Home » उत्तर प्रदेश » मुज़फ्फरनगर: निजी कार्यक्रम में शामिल हुए पश्चिम बंगाल के राज्यपाल

मुज़फ्फरनगर: निजी कार्यक्रम में शामिल हुए पश्चिम बंगाल के राज्यपाल

West Bengal Governor joined private program in Muzaffarnagar
उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरपुर में आज पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी एक निजी कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए पहुंचे. जिसके बाद राज्यपाल बीजेपी नेत्री गीता जैन के आवास पर पारिवारिक प्रोग्राम में भी शामिल हुए.

मुजफ्फरनगर में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने मीडिया से बात करते हुए भाषा पर सयम रखने की नसीहत देते हुए कहा की ऐसी भाषा बोले जिससे सब को अच्छा लगे.

क्या है मामला:

वही राज्यपाल पश्चिम बंगाल में लगातार हो रही बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या व कानून व्यवस्था के सवाल पर कन्नी काटते नजर आये।

राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया की देश में आज एक अजीब सा वातावरण हो रहा है और वो वातावरण सम्बंधित है भाषा से , जिस प्रकार से भाषा की मर्यादाओं का उलंघन हो रहा है। अमर्यादित भाषा का असयंमित भाषा का और असंतुलित भाषा का प्रयोग हो रहा है। वो समाज के लिए उत्साह वर्धक नहीं है बल्कि हानिकारक है।

 

लोकतंत्र के युग में प्रत्येक व्यक्ति को अपनी बात कहने का अधिकार है। लेकिन अगर हम अपनी बात कहने में अपनी भाषा का ध्यान नहीं रखेंगे तो जो सामान्य लोग है वो अपना व्यवहार बदलते जायेंगे और उस व्यवहार के बदलने से समाज में विसंगतियां पैदा होगी, संघर्ष पैदा होगा, द्वेष पैदा होगा.

उन्होंने कहा कि इसीलिए समाज के हर वर्ग से गुजारिश है कि कम से कम पाने व्यवहार में अपनी बातचीत में भाषाई मर्यादा का जरूर पालन करो तो ज्यादा अच्छा रहेगा।

कहने वाले का स्तम्भ ऊँचा रहेगा और सुनने वाले का भी स्तम्भ ऊँचा रहेगा। देखिये वो अलग चीज है, बहुत सी चीज बताई नहीं जाती.

वही राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी पश्चिम बंगाल में लगातार हो रही बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या व कानून व्यवस्था के सवाल पर कन्नी काटते नजर आये।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Sachin Johri

Related posts

कानपुर: मस्ती में बच्चे लगा रहे ‘मौत की छलांग’, प्रशासन अंजान

Shani Mishra

लोहिया अस्पताल में उद्घाटन के बाद भी नहीं शुरू हुई सिटी स्कैन की सेवा

Shivani Awasthi

यूपी में 18 पीपीएस अधिकारी जल्द बनेंगे आईपीएस

Sudhir Kumar