Mukhtar Ansari and his wife are out of danger in sgpgi
January, 22 2018 03:58

मुख़्तार अंसारी और उनकी पत्नी की हालत खतरे से बाहर, दुआओं का दौर जारी

By: Sudhir Kumar

Published on: मंगल 09 जनवरी 2018 09:17 अपराह्न

Uttar Pradesh News Portal : मुख़्तार अंसारी और उनकी पत्नी की हालत खतरे से बाहर, दुआओं का दौर जारी

यूपी के बांदा जिला कारागार में सुबह चाय पीने के दौरान बाहुबली बसपा के विधायक मुख़्तार अंसारी और उनकी पत्नी अफशा अंसारी दिल का दौरा पड़ने से बेहोश हो हुए थे। मुख़्तार के साथ उनकी पत्नी को भी संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में भर्ती कराया गया। यहां दोनों की हालत खतरे से बाहर है। उन्हें बांदा से दो एम्बुलेंस के जरिये यहां लाया गया। मुख़्तार अंसारी के साथ उनके दोनों बेटे साहित परिवार के कई सदस्य मौजूद हैं। मुख़्तार अंसारी के काफिले में भारी संख्या में फोर्स भी मौजूद रही। पीजीआई में डॉक्टर और अधिकारी भी बाँदा से लखनऊ पहुँचे हैं। पीजीआई में मुख्तार के इलाज़ के लिए पहले से सभी डॉक्टर एलर्ट थे। मुख्तार अंसारी को बेहतर इलाज के लिए हार्ट वार्ड में शिफ़्ट किया गया।

मस्जिदों में दुआओं का चला दौर

मऊ के विधायक मुख्तार अंसारी एवं उनकी पत्नी अफशां बेगम को दिल का दौरा पड़ने की खबर मिलते ही मुख्तार समर्थकों में काफी मायूसी देखने को मिली। उनकी सलामती के लिए उनके समर्थकों ने मंदिरों व मस्जिदों में दुआ की। बता दें क‌ि विधायक मुख्तार अंसारी एवं उनकी पत्नी को बांदा जेल में हार्ट अटैक पड़ा। इसकी सूचना मिलते ही यूसुफपुर स्थित अंसारी के आवास फाटक पर उनका हालचाल जानने के लिए उनके समर्थक की भीड़ जमा हो गई। लेकिन परिवार के सभी सदस्यों के लखनऊ रवाना हो जाने के कारण समर्थक भी लखनऊ रवाना हो गए। नगर की मस्जिदों में जोहर की नमाज के बाद मुख्तार अंसारी एवं उनकी पत्नी अफशां की सलामती के लिए दुआ मांगी गई।

समाचार चैनलों से चिपके रहे लोग

चारो तरफ समर्थकों में बेचैनी का आलम था। हर कोई एक-दूसरे से यह जानने का प्रयास करता रहा कि अब उनके महबूब नेता की तबीयत कैसी है। वह किस अस्पताल में है। घरों में लोग टीवी चैनलों के सामने मुख्तार के संबंध में चल रहे समाचारों से चिपके रहे। वहीं बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के प्रतिनिधि शाहिद अंसारी ने बयान देते हुए बताया कि बाँदा में चाय पीने के दौरान माइनर अटैक आया। विधायक की हालत देख पत्नी की भी हालत बिगड़ी। चाय पीने के बाद दोनों के मुंह से झाग निकलने लगा था।हालात बिगड़ने के बाद जिला प्रशासन ने बरती लापरवाही की वजह से देर में पीजीआई पहुंचे। उन्होंने बताया कि मुख़्तार अंसारी प्राथमिक उपचार से खतरे के बाहर थे। मुख्तार अंसारी की जांच रिपोर्ट के बाद असली बात पता चल पायेगी कि ये सब कैसे हुआ।

I am currently working as State Crime Reporter @uttarpradesh.org. I am an avid reader and always wants to learn new things and techniques. I associated with the print, electronic media and digital media for many years.

Share This