मैनपुरी: सपा युवजन सभा के राष्ट्रीय सचिव ने छोड़ा अखिलेश का साथ

samajwadi party yuvjan sabha national secretary

समाजवादी पार्टी के बागी नेता शिवपाल सिंह यादव ने सेक्युलर मोर्चे का गठन कर यूपी की सभी लोक सभा सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। शिवपाल के इस ऐलान के बाद से सपा नेताओं ने भी पार्टी से इस्तीफ़ा देकर उनके मोर्चे को ज्वाइन करना शुरू कर दिया है। इसी क्रम में अभी तक समाजवादी पार्टी के कई बड़े नेता सेक्युलर मोर्चा ज्वाइन कर चुके हैं। इस बीच समाजवादी पार्टी के एक और बड़े नेता ने सेक्युलर मोर्चा ज्वाइन कर लिया है।

युवजन सभा के राष्ट्रीय सचिव ने छोड़ी सपा :

समाजवादी पार्टी युवजन सभा के राष्ट्रीय सचिव सुबोध यादव ने पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव का साथ छोड़ दिया है। सुबोध यादव ने सैफई में समाजवादी सेक्युलर मोर्चे की सदस्यता ग्रहण की है। सुबोध के पार्टी छोड़े जाने के बाद से सपाइयों के होश उड़ गए हैं। सुबोध यादव की फिरोजाबाद जिले में अच्छी पकड़ मानी जाती है।

समाजवादी पार्टी युवजन सभा के राष्ट्रीय सचिव सुबोध यादव मैनपुरी सांसद तेज प्रताप सिंह यादव के मौसा हैं। यही कारण है कि उनके सेक्युलर मोर्चे की सदस्यता ग्रहण करने के बाद से अफरा तफरी मच गयी है।

रामगोपाल को लगेगा झटका :

समाजवादी सेक्युलर मोर्चे में सुबोध यादव के शामिल होने से सबसे बड़ी समस्या राम गोपाल यादव को हो सकती है। इसके अलावा इन्हें सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव का भी करीबी माना जाता है। फिरोजाबाद से राम गोपाल के पुत्र अक्षय यादव सपा के सांसद हैं। यहाँ पर सुबोध यादव का अच्छा ख़ासा प्रभाव माना जाता है। 2019 के लोक सभा चुनाव के पहले सपा छोड़े जाने से जितना नुकसान सपा को होगा, उससे कहीं अधिक नुकसान राम गोपाल यादव को होने की संभावना है।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Uttar Pradesh Desk

Related posts

शहीद अंकित का पार्थिव शरीर पहुंचा बड़ौत, नम हुई आंखें

Kamal Tiwari

पूर्व मंत्री आजम खां पर लगा दलितों की जमीन हड़पने का आरोप

Shashank

प्रधानमन्त्री को खत लिखकर दलित सांसद ने की सीएम योगी की शिकायत

Shivani Awasthi