झांसी: दर-दर भटक रहा परिवार, नही सुन रही योगी सरकार

family members are wandering

उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकार तो बनी लेकिन जनता को किसी भी तरह की राहत नही मिली है। दबंगो द्वारा किए जा रहे अत्याचार और बढ़ गए। जिले की मऊरानीपुर तहसील के धवाकर गाँव का एक परिवार पिछले कई महीनों से न्याय पाने के लिए दर दर भटक रहा है कभी सीओ मऊरानीपुर के पास तो कभी एसएसपी झाँसी के पास। अंत मे थक हार कर परिवार ने मुख्यमंत्री के जनता दरबार और महिला आयोग की शरण ली है।

ये है पूरा मामला :

पूरा मामला 12 जून 2018 की सुबह 9 बजे का है, जब प्रार्थिया सीमा घर पर छोटे-छोटे बच्चों के साथ अकेली थी। तभी गाँव के दबंग जबरजस्ती इसके घर मे घुस आये और उसके पति प्रदीप कुमार के बारे में पूछने लगे। जब उसने कहा कि मुझे मालूम नही तो जाती सूचक शब्द बोलते हुए धक्का देकर जमीन पर गिरा दिया और भद्दी भद्दी हरकते करने लगे। शोर मचाने पर छोटे छोटे बच्चे भी रोने लगे उन्हें भी हाथ पकड़कर अलग फेक दिया। पड़ोसियों ओर पति के आने पर दबंगो ने उन्हें भी पीटा और धमकाते हुय भाग गया।

सीओ पर कार्यवाही न करने के आरोप

ये मऊरानीपुर कोतवाली का पहला मामला नही नही इससे पहले भी दो मामले पिटाई के हो चुके है जिनमें हरकुवर पत्नी कमलेश और इमरत पत्नी सुरेश सोनकर के प्रकरण है जिन्हें न्याय नही मिला।

इस मामले में उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्या कंचन जायसवाल ने बताया कि मेरे संज्ञान में ऐसे ही 3 मामले मऊरानीपुर क्षेत्र के आए है जिनको लेकर हम आज एसएसपी झाँसी विनोद कुमार सिंह से मिलकर जल्द से जल्द उचित कार्यवाही के लिए कहेंगे।

Reporter : Madan Yadav

Related posts

नाम लिए बगैर शिवपाल के सेक्युलर मोर्चे पर रामगोपाल यादव ने कसा तंज

Shashank

सपा पार्षद प्रत्याशी अपूर्वा वर्मा ने लगाया ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप

Sudhir Kumar

कानपुर- होटलों में चेकिंग के दौरान खराब मिले सुरक्षा उपकरण

kumar Rahul

Leave a Comment