अखिलेश यादव संग सपा कार्यालय पहुंचे भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा

shatrughan sinha

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज समाजवादी पार्टी के कार्यालय पर कई बड़े नेताओं का जमावड़ा देखने को मिला। यहाँ पर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव अपने पुत्र और पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ पार्टी कार्यलय पहुंचे। हालाँकि इसमें कोई हैरानी नहीं क्योंकि वे पहले भी साथ में पार्टी कार्यालय आते रहे हैं। वहां मौजूद लोगों को हैरानी तब हुई जब उनके साथ भाजपा के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा भी दिखाई दिए। ये सभी सपा कार्यालय पहुंचे और मीडिया से बातचीत की।

यशवंत सिन्हा ने भाजपा पर बोला हमला :

सपा कार्यालय पहुंचे पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने भाजपा पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव काफी दमदार नेता हैं जो सभी से लोहा लेता हैं। अखिलेश से कहूंगा कि मिलकर लड़ेंगे तो 1977 की तरह हमारी जीत होगी। उन्होंने कहा कि आज मैं और शत्रुघ्न सिन्हा जो बोल रहे हैं, वो केवल उनके सामने बैठे लोग सुन रहे हैं। उन्होंने कहा कि मीडिया को हमारा बहिष्कार करने के लिए ऊपर से कहा गया है।

पत्रकार राघव बहल के घर और दफ्तर पर इनकम टैक्स का छापा पड़ा है क्योंकि वो सरकार के सामने नही झुके थे। मैं और शत्रुघ्न सिन्हा देश में घूम-घूम कर प्रजातांत्रिक मान्यताओं के लिए काम कर रहे हैं। आज एक बार फिर सबको एकजुट होना पड़ेगा और चुनौती का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि आज एक बार फिर से दुर्योधन और दुशासन से लड़ने का वक्त आ गया है।

कई हस्तियाँ रही मौजूद :

महान समाजवादी नेता जय प्रकाश नारायण की जयंती पर सपा कार्यालय में कार्यक्रम आयोजित किया गया था। यहाँ पर एक बार फिर से समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव अपनेपिता मुलायम सिंह यादव के साथ नजर आये। इसके अलावा भाजपा के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा भी उनके साथ नजर आये। इसके अलावा अखिलेश सरकार में यूपी के मुख्य सचिव रहे आलोक रंजन भी इस दौरान उनके साथ बैठे नजर आये।

इस दौरान शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि सत्ता सेवा का माध्यम है मेवा पाने का माध्यम नही है। युवाओं को कहता हूँ कि अगर ठान ले तो नामुमकिन को मुमकिन कर सकते हैं। आज यशवंत जी के साथ देश भर में लोगों को जगाने का काम कर रहा हूँ। अगर सच कहना बगावत है तो मैं बागी हूँ। व्यक्ति से बड़ी पार्टी हैं और पार्टी से बड़ा देश है। नोटबंदी का फैसला पार्टी का फैसला सही नही था। राफेल पर पब्लिक जवाब चाहती है, अब नही बच पाओगे।

Reporter : Uttar Pradesh Desk

Related posts

यूपी मेयर काउंसिल 2018: आगरा के महापौर नवीन जैन बने निर्विरोध अध्यक्ष

Shivani Awasthi

भाजपा विधायक के घर चाय पीने पहुंचे शिवपाल सिंह यादव

Shashank

बहराइच: 25 हजार का इनामी बदमाश गिरफ्तार, 2 पुलिसकर्मी हुए जख्मी

Shivani Awasthi

Leave a Comment