहांगीरा बाद पुलिस ने तहरीर के आधार पर पांचों आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।
  • हालांकि इस घटना को पुलिस ने संदिग्ध बताया है।

 

शौच के लिए निकली थीं किशोरियां

  • जानकारी के मुताबिक, जहांगीराबाद थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली दो नाबालिग लड़कियां रीना (14), कविता (16) (दोनों नाम काल्पनिक) शुक्रवार को गांव के बाहर शौच के लिए निकली थीं।
  • दोनों गांव के बाहर निकली ही थीं कि गांव में ही रहने वाले फत्ते, रईस, समरू, यासू और सोहेल ने उसे कार में खींच लिया।
  • आरोप है दोनों ने उसका मुंह दबा दिया इससे वह चीख नहीं पाईं।
  • आरोप है कि 5 आरोपी पड़ोसी उन्हें जबरन गांव के बाहर बने सरकारी स्कूल के बंद पड़े कमरे में ले गए।
  • यहां पांचों आरोपियों ने बंधक बनाकर बारी-बारी से सामूहिक बलात्कार की घटना को अंजाम दिया।
  • इसके बाद आरोपी दोनों नाबालिगों को मुंह खोलने पर जान से मारने की धमकी देकर जंगल में फेंककर फरार हो गए।

बुलंदशहर में दो लड़कियों के साथ अपहरण के बाद गैंगरेप!

पुलिस को नहीं लगी भनक

  • इतना ही नहीं गैंगरेप के बाद आरोपी पीड़िताओं को कार में बंधक बनाए घूमते रहे लेकिन आपकी सुरक्षा का दावा करने वाली बुलन्दशहर पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी।
  • हालांकि जब किशोरियों ने राहगीरों से मदद मांगी तो पुलिस को सूचना दी गई।
  • सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों नाबालिगों को बरमाद कर मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा।
  • पीड़िताओं ने परिजनों को आपबीती सुनाई तो उनके होश उड़ गए।
  • हालांकि पुलिस मामला चुनावी रंजिश का बताकर लीपापोती करती नज़र आ रही है।

बिजली कटौती से परेशान लोगों ने उपकेंद्र पर तोड़फोड़!

क्या कहते हैं जिम्मेदार

  • इस पूरे मामले में एसपी सिटी डॉ. प्रवीण रंजन ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला दोनों के परिवारों से चुनावी रंजिश का लग रहा है।
  • घटना संदिग्ध लग रही है।
  • हालांकि पीड़ित परिवार की तहरीर के आधार पर गांव के रहने वाले फत्ते, रईस, समरू, यासू और सोहेल के खिलाफ आईपीसी की धारा 363, 376-डी और 4 पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।
  • हालांकि आरोपी फरार हैं और उनकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।
  • बता दें कि बुलन्दशहर पुलिस पर रेप की घटनाओं में लीपापोती करने का ये पहला मामला नहीं हैं इससे पहले भी बुलन्दशहर एनएच-91 पर हुई मां-बेटी के साथ दरिन्दगी को भी पुलिस के अधिकारी पर्दा डाल रहे थे।
  • हालांकि घटना मीडिया के सामने आने के बाद ज़िले के कप्तान सहित कई अधिकारियों पर भी गाज गिरी थी।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

Uttar Pradesh Assembly elections Constituencies: Dhanaura

Ashutosh Srivastava

अब पोस्‍टर के जरिये नोट पर अंंबेडकर की फोटो छापने की हो रही मांग

Ishaat zaidi

आजम खान पर लगे आरोपों को लेकर अखिलेश यादव ने तोड़ी चुप्पी!

Divyang Dixit

Leave a Comment