बेमिसाल डॉयल 100: 24 घंटे में कई लोगों की बचाई जान

dial 100 Police Emergency Service for help in any time

उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में एक लाख से ज्यादा ग्रामीणों और शहरी लोगों को अपनी सेवा प्रदान कर प्रदेश के 22 करोड़ लोगों का विश्वास डॉयल 100 पर बना हुआ है। वर्तमान समय में ‘यूपी 100 UP’ के नाम से पहचान बना चुकी ‘डॉयल 100’ आपातकालीन सेवा लोगों के लिए वरदान साबित हो रही है वहीं, अपराधियों में खौफ पैदा करने वाली एक बेहतर सेवा बन गई है। घरेलू झगड़ों से लेकर, खनन, खुदकुशी के प्रयास करने वालों की जान बचाना हो या घायलों को अस्पताल पहुंचाने का मामला हो ‘डॉयल 100 सेवा’ 16 खाने रिंच की तरह हर जगह फिट बैठती है। इतना ही नहीं अपनी जान पर खेलकर कुएं के भीतर तक घुसकर जानवरों तक की जान ये आपातकालीन सेवा कर रही है।

इन जिलों में डॉयल 100 ने मिशाल पेशकर की मदद

10 मार्च 2018 को मऊ जिला में पीआरवी 2253 थाना कोतवाली नगर के अंतर्गत 10 मार्च को सुबह 11:08 बजे इवेंट 3088 पर गाजीपुर तिराहा स्थित पेरिस खुला जालौन में शादी समारोह में छेड़खानी की मिली। सूचना पाकर फौरन मौके पर पहुंची पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर थाने के सुपुर्द कर सलाखों के पीछे पहुंचाया।
10 मार्च 2018 को महोबा जिला में पीआरवी 1268 को थाना महोबकंठ में रात 9:59 बजे इवेंट 4320 पर कॉलर अजय सिंह ने ग्राम पिपरी से सूचना दी कि पीड़ित की नाबालिक 13 वर्षीय बहन को एक लड़का भगाने की कोशिश कर रहा है। सूचना मिलते ही फौरन पीआरवी मौके पर पहुंची तो पता चला कि लड़का कॉलर की बहन को बहला-फुसलाकर घर से भगा ले जा रहा था। आरोपी को कॉलर की मदद से गांव के बाहर दबोच लिया। जिसने अपना नाम तब्बू अहिरवार पुत्र पंचू अहिरवार निवासी गायत्री कॉलोनी नौगांव मध्य प्रदेश बताया। जिसे डॉयल 100 की पुलिस टीम ने महोबकंठ थाने में सुपुर्द कर कर कार्रवाई कराई।
10 मार्च 2018 को हमीरपुर जिला में पीआरवी 1215 को थाना कोतवाली क्षेत्र में दोपहर 13:41 बजे इवेंट 4777 पर कॉलर सुनील निवासी भिलावा ने सूचना दी कि कमला देवी का झगड़ा लक्ष्मी व राजकुमारी के साथ हो रहा है। इनकी बहू मिट्टी का तेल छिड़क रही है। इस सूचना पर पीआरवी तत्काल मौके पर पहुंची तो महिला सुदामा देवी का उसके पति दिलीप कुमार के साथ झगड़ा हो रहा था। जिससे महिला सुदामा अपने ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आत्महत्या करने का प्रयास कर रही थी।मौके पर पहुंची पुलिस ने सुदामा और उसके पति को पकड़कर भिलावा कोतवाली के सुपुर्द कर दिया।
10 मार्च 2018 को झांसी जिला में पीआरवी 0368 को थाना बरुआसागर दोपहर 15:11 बजे इवेंट 5635 पर कॉलर कैलाश ने मोहल्ला सनावड़ा से सूचना दी कि दो बच्चों को Alto गाड़ी से अपहरण कर लिया गया। गाड़ी झांसी की तरफ भागी है।चेकिंग कराए जाने के दौरान बताया गया कि पीआरवी ने चेकिंग के दौरान Alto गाड़ी (यूपी 93 48093) को द्वारा बाईपास भगवंतपुरा से पकड़ लिया। पुलिस ने दोनों बच्चे अजय (12) पुत्र सुरेश कुशवाहा व प्रेम नरायण (14) पुत्र दयाराम को सकुशल बरामद कर सदर बाजार पुलिस के हवाले कर दिया। पड़ताल में पता चला कि बच्चों द्वारा फेंके गए पत्थर से कार का शीशा टूटने के कारण कार सवार दंपत्ति ने बच्चों को कार में बैठा लिया था।
10 मार्च 2018 को झांसी जिला में थाना सीपरी बाजार अंतर्गत पीआरवी 0365 को दोपहर 14:20 बजे इवेंट 1540 पर कॉलर विजयपाल बघेल ने सूचना दी कि एक लड़के ने जहर खा लिया है। इस सूचना पर पीआरवी तत्काल मौके पर पहुंची और घायल को अचेत अवस्था में उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराया। पीड़ित प्रदीप रैकवार के परिजनों ने बताया कि प्रेम प्रसंग के चलते उसने जहरीला पदार्थ खा लिया था। इसके बाद पुलिस डायल 100 ने स्थानीय पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाया और उनके सुपुर्द कर दिया।
