Home » आदमखोर तेंदुए ने 7 वर्षीय मासूम को बनाया निवाला!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

आदमखोर तेंदुए ने 7 वर्षीय मासूम को बनाया निवाला!

man eating leopard

वन विभाग की लापरवाही से आदमखोर (man eating leopard) तेंदुए ने एक और मासूम को निवाला बना लिया। बहराइच जिले के थाना रामगांव के मुकरिया गांव के एक 7 वर्षीय मासूम को रात में सोते से उठा ले गया और मौत के घाट उतार दिया।

हरदोई में जमीन के लिए खूनी संघर्ष, मासूम की हत्या!

  • सुबह जब परिजनों ने मासूम को ढूंढना शुरू किया तो पास के ही एक बाग़ में मासूम का क्षत विक्षत शव पड़ा मिला।
  • जिसके बाद से ग्रामीणों ने प्रदर्शन शुरू का नारेबाजी शुरू कर दी।
  • सूचना पाकर मौके पर वन विभाग की टीम सहित पुलिस अधिकारी व एसडीएम ने पहुच कर ग्रामीणों शांत करवाया और तेंदुए की तलाश में टीम गठित कर काम्बिंग शुरू तेज़ कर दी है।
  • फिलहाल अभी तक उस आदमखोर तेंदुए का कुछ पता नहीं चल सका है।

भाजपा विधायक के गनर सहित 3 लोगों ने लड़की से किया गैंगरेप!

रात में सोते समय उठा ले गया

  • जानकारी के मुताबिक, मुकरिया गांव के रहने वाले रमेश अपने बच्चों के साथ रात में सो रहा था।
  • अचानक एक तेंदुआ उसके 7 वर्षीय बेटे अलोक को उठा ले गया।
  • तेंदुआ आलोक के पास के ही एक बाग़ में ले गया और नोच नोच कर खाने लगा।
  • सुबह जब मासूम का शव मिला तो देखने वालों के रौंगटे खड़े हो गये।
  • मासूम का सर धड़ से कुछ पर अलग पड़ा हुआ था जबकि बाकी शरीर में सिर्फ कमर तक का हिस्सा ही उस आदमखोर जानवर ने छोड़ा था।
  • बेटे के शव को देखने बाद से ही माँ के रो-रो कर बुरा हाल है।
  • वो बार-बार अपने बेटे को याद करके आंसू बहा रही है।
  • अपने बेटे को वापस बुला रही है लेकिन अब उसका लाडला कभी उसके पास नहीं आ पायेगा।

काकोरी में दहेज के लिए नव विवाहिता की हत्या!

वन विभाग की लापरवाही उजागर

  • वहीं (man eating leopard) इस मामले में वन विभाग की बहुत ही बड़ी लापरवाही भी उजागर है।
  • ग्रामीणों ने बताया कि ये आदमखोर लगभग एक साल से क्षेत्र में आतंक का पर्याय बना हुआ है।
  • जिसकी सूचना समय-समय पर ग्रामीण शासन प्रशासन को देते आये हैं।
  • ग्रामीणों ने बताया कि 6 महीना पहले भी ये बाग़ एक बच्ची को उठा ले गया था और मौत के घाट उतार दिया था।
  • इसके अलावा कई बार गाय के बछड़ो, कुत्तों को भी निशाना बना चुका है।
  • बावजूद इसके अभी तक वन विभाग ने कोई भी कार्रवाई नहीं की।
  • यहां तक जब इसकी शिकायत महसी क्षेत्र के एसडीएम से की गयी तो उन्होंने ये कहकर भगा दिया कि तुम लोग दूर-दूर पर घर बना लेते हो हम कहा तक तुमको सुरक्षा दे पाएंगे।
  • अब इसको विभागीय लापरवाही कहें या काम करने का वहीं चिर परिचित अंदाज़ लेकिन एक बात तो सच है।

विधान भवन में मिले पाउडर को भेजा गया हैदराबाद!

मां ने खो दिया अपने जिगर का टुकड़ा

  • गलती किसी की भी हो पर उस मां ने अपना जिगर का टुकड़ा खो दिया जिसके हर्जाना कोई भर नहीं सकता।
  • इन्होंने अपनी लापरवाहियों पर सफाई देते हुए बताया कि पिछली बार जब तेंदुआ बच्ची को ले गया था था तब उसकी तलाश की गयी थी।
  • लेकिन वो मादा तेंदुए निकली और नाईट विज़न कमरे से पता चला कि उसके दो छोटे बच्चे भी हैं।
  • जिस कारण तलाशी अभियान को वही रोक दिया गया।
  • लेकिन अब क्योंकि बच्चे बड़े हो गए है तो हम उसको पकड़ने तक अभियान जारी रखेंगे।
  • अब ऐसे में सवाल ये उठता है कि (man eating leopard) इस बात को कौन निर्धारित करेगा कि इंसान के बच्चे की ज़्यादा अहमियत है या बाग़ के बच्चे की।

अब गोमतीनगर में रिटायर्ड प्रोफेसर के घर डकैतों ने बोला धावा!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

नोटबंदी पर सपा का हल्ला-बोल, केन्द्र के खिलाफ खोला मोर्चा!

Rupesh Rawat

वीडियो: यहां पुलिस बूथ में नशेड़ियों का अड्डा!

Sudhir Kumar

पुलिस ने हफ्ते भर से 8 माह की गर्भवती को किया कैद

Sudhir Kumar