Home » उत्तर प्रदेश » पीआरडी जवानों ने बुलंद की आवाज, मांगा होमगार्डों के सामान वेतन-भत्ता और सुविधाएं

पीआरडी जवानों ने बुलंद की आवाज, मांगा होमगार्डों के सामान वेतन-भत्ता और सुविधाएं

पिछले वर्षों से कई बार धरना प्रदर्शन, घेराव, अनिश्चितकालीन सत्याग्रह आन्दोलन कर चुके पीआरडी जवानों ने बुधवार को फिर राजधानी लखनऊ के हजरतगंज स्थित जीपीओ पार्क, गाँधी प्रतिमा पर अपनी मांगों को लेकर आवाज बुलंद की। खाकी वर्दी पहने महिला/पुरुष पीआरडी जवानों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर जोरदार नारेबाजी। हजारों की सख्या में प्रदेश के विभिन्न जिलों से आये पीआरडी जवानों ने अपनी मांगो से संबोधित मांगपत्र जिला प्रशासन को सौंपा। प्रदर्शन के दौरान वह मुख्यमंत्री के आवास का घेराव करने जा रहे थे लेकिन प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इस दौरान हजरतगंज चौराहे का पूरा ट्रैफिक अस्त-व्यस्त हो गया और भयंकर जाम की स्थिति बनी रही। जाम के झाम में फंसकर राहगीरों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

पीआरडी मानदेय कर्मचारी वेलफेयर असोसिएशन लखनऊ के बैनर तले आन्दोलन का नेतृत्व प्रदेश अध्यक्ष राम नरेश यादव ने किया। उन्होंने बताया कि आजादी के बाद विधान मंडल के प्रथम सत्र अधिवेशन में पीआरडी ऐक्ट 1948 व पंचायती राज्य ऐक्ट विधान सभा व विधान परिषद के दोनों सदनों में पूर्ण बहुमत से पारित हुआ था। इसके बावजूद पीआरडी ऐक्ट अभी तक पूर्ण रूप से लागू नहीं हो सका है। वहीं, बीते तीन अप्रैल को गृहमंत्री राजनाथ सिंह व सांसद कौशल किशोर ने अपने कार्यक्रम में पीआरडी जवानों को पुलिस के बराबर ड्यूटी व सुविधा देने का आश्वासन दिया था, लेकिन आज तक जवानों को कोई भी सुविधा व ड्यूटी तक नहीं मिल पाई है। इस कारण पीआरडी जवानों का परिवार भुखमरी की कगार पर पहुंच चुका है। पीआरडी जवानों ने जल्द अपनी मांगों का निस्तारण करने की आवाज उठाई है।

साथ ही साथ प्रदर्शन कर रहे जवानों का कहना है कि 60 साल सेवा देने के बाद पीआरडी जवानों के लिए एकमुश्त पेंशन की व्यवस्था देनी चाहिए। आक्रोशित जवान मुख्यमंत्री आवास जाने पर अड़े हुए थे। प्रदर्शन कर रहे पीआरडी जवानों को शांत कराने में पुलिस बल को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने को लेकर अड़े पीआरडी जवानों को शांत कराने के लिए पुलिस को लाठी भी फटकारनी पड़ी। आखिर में शाम को पीआरडी जवान अधिकारियों के आश्वासन पर शांत हुए। प्रदर्शनकारी पीआरडी जवानों का कहना था कि मांगे पूरी न होने पर लगातार धरना-प्रदर्शन जारी रखेंगे।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Sudhir Kumar

Related posts

ढोंगी विश्वहरि बाबा के सत्संग में बुजुर्ग महिलाओं की पिटाई का वीडियो वायरल

Sudhir Kumar

कांग्रेस की मीडिया टीम घोषित, देखें 14 नए प्रवक्ताओं के नाम

Bharat Sharma

उर्दू अभ्यर्थियों ने किया भाजपा कार्यालय का घेराव

Shivani Awasthi

Leave a Comment