10 मार्च 2018 को झांसी जिला में पीआरवी 0396 थाना लहचूरा अंतर्गत सुबह 07:55 बजे इवेंट 1289 पर कॉलर ने सूचना दी कि बम्हौरी के पास मऊरानीपुर रोड पर एक स्कूल बस पलट गई है। जिसमें कई स्कूली बच्चे घायल हैं। इस सूचना पर पीआरवी तत्काल मौके पर पहुंची। स्थानीय पुलिस को जनता के सहयोग से सभी स्कूली बच्चों को सकुशल बाहर निकाल कर गंभीर रुप से घायल क्लीनर घनश्याम को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। घटनास्थल पर अग्रिम कार्यवाही के लिए थाना पुलिस के सुपुर्द क्षतिग्रस्त वाहनों को किया गया।
10 मार्च 2018 को गौतमबुद्धनगर जिला में पीआरवी 1841 को थाना सेक्टर-39 में दोपहर 15:37 बजे इवेंट 5905 पर कॉल गौतम दास ने सूचना दी कि कोटक बैंक के पास सेक्टर-125 से दो लुटेरों ने उनके साथ मारपीट कर उनकी कार स्विफ्ट डिजायर (डीएल 12 टीसी 2679) छीनकर परी चौक की तरफ भाग गए। कार में GPS लगा हुआ है। यह सूचना के मिलते ही पीआरवी ने 4 मिनट में मौके पर पहुंचकर घायलों को नजदीकी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराकर घटना से थाना प्रभारी सेक्टर 39 को अवगत कराया। जिनके द्वारा कासना की फोर्स की मदद से GPS लोकेशन ट्रेस करके कार को ग्रेटर नोएडा क्षेत्र से बरामद कर लिया गया।
10 मार्च 2018 को बरेली जिला में पीआरवी 0219 थाना नवाबगंज में सुबह 04:48 बजे इवेंट 0753 पर दो पशुओं के काटे जाने की सूचना मिली। इस पर पीआरवी ने थाना पुलिस को सूचना दी एवं उनको साथ लेकर 15 मिनट के भीतर मौके पर पहुंचे। इस दौरान आरोपी मौके से भाग गया। पीआरवी ने उसके घर से दो पशुओं का मांस एक छुरी बरामद कर थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया।
10 मार्च 2018 को महोबा जिला में पीआरवी 1259 को थाना श्रीनगर के क्षेत्र में रात 21:12 बजे इवेंट 9389 कॉलर पुष्पेंद्र कुमार ने ग्राम अतरार माफ़ से सूचना दी थी। एक व्यक्ति यहां आकर झगड़ा कर रहा है, वह बंदूक लिए है। इस सूचना पर मौके पर पहुंची पीआरवी ने हंगामा कर रहे युवक को पकड़ लिया और उसके कब्जे से 315 बोर का तमंचा और 3 जिंदा कारतूस बरामद की। आरोपी ने पूछताछ में अपना नाम लाल सिंह कुशवाहा पुत्र कालीचरण निवासी मगरोन थाना कुलपहाड़ बताया। पकड़े गए आरोपी को थाना श्रीनगर पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया।
10 मार्च 2018 को हमीरपुर जिले में पीआरवी 1240 को जरिया थाना अंतर्गत सुबह 09:31 बजे इवेंट 2114 कॉलर मन प्यारे निवासी पहरा ने सूचना दी कि एक आदमी ने मेरी पुत्री के साथ छेड़छाड़ की है। इस सूचना पर तत्काल पीआरवी भी मौके पर पहुंची। तो कॉलर ने बताया कि शिवदयाल पुत्र स्वर्गीय राम सिंह निवासी गोहाड़ ने मेरी 12 वर्षीय पुत्री जो चने के खेत की रखवाली करती थी। उसको अकेला पाकर छेड़खानी की। उसने जबरदस्ती करने की कोशिश की है। पुत्री के शोर मचाने पर आरोपी भाग गया। पीआरवी ने आरोपी शिवदयाल को पकड़कर जरिया थाने के सुपुर्द कर दिया।
10 मार्च 2018 को इटावा जिला में पीआरवी 1635 को वैदपुरा थाना अंतर्गत सुबह 09:27 बजे शांति होटल के सामने सूचना मिली कि एक एक्सीडेंट हो गया है। इस सूचना पर फौरन पीआरवी मौके पर पहुंची। पता चला कि शांति होटल के सामने मोटरसाइकिल (यूपी 75 आर 8818) को अज्ञात वाहन टक्कर मार कर भाग गया। मोटरसाइकिल सवार मनोज कुमार यादव को पत्नी संजू कुमारी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। पीआरवी ने दंपत्ति को गंभीर अवस्था में अपने वाहन में बैठाकर उपचार के लिए PGI सफाई में भर्ती कराया। साथ ही परिजनों को सूचना देकर मौके पर पड़ी गाड़ी को स्थानीय पुलिस के सुपुर्द कर दिया।
