Home » उत्तर प्रदेश » श्रावस्ती: आखिर कैसे होगा शौचालय निर्माण, जब लाभार्थियों को पीटेगी पुलिस

श्रावस्ती: आखिर कैसे होगा शौचालय निर्माण, जब लाभार्थियों को पीटेगी पुलिस

police beaten beneficiaries of toilet construction

उत्तर प्रदेश में श्रावस्ती जिले में शौचालय निमार्ण के बगैर कैसे जिला घोषित होगा शौचमुक्त? शौचालय बनवाने के लिए सरकार ने गरीब परिवारों को 12 हजार की आर्थिक सहायता देकर शौचालय निर्माण के लिए प्रोत्साहित किया है। जिससे कोई खुले में शौच न करे, लेकिन इस कार्य मे सबसे बड़ी बाधा पुलिस बन रही है।

पुलिस ने साइकिल और ठेलिए पर बालू लादकर लाने वालों से की पैसा वसूली:

बता दे कि साइकिल और ठेलिए से बोरियों में बालू ला रहे लोगों को पुलिस जमकर पीटने लगी है. श्रावस्ती जिले के मोहरनिया डीह के ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए बताया कि गांव के करीब बह रही नदी से शौचालय निर्माण के लिये ठेलिये पर बालू ला रहे थे।

तभी लक्ष्मण नगर पुलिस ने रास्ते में रोक कर पहले तो उनसे पैसे की मांग की. जब उन्हें पैसे नही मिले तो पुलिसकर्मियों ने बालू गिरवा दिया और जमकर मारा पीटा भी।

पैसा न देने पर किया की पिटाई:

यहाँ तक कि पुलिसकर्मियों ने बच्चों को भी नही छोड़ा. साइकिल और ठेलिये के टायर तक पुलिस ने काट दिया।

बालू की किल्लत से सरकार की ओर से गरीबों को दी गयी आवास व शौचालय अधूरे पड़े हैं। ऐसे में बड़ा सवाल उठ रहा है कि कैसे शौच मुक्त हो पायेगा जिला।

वहीं बीएसपी विधायक असलम राइनी ने भी पुलिस के प्रति आक्रोश जताया और सरकार से उचित कार्रवाई करने की मांग की।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Pankaj verma

Related posts

25 जनवरी को मनाया जाता है ‘नेशनल वोटर डे’

Vishesh Tiwari

उत्तर प्रदेश में भी खुलेंगे जनऔषधि केंद्र, मिलेंगी सस्ती दवाएं और उपकरण

Sudhir Kumar

करोड़ों के स्मैक के दो महिलाओं सहित नाबालिग गिरफ्तार

Bharat Sharma

Leave a Comment