Home » आईजी जोन की अग्निशमन अधिकारियों के साथ मीटिंग!
Uttar Pradesh Uttar Pradesh Live

आईजी जोन की अग्निशमन अधिकारियों के साथ मीटिंग!

ig zone lucknow meeting

पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ जोन ए. सतीश गणेश ने मंगलवार को आईजी जोन कार्यालय में अग्निशमन विभाग के अधिकारियों के साथ एक मीटिंग की। आईजी के बैठक में जोन के 11 जिलों हरदोई, लखीमपुर खीरी, लखनऊ, रायबरेली, सीतापुर, उन्नाव, अम्बेडकरनगर, अमेठी, फैजाबाद और सुल्तानपुर के अग्निशमन अधिकारी (सीएफओ) बुलाये गए।

दिए गए सुरक्षा और बचाव के कई टिप्स

  • बैठक के दौरान आईजी ने आग लगने के दौरान आने वाली समस्याओं के बारे में जानकारी ली।
  • इस दौरान उन्होंने सुरक्षा और बचाव के दौरान किन-किन बातों का ध्यान रखें जैसे कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर भी विस्तार से चर्चा की।
  • आईजी ने आग लगने से होने वाले नुकसान और उसके बचाव में हमें क्या-क्या करना चाहिए इन सारी बातों को अग्नि शमन के अदिकारियों को बताया।
  • बैठक में आईजी ने बताया कि इस समय गर्मी का मौसम है लू भी चल रही है।
  • इसलिए आग लगने के चांस ज्यादा रहते हैं।
  • सभी जिलों के सीएफओ आग से हर समय निपटने के लिए पूरी तैयारी में रहें।
  • उन्होंने दमकल के ख़राब पड़े यंत्रों को भी जल्द ठीक करने के निर्देश दिए हैं।

क्यों मनाया जाता है अग्निशमन दिवस

  • बैठक के दौरान आईजी ने दमकलकर्मियों को जानकारी देते हुए बताया कि अग्निशमन दिवस 14 अप्रैल को हर साल मनाया जाता है।
  • इसके पीछे की कहानी यह है कि 14 अप्रैल 1944 को फोर्टस्टीकेन नाम का मालवाहक जहाज में मुम्बई बंदरगाह के पर अचानक आग लग गई थी।
  • यह आग बुझाते समय जहाज में विस्फोटक सामग्री होने के कारण 66 अग्निशमन कर्मी आग की चपेट में आकर वीरगति को प्राप्त हुए थे।
  • तब से ही इन शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने व आग से बचाव के उपाय बताने के लिए देशभर में यह दिन अग्निशमन दिवस के रूप में मनाया जाता है।

देखिये मीटिंग की तस्वीरें:

[ultimate_gallery id=”67847″]

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

पथरी में न हो दर्द तो डॉक्टर्स से करें संपर्क

Vasundhra

अतीक अहमद मामले में पुलिस ने हाईकोर्ट को सौंपी में रिपोर्ट!

Dhirendra Singh

सुप्रसिद्ध तबला वादक लच्छू महराज का हुआ निधन

Ishaat zaidi