➡10 मार्च 2018 को लखीमपुर खीरी जिला में पीआरवी 2867 को मालानी थाना क्षेत्र में सुबह 10:04 बजे इवेंट 2445 पर कॉलर रामू जयसवाल ने सूचना दी कि एक व्यक्ति कुएं में गिर गया है। वह काफी डरा हुआ है। सूचना मिलते ही पीआरवी ने तत्काल मौके पर पहुंचकर आसपास एकत्र भीड़ को दूर कर कुएं में गिरा व्यक्ति को सांत्वना देकर शांत कराया। स्थानीय जनता के सहयोग से रस्सी के माध्यम से उस व्यक्ति को कुएं से बाहर निकाल लिया।
10 मार्च 2018 को अंबेडकर नगर जिला में पीआरवी 2551 को अकबरपुर थाना क्षेत्र में रात 00:15 बजे इवेंट 0060 पर धौराहरा हाईवे नवीन सब्जी मंडी स्थल के पास दुर्घटना की सूचना मिली। पीआरवी ने मात्र 6 मिनट में मौके पर पहुंचकर देखा कि Maruti Suzuki कार डिवाइडर से टकराकर क्षतिग्रस्त हो गई। जिसमें सवार आशीष श्रीवास्तव को सिर में गंभीर चोट आई थी। पीआरवी भी कर्मियों ने तत्काल घायल को कार से बाहर निकालकर पीआरवी वाहन द्वारा अस्पताल में भर्ती कराया और उसकी जान बचाई।
10 मार्च 2018 को रायबरेली जिला में पीआरवी 1743 भदोखर थाना क्षेत्र में सुबह 09:23 बजे इवेंट 0478 पर कॉलर संतोष यादव ने ग्राम पुरे सूरज से सूचना दी कि मेरे पिता को अज्ञात लोगों ने गोली मार दी है, वह घायल है। इस सूचना पर पीआरवी तत्काल मौके पर पहुंची और घायल को तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया।
10 मार्च 2018 को बाराबंकी जिला में PRV 1718 व 1723 ने त्वरित कार्यवाही कर जेवर छीनकर भाग रहे आरोपी को दबोचा।
10 मार्च 2018 को आजमगढ़ जिला में PRV 1052 ने शराब के नशे में स्कूल वाहन चला रहे ड्राइवर को पकड़, बच्चो को सकुशल वैन से उतारा। स्कूल प्रबंधक को हिदायत देकर नशे में धुत चालक को थाने पहुंचाया।
11 मार्च 2018 को लखीमपुर (बिजुआ) डायल 100 पुलिस ने भटक कर रोड किनारे आयी दो साल की बच्ची को माँ से मिलवाया। पीआरवी गाड़ी 2869 के दरोगा रामबाबू ,कांस्टेबल ओमकार, चालक जयकुमार ने गोला बस पर बच्ची को माँ लक्ष्मी देवी रामलखन बिजुआ के सपुर्द किया। बच्ची को पाकर माँ ने डायल 100 को शुक्रिया कहा।
11 मार्च 2018 को लखनऊ में पीआरवी 0483 को हुसैनगंज इलाके में सुबह 08:40 बजे इवेंट 1844 पर कॉलर प्रेमनाथ ने चारबाग बस स्टैंड से सूचना दी कि एक आदमी जहर खुरानी का शिकार हुआ है। आदमी पड़ा हुआ है। किसी ने जहर खिला दिया है। इस सूचना पर पीआरबी तत्काल मौके पर पहुंची 4 मिनट में पहुंची। वहां बेहोश अवस्था में पड़े हुए लोगों को अपने वाहन में ले जाकर बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराकर स्थानीय थाने को सूचना दी।
11 मार्च 2018 को लखनऊ में पीआरवी 0506 को आशियाना थाना क्षेत्र में सुबह 09:08 बजे इवेंट 2083 पर कॉलर प्रतीक ने सूचना दी कि कुछ बदमाशों ने पर्स छीनने की कोशिश की है और अभद्रता की और सामान छीन कर आशियाना चौराहे से पराग की तरफ काले रंग की बाइक से भाग गए। इस सूचना को पाकर पीआरवी कॉलर से बात करते हुए कॉलर द्वारा बताई गई दिशा में बदमाशों का पीछा करने लगी और घेराबंदी करके उनको मय मोटरसाइकिल सहित पकड़कर आशियाना थाने के सुपुर्द कर दिया।
11 मार्च 2018 को लखीमपुर खीरी जिला में कॉलर की मदद से पीआरवी 2850 ने विलोबी हाल के स्टेडियम के पास असलहा सप्लाई करने के आरोप में एक व्यक्ति को हिरासत में लिया, आवश्यक कार्यवाही हेतु कोतवाली पहुंचाया।
11 मार्च 2018 को लखनऊ में पीआरवी 0505 ने सरदार पटेल इंस्टिट्यूट पैरामेडिकल साइंस के सामने, PGI रोड पर एक्सीडेंट में गंभीर रूप से घायल पति पत्नी दोनो को पीआरवी वाहन द्वारा तत्काल लोक बंधु हॉस्पिटल पहुंचाया।
12 मार्च 2018 को कुशीनगर जिला में कॉलर की सक्रियता तथा पीआरवी 2530 की तत्परता से महुआ कॅाटा पेट्रोल पम्प के पास अचेतावस्था में पड़े व्यक्ति, जिसके मुंह से झॅाग निकल रहा था। पीआरवी ने उसे उठा कर एम्बुलेंस से अस्पताल पहुंचाया।

बेहद हाईटेक है डायल-100, हर दम 8 हजार स्थानों पर उपलब्ध

“राज्‍य व्‍यापी पुलिस आपातकालीन प्र‍बंधन प्रणाली” यानि ‘यूपी 100 UP’ ने पूरे उत्तर प्रदेश में एक अलग छाप छोड़ी है। यह आपातकालीन पुलिस सेवा “शहर हो या देहात, ‘यूपी 100 UP’ आप के साथ” स्लोगन के साथ कार्य कर रही है। डॉयल 100 केवल फोन से नहीं बल्कि ई-मेल और ट्विटर के जरिये सोशल मीडिया के माध्यम से भी तुरंत सहायता प्रदान करती है। डॉयल 100 हजारों लोगों की जान बचा चुकी है। ये आपातकालीन सेवा घटना की सूचना मिलते ही 10 से 15 मिनट के भीतर घटना स्थल पर पहुंचकर तत्काल कार्रवाई करती है। डायल 100 हर समय पूरे प्रदेश में करीब 8 हजार पॉइन्स पर मौजूद रहती है और इससे कहीं ज्यादा घटनाओं को रोजाना कवर करती है।

यूपी 100 की ये हैं उपलब्धियां

उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में एक लाख से ज्यादा ग्रामीणों और शहरी लोगों को अपनी सेवा प्रदान कर प्रदेश के 22 करोड़ लोगों का विश्वास डॉयल 100 पर बना हुआ है। डॉयल 100 के पास 3200 गाड़ियां बेहद हाईटेक गाड़ियां उपलब्ध हैं, जो अपनी तत्काल सेवा में तैयार रहती हैं। आकस्मिक सेवाओं 101 और 108 के साथ यूपी-100 का एकीकृत है, ताकि समय रहते लोगों को सहायता दी जा सके। यूपी 100 ने एक साल के भीतर 47 लाख से अधिक सूचनाओं का निवारण किया है। इनमें 13 लाख विवादों में आवश्यक कार्रवाई, 3 लाख से अधित सड़क दुर्घटनाओं में मौके पर सहायता प्रदान कर सैकड़ों लोगों की जान बचायी गयी। जबकि अब तक 855 लोगों की आत्महत्या के प्रयास से भी इस सेवा ने बचायी। इस सेवा ने महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों की सेवा कर सुर्खियां भी बटोरी हैं। इनमें कुछ घटनाएं ऐसी हैं जिनमें परिवार से बिछड़े हुए कई लोगों को उनके परिवार से मिलाकर उनके चेहरे पर खुशियां पुलिसकर्मियों ने लौटायी। इतना ही नहीं इस सेवा ने परेशानी और मुसीबत में फंसे हुए बेजुबान असहाय पशुओं की सहायता कर उनकी जान बचाकर बचाने का भी नेक काम किया है।

सिस्टम कर रहा बहुत ही बेहतर काम

गौरतलब है कि सपा सरकार में मुख्यमंत्री रहे अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्टों में शुमार यूपी 100 UP लगातार उपलब्धियां हासिल कर रहा है। घटना की सूचना सूचना मिलते ही यूपी 100 के कर्मचारी फ़ौरन मौके पर पहुंच जाते हैं। सपा सरकार ने यूपी में पहले से चल रही डॉयल 100 सेवा का नाम बदलकर यूपी 100 UP कर दिया था। सीएम अखिलेश यादव ने अपने कार्यकाल में लोकभवन स्थित ऑडिटोरियम में इस सेवा के लोगो और यूपी 100 इमरजेंसी सर्विसेज ऐप को लॉन्च किया था। इस दौरान उन्होंने लोगों के संदेश और ऐप की खूबियों के बारे में बताया गया। अखिलेश ने कहा था कि इस सिस्टम को ऐसे तैयार किया गया है कि अधिकारी चाहे कैसा भी हो सिस्टम बेहतर चलेगा। अच्छे या खराब अधिकारी की तैनाती से इसे कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

आइकन अवार्ड 2017 से सम्मानित हो चुका यूपी 100

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के सेवानिवृत्त पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने “यूपी 100 UP” के शहीदपथ स्थित मुख्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में UP100 को प्राप्‍त ISO: 9001 सार्टिफिकेशन का अनावरण किया था। इस दौरान उनके साथ तत्कालीन एडीजी यूपी 100 अनिल अग्रवाल सहित पुलिस विभाग के भारी संख्या में अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे थे। डीजीपी ने कार्यक्रम के दौरान यूपी 100 की हस्‍तपुस्तिका का भी विमोचन किया था। साथ ही डीजीपी ने डॉयल 100 के काम करने के तरीकों के बारे में भी नए निर्देश जारी किये थे। इस दौरान पूर्व डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा था कि प्रदेश में लगातार अपराधों में इजाफा होने की सूचना आ रही है। इसके लिए उन्होंने यूपी 100 को प्रथम अहमियत देते हुए इस पर और सक्रियता से काम करने के लिए यूपी 100 पर तैनात पुलिसकर्मियों को हिदायत दी थी।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश की यूपी डायल 100 पर 18 हजार पुलिस हर रोज तैनात रहती है। उन्होंने कहा कि यूपी 100 परियोजना के प्रशासनिक नियंत्रण, प्रभावी संचालन एवं पर्यवेक्षण के विभिन्न स्तरों के संबध में स्पष्टता व यूपी 100 एवं अलग-अलग जनपदों के पुलिस अधिकारियों के माध्य सामंजस्य स्थापित कर यूपी 100 के सुचारू रूप संचालन के लिए ही यूपी 100 की हस्तपुस्तिका निकाली गई है। इस पुस्तिका में यूपी 100 के बारे में विधवत जानकारी दी गई है। यूपी सेवा की देश भर में प्रशंसा होने के साथ ही अब विदेशों में भी तारीफ हो रही है। अमेरिका ने यूपी पुलिस आकस्मिक सेवा यूपी डायल-100 को आइकन अवार्ड 2017 से सम्मानित किया था। यह अवार्ड लॉस वेगास में हेक्सागॉन सेफ्टी एवं इफ्रास्ट्रक्चर के वार्षिक सम्मेलन में दिया गया था।

ये भी पढ़ें- ‘यूपी 100 UP’ का एक साल बेमिसाल: 47,25,034 घटनाओं में की मदद

ये भी पढ़ें- ‘यूपी 100 UP’ ने बचाई किन्‍नर की जान

Related posts

कासगंज: खेत में उतरा CM योगी का हेलीकॉप्टर, अधिकारियों में मचा हड़कम्प

Shivani Awasthi

सीएम योगी के मंच पर सांसद ने चलाये व्यंग्य बाण

Kamal Tiwari

Live: स्मार्ट सिटी में 60 हजार करोड़ की योजनायें पूरी की-PM मोदी

Shivani Awasthi

Leave a Comment